UPDATED 05.28PM IST

  • ad
  • ad
  • ad
  • ad
Deepak Dogra
  • ad
  • ad

Breaking News 24X7 :

Top Stories

  • लाजवाब स्पंजी केक

    00.00.0000 | मैदा 1 कप, 6 बड़े चम्मच मक्खन (पिघला हुआ), कैस्टर शुगर आधा कप, क्रीम 2 बड़े चम्मच, वनिला एसेंस आधा चम्मच, बैकिंग पावडर 1 चम्मच, दूध 3 बड़े चम्मच, खांड 3 बड़े चम्मच, जायफल (पिसा हुआ) 1 चुटकी, नमक 1 चुटकी, दाल शक्कर (पिसी हुई) 1 चुटकी, अदरक (पिसा हुआ) आधा चम्मच, आइसिंग शुगर 2 चम्मच। डेकोरेशन के लिए काले अंगूर और स्ट्रॉबेरी। विधि :ओवन को 180 सेंटीग्रेड पर गरम कर लें। मक्खन में कैस्टर अथवा शुगर मिलाकर खूब फेंटें और क्रीमी कर लें। क्रीम में एसेंस मिलाकर फेंटें तथा एक और रख दें। मैदा, बैकिंग पावडर, नमक, जायफल व दाल शक्कर को छानकर उसमें मक्खन व क्रीम का मिश्रण मिला दें, फिर दूध से मुलायम गूंथ लें। अब मैदे के मिश्रण से एक-तिहाई भाग निकालकर उसमें खांड डाल दें। फिर केक टिन में सेट करके तीस मिनट बेक कर लें। बेक्ड केक को बीस मिनट ठंडा होने रख दें, फिर शेष गूंथे मैदे को चाकू से केक के आसपास लगा दें और ओवन में पुनः रखकर बीस मिनट बेक कर लें। आइसिंग शुगर में थोड़ा गरम पानी मिलाकर पेस्ट बनाएं और केक के ऊपर लगाएं। साथ ही ऊपर से काले अंगूर और स्ट्रॉबेरी से सजाएं और पेश करें। 

  • टेस्‍टी सेजवान चिली पोटैटो

    08.05.2015 | सेजवान चिली पोटैटो रेसिपी एक बहुत ही जानी मानी चाइनीज रेसिपी है। आप भी इसे अपने घर पर बना सकती हैं। अगर आपको आलू खाना पसंद है तो आपको ये सेजवान चिली पोटैटो रसिपी भी काफी पसंद आएगी। यह बिल्‍कुल चाइनीज डिश की तरह बनाई जाती है। आइये जानते हैं कि सेजवान चिली पोटैटो रेसिपी कैसे बनाते हैं।कितने- 2 लोगों के लिये तैयारी में समय- 15 मिनट पकाने में समय- 20 मिनटसामग्री-आलू- 2 दोकार्नफ्लोर- 1 चम्‍मचमिर्च पावडर- 1 चम्‍मचनमक- स्‍वादअनुसारतेल- 1 चम्‍मचमंचूरियन के लिये तेल- 3 चम्‍मच सिरका- 1/8 चम्‍मच लहसुन- 1 चम्‍मच, बारीक कटी हरी मिर्च- 1/2 बड़ी प्‍याज- 2 चम्‍मच शिमला मिर्च- 1/2 कप क्‍यूब में कटी सोया सॉस- 1/4 चम्‍मच टमैटो सॉस- 1 चम्‍मच सेजवान सॉस- 1 चम्‍मच कार्नफ्लोर- चम्‍मच, 2 चम्‍मच पानी के साथ मिक्‍स किया हुआ नमक- स्‍वादअनुसार हरी पत्‍तेदार प्‍याज- 3 चम्‍मचविधि- आलू को अच्‍छी तरह से धो कर छील लें। इन्‍हें स्‍लाइस में काट लें। फिर से इसे धो कर अलग रख लें। एक बाउल में कार्नफ्लोर, मिर्च पावडर और नमक मिलाएं। ऊपर से थोड़ा पानी मिला कर पेस्‍ट तैयार कर लें। इस पेस्‍ट में कटे हुए आलू को अच्‍छी तहर से लपेटें। अब एक पैन में तेल गरम करें और उसमें आलू को फ्राई कर लें। अब फ्राई किये आलू को टिशू पेपर पर निकालें और किनारे रख दें। अब उसी पैन में तेल गरम करें, फिर उसमें कटा लहसुन, हरी पत्‍तेदार प्‍याज डाल कर 2 मिनट तक फ्राई करें।फिर उसमें कटी प्‍याज, शिमला मिर्च, हरी मिर्च डाल कर 2 मिनट और फ्राई करें। इसके बाद पैन में सोया सॉस, ग्रीन चिली सॉस और सेजवान सॉस डाल कर 1 मिनट तक पकाएं। उसके बाद इसमें हल्‍का पानी और कार्नफ्लोर मिला हुआ पानी डालें। और सॉस को थोड़ा गाढा हो जाने दें। अब इसमें थोड़ा सा नमक डालें। फिर फ्राई किये हुए आलू डाल कर चलाएं। आखिर में इसे कटी हुई हरी पत्‍तेदार प्‍याज से गार्निश करें और आंच बंद कर दें। अब आप इसे गरमा गरम सर्व कर सकती हैं।

  • गर्मियों में मजे लें केसर पिस्ता कुल्फी का

    09.05.2015 | गर्मियां मिटाने के लिए कोल्ड ड्रिंक पीना और आइसक्रीम खाना सबसे बेहतर तरीका माना जाता है। और सेहत को नजरअंदाज कर लोग इसे खाने से परहेज भी नहीं करते। और आइसक्रीम तो लगभग सभी को पसंद होती है। तो इन गर्मियों घर में मजे लें केसर पिस्ता कुल्फी का...सामग्री- 2 लीटर दूध, 4-5 टेबलस्पून चीनी, 4-5 छोटी इलायची पिसी हुई, 1/2 स्पून केसर के धागे(2 बड़े चम्मच गर्म दूध में भीगी हुई, 1/3 कप पिस्ता लंबा और बारीक कटा।विधिः एक भारी तली वाली कड़ाही में दूध डालकर मध्यम आंच पर उबालें। एक उबाल आने के बाद आंच धीमी करके बीच-बीच में चलाते हुए पकाएं। दूध एक तिहाई बचने तक पकाएं।अब इसमें चीनी और पिस्ता के टुकड़े डालकर अच्छी तरह चलाएं। आंच से उतार कर ठंडा होने दें। अब इसमें भीगी हुई केसर और पिसी इलायची मिलाएं।दूध मिश्रण को कुल्फी सांचे में डालकर फ्रीजर में जमने के लिए रखें।जब खाना हो उससे 10 मिनट पहले सांचों को हल्के गर्म पानी में रखें और सावधानी से कुल्फी सर्विंग प्लेट पर निकालें। बीच से आधा काट कर पिस्ता और केसर से सजाकर सर्व करें।

  • हमारी विविधता ही हमारी पहचान है: चावला

    10.05.2015 | -शेफ अमर चावला से हर्षित की विशेष बातचीतभारतीय व्यजंन की महकती खुशबू और उसके स्वाद से भला कौन परिचित नहीं है। देश की सीमाओं से परे परदेश की सरहदों तक भारतीय व्यजंनों के कदरदान हर कौने में मिल जाएंगे। आज हम आपकों एक ऐसे ही शेफ अमर चावला से आपकी मुलाकात कराने जा रहे हैं। हरियाणा में जन्में अमर चावला ने भारतीय व्यजंनों को विश्व पटल पर एक अलग पहचान दिलाई । अपनी अथक प्रयासों और निरंतर लगन कर बल पर वह व्यंजन की दुनिया में अपनी एक अलग छवि बनाने में कामयाब हुए। 33 साल के अमर चाावला ने मायाटुडे को दिये विशेष साक्षात्कार में अपने जीवन से जुडे अलग अलग पहलुओं पर विस्तार से चर्चा की। इस दौरान उन्होंने अपने जीवन के कठिन दौर से जुडें कडवे अनुभवों को खुलासा भी माया टुडे संवाददाता हर्षित के साथ किया। पेश हैं विस्तृत बातचीत के कुछ अंशसवाल: एक शेफ होने के नाते बताइये कि भारतीय व्यंजन बाकी दुनिया के व्यंजनों से अलग कैसे हैं?उत्तर: भारतीय व्यंजनों का एक समृद्ध इतिहास है। ये इतिहास कई विविधता लिये हुए है। इसमें एकता के अलावा क्षेत्रीय विविधता भी है। भारतीय व्यंजनों की सबसे बड़ी खासियत प्रयोगवादिता है। चाहे आप किसी भी व्यंजनों को देख लीजिए उसमें नये नये प्रयोग करने के ढेरो अवसर है। और हर एक प्रयोग एक नये स्वाद को जन्म देता है।  सवाल: लेकिन विविधिता कैसे देखता हैं?  जवाब: देखिए वैसे तो भारतीय व्यंजनों का हर निवाला अपनी एक अलग पहचान लिये हुए है। फिर भी अलग पहचान की बात करें तो भारतीय व्यंजनों की सबसे बड़ी खासियत मौसमी व्यंजन हैं। देखिए भारत में हर सीजन में अलग अलग सब्जियां होती हैं। सर्दी में कुछ खास तरह  की सब्जियां होती है। गर्मी में खाने के लिए आपको कुछ अलग तरह के व्यंजन मिलेंगे। सवाल: अगर आप कुछ क्षेत्रीय व्यंजनों के नाम बता सकें तो?जबाव: जी हां क्यों नहीं देखिए मेरा स्पेशलाइजेशन दक्षिण भारतीय व्यंजनों में है। जहां पंजाबी व्यंजना मसालेदार होते हैं वहीं  दक्षिण भारतीय व्यजनों में मसाले की मात्रा बेहद कम होती है। इसी तरह राजस्थानी खाने में मसालों का जमकर प्रयोग किया जाता है। मुगलई व्यजंनों का अपना एक अलग इतिहास है। उन्हें विशेषकर मुगलकाल में विकसित किया गया था। अलग व्यंजनों का इतिहास देखें तो हर रेसिपी के पीछे एक दिलचस्प इतिहास छुपा हुआ है। पंजाबी और कश्मीरी व्यंजनों में सांस्कृतिक और ऐतिहासिक संबंध। पंजाबी खाना कश्मीरी व्यंजन की तुलना में अधिक मांसाहारी व्यंजन है ।सवाल: आप दक्षिण भारतीय व्यंजनों में दक्षता रखते हैं? उसके बारे में कुछ बताइये?जवाब: मेरा पंसदीदा खाना गोवा के व्यंजन हैं। यहां का भोजन मुझे बेहद पंसद है। यह बनाने में बेहद आसान है। गोवा के व्यंजन सबसे आसान पकवानों में से एक है।  इसमें तवा पोम्परेट मेरा पसंदीदी व्यंजन है। सवाल: आपको किसके हाथ का बना खाना सबसे ज्यादा पंसद है?जबाव: मां के हाथ की दाल मखनी। आज भी मां के हाथ की दाल मखनी का नाम सुनते ही मेरे मुंह में पानी आ जाता है। जब मैं लगभग 14 साल का था, जब मेरी मां ने मुझे "दाल मखनी" बनाना सिखाया था। यह अभी भी है मेरे पसंदीदा भारतीय व्यंजन में से एक। मां जब प्यार से बनाकर उसे खिलाती थी। वह यादें मेरे जहन में आज भी ज्यों की त्यों हैं।सवाल: दाल मखनी क्या है? जवाब: यह पंजाबी व्यंजनों में से एक लोकप्रिय व्यंजन है। सवाल:  ये कौन सी चीज है जो भोजन को स्वदिष्ट बनाती है?जवाब: भारतीय व्यंजनों को स्वादिष्ट बनाने के लिए थोड़ा समय और उसमें डलने वाले मसालों की सही जानकारी। यदि आप भारतीय व्यंजनों में पारंगत होना चाहते हैं, तो इसके बार में थोड़ा सा अध्ययन जरूर कर लें। और हां भोजन को स्वादिष्ट बनाने के लिए उसका अभ्यास बेहद जरूरी है। सवाल: भोजन पर आपका अपना दर्शन क्या है?अमर: खाने के लिए किसी दर्शन शास्त्र की आवश्यकता नहीं है। दुनिया में भोजन ही है जिसके लिए दर्शन शास्त्र की आवश्यकता नहीं है। सवाल: आप उन लोगों को क्या कहना चाहेंगें जो भारतीय व्यंजनों के बारे में जानना चाहते हैं?जवाब: भारतीय व्यंजनों के बारे में रूचि रखने वालों को मैं केवल एक ही बात कहना चाहंूगा कि आप भारत जाएं और कुछ समय वहां बितायें तभी आपको भोजन की व्यवहारिक जानकारी मिल सकेगी।  

All News


    Warning: include(Pagination.php): failed to open stream: No such file or directory in /home/mayahind/public_html/news.php on line 268

    Warning: include(): Failed opening 'Pagination.php' for inclusion (include_path='.:/usr/lib/php:/usr/local/lib/php') in /home/mayahind/public_html/news.php on line 268

    Fatal error: Call to undefined function pagination() in /home/mayahind/public_html/news.php on line 294