UPDATED 05.28PM IST

  • ad
  • ad
  • ad
  • ad
Deepak Dogra
  • ad
  • ad

Breaking News 24X7 :

LASTEST STORIES

  • शेयर बाजारों के शुरुआती कारोबार में तेजी

    देश के प्रमुख शेयर बाजारों में मंगलवार को शुरुआती कारोबार में तेजी का रुख देखा गया। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.26 बजे 26.34 अंकों की तेजी के साथ 29,001.45 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 3.35 अंकों की तेजी केसाथ 8,758.30 पर कारोबार करते देखे गए। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 41.44 अंकों की तेजी के साथ 29,016.55 पर खुला, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 17.95 अंकों की तेजी के साथ 8,772.90 पर खुला।

    Read more »
  • खालिदा को न्यायालय में पेश होने का आदेश

    ढाका| बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया को भ्रष्टाचार के एक मामले में 13 अप्रैल को एक निचली अदालत में पेश होने का आदेश सोमवार को जारी किया गया है। 'बीडीन्यूज24 डॉट कॉम' के मुताबिक, ढाका की एक अदालत ने सोमवार को बोरोपुकुरिया कोयला खदान रिश्वत मामले में आरोपी बांग्लादेश नेशनल पार्टी (बीएनपी) की प्रमुख खालिदा और 15 अन्य को अदालत में पेश होने का आदेश दिया है।खालिदा और 15 अन्य पर देश को लगभग 1.59 करोड़ रुपये का नुकसान पहुंचाने का आरोप है। खालिदा ने अपने शासनकाल में चाइना नेशनल मशीनरी इंपोर्ट एंड एक्सपोर्ट कॉर्पोरेशन (सीएमसी) को बोकोपुकुरिया कोयला खदान के संचालन, प्रबंधन और मरम्मत के लिए एक समझौता किया था। इस सौदे से देश को लगभग 1.59 अरब टका यानी लगभग दो करोड़ डॉलर का नुकसान हुआ था।खालिदा द्वारा इस मामले को रद्द करने के लिए याचिका दायर करने के बाद ढाका उच्च न्यायालय ने 16 अक्टूबर, 2008 को इस मामले की कार्यवाही पर तीन महीने के लिए रोक लगा दी थी।अदालत ने यह मामला रद्द किए जाने की वजह जानने के लिए एक आदेश भी जारी किया था।हालांकि बाद में अपीली विभाग ने इस स्थगन आदेश को बरकरार रखा।इस मामले में खालिदा को 15 जनवरी, 2012 को स्थाई जमानत मिल गई थी।

    Read more »
  • विश्व कप: श्रीलंका को हराकर दक्षिण अफ्रीका सेमीफाइनल में

    दक्षिण अफ्रीका ने सिडनी क्रिकेट मैदान पर बुधवार को खेले गए पहले क्वार्टर फाइनल मैच में श्रीलंका को 9 विकेट से हराकर आईसीसी विश्व कप-2015 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। खुद पर लम्बे समय से चस्पा 'चोकर्स' का लेबल हटाते हुए द. अफ्रीकी टीम चौथी बार सेमीफाइनल में पहुंची है। मैन ऑफ द मैच रहे इमरान ताहिर (26-4) और हैट्रिक लेने वाले ज्यां पॉल ड्यूमिनी (29-3) की शानदार गेंदबाजी की मदद से टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंकाई टीम को 133 रनों पर आउट करने के बाद द. अफ्रीका ने क्विंटन दे कॉक के नाबाद 78 रनों की बदौलत 18 ओवरों में एक विकेट खोकर जीत हासिल कर ली। द. अफ्रीका को 192 गेंदें शेष रहेत जीत मिली, जो एक रिकार्ड है। इससे पहले यह टीम 1992, 1999 और 2007 में सेमीफाइनल में पहुंच चुकी है। वर्ष 2000 में विश्व कप में नॉकआउट दौर का चलन शुरू होने के बाद से द. अफ्रीका की पहली नॉकआउट जीत है। 2011 में उसे क्वार्टर फाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों हार मिली थी।यही नहीं, द. अफ्रीका ने गेंद शेष रहने के लिहाज से विश्व कप इतिहास के नॉकआउट मुकाबलों में अब तक की सबसे बड़ी जीत हासिल की है। दूसरी ओर, 1996 की विजेता श्रीलंकाई टीम पांचवीं बार सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए प्रयासरत थी। बीती छह पारियों में नाकाम रहे दे कॉक 57 गेंदों का सामना कर 12 चौके लगाए जबकि फॉफ दू प्लेसिस 21 रनों पर नाबाद लौटे। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए नाबाद 94 रन जोड़े। द. अफ्रीका का पहला विकेट 40 के कुल योग पर हाशिम अमला (16) के रूप में गिरा था।इससे पहले, श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 37.2 ओवरों का सामना किया। तीन रन के कुल योग पर अपना पहला विकेट गंवाने के बाद बीते संस्करण की उपविजेता श्रीलंकाई टीम ने लगातार अंतराल पर विकेट गंवाए।ड्यूमिनी ने एंजेलो मैथ्यूज (19), नुवान कुलासेकरा (1) और थिरांडू कौशल (0) के रूप में लगातार तीन गेंदों पर तीन विकेट लिए और इस विश्व कप की दूसरी और कुल नौवीं हैट्रिक पूरी की। वह विश्व कप में हैट्रिक लेने वाले पहले द. अफ्रीकी हैं।श्रीलंका के लिए कुमार संगकारा ने सबसे अधिक 45 रन बनाए जबकि लाहिरू थिरिमान्ने ने 41 रनों का योगदान दिया। थिरिमान्ने और संगकारा के बीच तीसरे विकेट के लिए 65 रनों की साझेदारी हुई जो आज इस टीम की सबसे बड़ी साझेदारी रही।मैथ्यूज और संगकारा ने पांचवें विकेट के लिए 33 रन जोड़े। दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों की कुशलता और अनुशासन के आगे कुशल परेरा (3), तिलकरत्ने दिलशान (0), माहेला जयवर्धने (4), थिसिरा परेरा (0) कुछ खास नहीं कर सके।इस विश्व कप में लगातार चार शतक लगाकर कीर्तिमान स्थापित करने वाले संगकारा की 96 गेंदों की पारी में तीन चौके शामिल हैं जबकि थिरिमान्ने ने 48 गेंदों पर पांच चौके लगाए।अपनी फिरकी में श्रीलंका को फंसाने वाले ड्यूमिनी औरा इमरान ताहिर के अलावा दक्षिण अफ्रीका की ओर से डेल स्टेन, मोर्ने मोर्कल और केल एबॉट ने एक-एक विकेट लिया।

    Read more »
  • इजरायल में नेतन्याहू फिर बनेंगे प्रधानमंत्री, लिकुद पार्टी ने जीता आम चुनाव

    यरूशलम: इजरायल के चुनावों में लिकुद पार्टी के आश्चर्यजनक जीत की ओर बढ़ने के साथ प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू रिकॉर्ड चौथी बार इस पद की कमान संभालते प्रतीत हो रहे हैं । इन चुनावों में प्रचार पूरी तरह से इस बात पर निर्भर रहा कि फलस्तीन को लेकर रूख में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा।लगभग सभी मतों की गिनती हो जाने के साथ नेतन्याहू की पार्टी 120 सदस्यीय संसद-नेसेट में 29 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनने की ओर है । उनकी पार्टी को इजाक हेरजोंग के नेतृत्व वाली मुख्य विपक्षी पार्टी जिओनिस्ट यूनियन से पांच सीटें अधिक मिली हैं । लिकुद पार्टी की जीत इसके प्रचार अभियान का परिणाम लगती है जिसमें इसने यहूदी देश के लिए कड़ी सुरक्षा की वकालत की थी और ईरान के परमाणु कार्यक्रम तथा फलस्तीनियों के साथ शांति प्रक्रिया में इजरायल के रूख के साथ किसी तरह का समझौता करने से इनकार किया था ।यह आश्चर्यजनक परिणाम है क्योंकि शुक्रवार को प्रकाशित चुनाव पूर्व सर्वेक्षण में जिओनिस्ट पार्टी को चार या पांच सीटों की बढ़त दिखाई गई थी । द ज्वाइंट अरब लिस्ट ने भी उल्लेखनीय प्रदर्शन किया है और यह 14 सीटों के साथ तीसरी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है । इसके बाद येश आतिद, कुलानू, हबायित हायेहुदी, शास, यिसराइल बेतीनू, युनाइटेड तोराह जुडइज्म और मेरेत्ज का प्रदर्शन रहा ।नौ साल से सत्ता में काबिज 65 वर्षीय नेतन्याहू ने अपनी सत्तारूढ़ पार्टी की जीत का दावा किया और सरकार गठन के लिए संभावित गठबंधन सहयोगियों को तत्काल बातचीत के लिए आमंत्रित किया जो एक धार्मिक-राष्ट्रवादी सरकार हो सकती है । नेतन्याहू ने अपनी पार्टी की जीत स्पष्ट होने के बाद कहा, ‘इजरायल के नागरिक हमसे उम्मीद करते हैं कि देश की सुरक्षा, अर्थव्यवस्था और समाज के भले के लिए हम तुरंत मिलकर एक नेतृत्व दें, जैसा कि हमने वायदा किया था, और जो मैं करूंगा ।’ प्रधानमंत्री ने कहा कि वह पहले ही उनके गठबंधन के संभावित सहयोगी दलों के नेताओं से बात कर चुके हैं जिनमें बायित येहुदी के प्रमुख नफताली बेनेट, कुलानू के मोशे कहलों, यिस्राइल बेयतेनू के प्रमुख अविगदोर लिबरमैन, शास नेता आरयेह डेरी और युनाइटेड तोराह जुडाइज्म के प्रतिनिधि याकोव लिट्जमैन और मोशे गाफनी भी शामिल हैं ।चुनाव पूर्व सर्वेक्षणों में आगे चलने वाली जिओनिस्ट यूनियन के नेता हेरजोंग ने हार स्वीकार कर ली, लेकिन उन मुद्दों पर लड़ने का संकल्प लिया जिन पर पार्टी ने चुनाव लड़ा था ।हेरजोंग ने कहा, ‘यह हमारे लिए और उन लोगों के लिए आसान सुबह नहीं है जो हमारे मार्ग में विश्वास करते हैं । हम नेसेट में अपने सहयोगियों के साथ अपने मूल्यों के लिए लड़ेंगे ।’ नेतन्याहू यदि चौथी बार प्रधानमंत्री बनते हैं तो वह इस्राइल में सबसे लंबे समय तक पद पर रहने वाले नेता बन सकते हैं । उनकी जीत से फलस्तीनियों के साथ इस्राइल के संबंध और तनावपूर्ण होने की आशंका है।

    Read more »
  • बांग्लादेश को 109 रन से हराकर सेमीफाइनल में पहुंचा भारत

    मेलबर्न। क्रिकेट विश्व कप के दूसरे क्वार्टर फाइनल में भारत ने बांग्लादेश को 109 रन से हराकर सेमीफाइनल में जगह पक्की कर ली है। इस मुकाबले में भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने रोहित शर्मा (137) के शतक व रैना के 65 रनों की बदौलत 302 रन बनाए। रोहित शर्मा ने 108 गेंदों पर विश्व कप में अपना पहला शतक पूरा किया और वो 126 गेंदों पर 137 रनों की पारी खेलकर आउट हुए, जबकि रैना (65) अर्धशतक जड़कर आउट हुए। जवाब में बांग्लादेश की टीम 45 ओवर में ही 193 रन बनाकर सिमट गई। भारत की तरफ से उमेश यादव से सर्वाधिक 4 विकेट लिए। अब सेमीफाइनल में भारत का मुकाबला तीसरे क्वॉर्टर फाइनल की विजेता से होगा। तीसरा क्वॉर्टर फाइनल शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के बीच खेला जाएगा।भारत ने मैच में टॉस जीतकर बेहद धीमी शुरुआत की और 75 रन के कुल स्कोर पर शिखर धवन (30 रन) स्टंप आउट हो गए । इसके बाद कुछ ही देर मैच आगे बढ़ सका और 79 रन के कुल स्कोर पर विराट कोहली (3) भी रुबेल हुसैन की गेंद पर विकेटकीपर को कैच थमाकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद अजिंक्य रहाणे (19) भी तास्कीन अहमद की गेंद पर एक्स्ट्रा कवर के ऊपर से शॉट खेलने के चक्कर में वहां खड़े शाकिब को कैच थमा बैठे जिसके साथ ही भारतीय टीम को तीसरा झटका भी लग गया।पिछले मुकाबले में सुरेश रैना ने जहां महेंद्र सिंह धौनी के साथ शतकीय साझेदारी को अंजाम देकर टीम इंडिया को लक्ष्य तक पहुंचाया था। वहीं, इस बार टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी की और सुरेश रैना ने इस बार रोहित शर्मा के साथ शतकीय साझेदारी को अंजाम देकर लड़खड़ाती भारतीय पारी को संभाला। दोनों बल्लेबाजों के बीच चौथे विकेट के लिए 122 रनों की साझेदारी हुई। सुरेश रैना 65 रन बनाकर मुर्तजा की गेंद पर कीपर मुश्फिकर रहीम के हाथों कैच आउट हो गए। जबकि रोहित शर्मा ने अपने विश्व कप करियर का पहला शतक जड़ते हुए आउट होने से पहले 137 रनों की पारी खेली। रोहित को तास्कीन ने 48वें ओवर की अंतिम गेंद पर एक शानदार यॉर्कर पर बोल्ड किया। इसके बाद छठे व पारी के अंतिम विकेट के रूप में धौनी (6) सस्ते में कैच आउट होकर पवेलियन लौट गए। इसके साथ ही भारतीय टीम अंत में जडेजा (10 गेंदों पर नाबाद 23 रन) के दम पर 300 का आंकड़ा पार करने में सफल रही। बांग्लादेश की तरफ से तास्कीन अहमद ने सर्वाधिक 3 विकेट लिए जबकि मुर्तजा, रुबेल और शाकिब ने 1-1 विकेट हासिल किया। मुर्तजा और तास्कीन सबसे महंगे साबित हुए। दोनों ने 10-10 ओवर किए 69 रन लुटाए।जवाब में उतरी बांग्लादेश टीम को पहला झटका तमीम इकबाल (25) के रूप में लगा जिनको उमेश यादव ने विकेट के पीछे धौनी के हाथों कैच कराया। ये विकेट 33 के कुल स्कोर पर गिरा और इसकी अगली ही गेंद पर इमरुल कायेस (5) भी रन आउट होकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद महमुदुल्लाह (21) बाउंड्री पर शिखर धवन के एक शानदार कैच का शिकार हुए। जबकि सौम्य सरकार (29) विकेट के पीछे धौनी के एक शानदार कैच का शिकार हुए। ये दोनों विकेट मोहम्मद शमी ने हासिल किए जिसके साथ ही वो टूर्नामेंट में अब तक सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी भी बन गए हैं। इसके बाद रवींद्र जडेजा ने बांग्लादेश के अनुभवी ऑलराउंडर शाकिब-अल-हसन (10) को मोहम्मद शमी के हाथों कैच कराते हुए बांग्लादेश को पांचवां झटका दिया। बांग्लादेश को छठा झटका मुश्फिकर रहीम (27) रूप में लगा। रहीम को उमेश यादव ने विकेट के पीछे धौनी के हाथों कैच कराया। इसके बाद नासिर हुसैन (35), मशरफे मुर्तजा (1), रुबेल हुसैन (0) और सबीर रहमान (30) के रूप में अंतिम चार विकेट गिरे जिसके साथ ही बांग्लादेश की टीम 45 ओवर में ही 193 रन बनाकर सिमट गई। भारत की तरफ से उमेश यादव ने 9 ओवर में 31 रन देकर चार विकेट झटके जबकि मोहम्मद शमी और रवींद्र जडेजा ने 2-2 विकेट हासिल किए। इसके अलावा एक विकेट मोहित शर्मा ने भी हासिल किया। 

    Read more »
  • बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 28400 के नीचे

    नई दिल्ली। हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन बाजार में गिरावट देखने को मिल रही है। सेंसेक्स और निफ्टी में 0.25 फीसदी से ज्यादा की गिरावट नजर आ रही है। सेंसेक्स 100 अंकों तक लुढ़का है, तो निफ्टी 8600 के नीचे आ गया है।मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों की जोरदार पिटाई हो रही है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.75 फीसदी गिरा है, जबकि स्मॉलकैप इंडेक्स में 1 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई है। वहीं पावर, रियल्टी, कंज्यूमर ड्युरेबल्स और एफएमसीजी शेयरों में बिकवाली से बाजार दबाव में नजर आ रहे हैं। बीएसई का पावर इंडेक्स 2 फीसदी लुढ़क गया है। हालांकि आईटी शेयरों में थोड़ी खरीदारी का रुझान है।फिलहाल बीएसई का 30 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 78 अंक यानि 0.3 फीसदी की गिरावट के साथ 28391 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। वहीं एनएसई का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 35 अंक यानि 0.4 फीसदी की कमजोरी के साथ 8600 के आसपास कारोबार कर रहा है।बाजार में कारोबार के इस दौरान एनटीपीसी, गेल, बीपीसीएल, एशियन पेंट्स, बीएचईएल, आईसीआईसीआई बैंक और महिंद्रा एंड महिंद्रा जैसे दिग्गज शेयरों में 6.7-1.3 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। हालांकि विप्रो, इंडसइंड बैंक, इंफोसिस, केर्न इंडिया, एचडीएफसी, सन फार्मा और डॉ रेड्डीज जैसे दिग्गज शेयरों में 2.2-0.4 फीसदी की मजबूती आई है।मिडकैप शेयरों में एचएमटी, पीएमसी फिनकॉर्प, गेटवे डिस्ट्रीपार्क्स, एचडीआईएल और केएसके एनर्जी सबसे ज्यादा 13.5-4.8 फीसदी तक लुढ़के हैं। स्मॉलकैप शेयरों में केजीएन एंटरप्राइजेज, सुप्रीम इंफ्रा, डायमंड पावर, धामपुर शुगर और टीटागढ़ वैगंस सबसे ज्यादा 19.7-5.3 फीसदी तक गिरे हैं।

    Read more »
  • यूपी में रायबरेली के नजदीक ट्रेन हादसा : 22 की मौत, 150 घायल

    रायबरेली : बछरावां रेलवे स्टेशन के निकट आज सुबह देहरादून-वाराणसी जनता एक्सप्रेस का इंजन और दो कोच पटरी से उतर जाने से कम से कम 22 यात्रियों की मौत हो गयी और लगभग 150 अन्य घायल हो गये।मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। दुर्घटना सुबह लगभग साढ़े नौ बजे बछरावां रेलवे स्टेशन के निकट हुई। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनउ से यह जगह लगभग 50 किलोमीटर दूर है। रेलवे प्रवक्ता अनिल सक्सेना ने दिल्ली में बताया कि शुरूआती खबरों के मुताबिक ट्रेन को बछरावां स्टेशन पर रूकना था लेकिन वह सिग्नल से आगे निकल गयी, जिससे इंजन और उससे सटे दो कोच पटरी से उतर गये।रेलवे ने जांच के आदेश दे दिये हैं और मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रूपये, गंभीर रूप से घायलों को पचास-पचास हजार रूपये और मामूली घायलों को बीस-बीस हजार रूपये मुआवजा देने का ऐलान किया है। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष एके मित्तल और सदस्य (यातायात) अजय शुक्ला को घटनास्थल पर पहुंचने का निर्देश दिया है।दुर्घटना की खबर फैलते ही आसपास के गांव वाले राहत और बचाव कार्यों में जुट गये। हादसे की वजह से लखनउ-वाराणसी खंड पर ट्रेनों का परिचालन बाधित हो गया । घायल यात्रियों को रायबरेली के जिला अस्पताल ले जाया जा रहा है। लखनउ और रायबरेली से राहत टीमें घटनास्थल के लिए रवाना हो चुकी हैं। बोगियों को अलग करने के लिए क्रेन लगाई गई हैं। अधिकारियों को मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है।गंभीर रूप से घायलों को लखनउ स्थित किंग जॉर्ज मेडिकल विश्वविद्यालय और संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान भेजा जा रहा है। केजीएमयू का ट्रामा सेंटर घायल यात्रियों के इलाज के लिए तैयार कर लिया गया है। डॉक्टरों की टीम को लेकर लखनउ से एंबुलेंस रवाना की गयी हैं।इस बीच, लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी एसएनएस यादव ने बताया कि डॉक्टरों और पैरा मेडिकल स्टाफ की 24 टीमें बछरावां के लिए रवाना हो गयी हैं। उन्होंने कहा, ‘लखनऊ में 150 से अधिक बेड तैयार हैं ताकि घायलों के इलाज में कोई बाधा नहीं आने पाये। दुर्घटना में घायल हुए लोगों के इलाज के लिए चिकित्सा टीमें तैयार हैं।’ मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि घायलों और एंबुलेंस वाहनों को निर्धारित जगह तक पहुंचाने के लिए हर अस्पताल में एक पैरा मेडिकल स्टाफ की तैनाती की गयी है।

    Read more »
  • इटली ने फिर उठाया मरीनों का मुद्दा

    इटली। इटली ने भारत में मुकदमे का सामना कर रहे अपने दो मरीनों का मुद्दा एक बार फिर संयुक्त राष्ट्र प्रमुख बान की मून के समक्ष उठाया है। इस पर उनके कार्यालय ने कहा है कि संयुक्त राष्ट्र का यह रूख बदला नहीं है कि मुद्दे को द्विपक्षीय तरीके से सुलझाया जाए।इटली के विदेश मंत्री पाओलो जेनतिलोनी ने 18 मार्च को संयुक्त राष्ट्र महासचिव के रोम दौरे के दौरान 2012 में केरल के तट के पास भारतीय मछुआरों की हत्या के आरोपी दो इतालवी मरीनों के मुद्दे को उठाया।     रोम में बान और राष्ट्रपति सेरजिओ मतारेला तथा प्रधानमंत्री माटेओ रेंजी सहित इतालवी नेताओं के बीच हुयी बैठक के बारे में संयुक्त राष्ट्र ने बयान जारी किया, लेकिन इसमें यह नहीं बताया गया कि इटली ने भारत के साथ इतालवी मरीनों के मुद्दे को उठाया या नहीं।     बान के उप प्रवक्ता फरहान हक ने संवाददाता सम्मेलन में पुष्टि की थी कि जेनतिलोनी ने बान के समक्ष मुद्दा उठाया लेकिन साथ ही कहा कि संयुक्त राष्ट्र प्रमुख का रूख पहले जैसा है।     वह लंबित मुद्दे को सुलझाने के लिए बान से 'ताजा हस्तक्षेप की जेनतिलोनी की मांग पर टिप्पणी कर रहे थे।

    Read more »
  • उत्तर कोरिया ने दी परमाणु हमले की धमकी

    लंदन। उत्तर कोरिया के राजदूत ह्युआन हक-बोंग ने ब्रिटेन में कहा कि उत्तर कोरिया के पास इतनी क्षमता है की किसी भी समय परमाणु मिसाइल दाग सके।सूत्रों से पता चला की ह्युआना ने कहा, 'हम केवल बोलते नहीं हैं। परमाणु हमलों का अधिकार केवल अमेरिका के पास ही नहीं है।' यह पूछे जाने पर कि उत्तर कोरिया के पास क्या परमाणु मिसाइल दागने की क्षमता है पर उन्होंने कहा, 'हां, किसी भी समय।' राजदूत ह्युआना ने कहा, 'हम तैयार हैं। यही कारण है कि मैं कह रहा हूं कि यदि कोरिया प्रायद्वीप पर कोई भी हमला हुआ, तो परमाणु युद्ध अवश्वयंभावी है।' ह्युआना ने कहा, 'अगर अमेरिका हम पर हमला करता है, तो हमें उसका जवाब देना चाहिए।' ह्युआना ने कहा, 'हम पारंपरिक युद्ध का पारंपरिक युद्ध से जवाब देने के लिए तैयार हैं और अगर परमाणु हमला किया गया, तो हम पलटकर परमाणु हमले के लिए भी तैयार हैं।' यह पूछे जाने पर कि क्या उत्तर कोरिया पहले परमाणु हमला करेगा, राजदूत ने कहा, 'हम शांति पसंद लोग हैं। हम युद्ध नहीं चाहते, लेकिन हमें युद्ध से डर भी नहीं है। यह सरकार की नीति है।'  

    Read more »
  • इंडिया ओपन के फाइनल में हो सकती है सायना-कैरोलीना की भिड़ंत

    भारत की सायना नेहवाल और विश्व चैम्पियन कैरोलीना मारिन ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन के फाइनल की तरह 24 मार्च से शुरू हो रहे इंडिया ओपन सुपर सीरीज के फाइनल में भी आमने सामने हो सकती हैं क्योंकि इन दोनों स्टार खिलाड़ियों को पहली और दूसरी वरीयता दी गई है।     सायना और कैरोलीन इस साल दो टूर्नामेंटों के फाइनल में एक दूसरे से भिड़ चुकी हैं। सायना ने जहां सैयद मोदी ग्रां प्री गोल्ड के फाइनल में जीत दर्ज की थी वहीं आल इंग्लैंड चैम्पियनशिप में कैरोलीना ने बाजी मारी।     सायना और कैरोलीना को क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने में खास परेशानी नहीं होनी चाहिए। सायना को अंतिम आठ के मुकाबले में चीनी ताइपे की पाइ यू पो जबकि कैरोलीना को जापान की छठी वरीय ओकुहारा नोजोमी से भिड़ना पड़ सकता है।      लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता सायना को पहले दौर में क्वालीफायर से खेलना होगा जबकि दूसरे दौर में उनका सामना राष्ट्रीय चैम्पियन जी रूतविका शिवानी से हो सकत है। कैरोलीना अपने अभियान की शुरुआत भारत की रितुपर्णा दास के खिलाफ करेंगी।     फाइनल के सफर के दौरान सायना को सबसे बड़ी बाधा का सामना सेमीफाइनल में चीन की शिन ल्यू के रूप में करना पड़ सकता है। सायना ने चीन की इस खिलाड़ी के खिलाफ अब तक दोनों मुकाबले जीते हैं।पुरुष एकल में भारत की सबसे बड़ी उम्मीद और दूसरे वरीय के श्रीकांत की राह आसान नहीं होगी। उन्हें पहले दौर में थाईलैंड के तेनोंगसाक सेनसोमबूनसुक का सामना करना है जबकि दूसरे दौर में उनकी भिड़ंत जापान के केंटो मोमोता से हो सकती है जिनसे वह ऑल इंग्लैंड के पहले दौर में हार गए थे।     तीसरे वरीय और पांच बार के विश्व चैम्पियन लिन डैन को ऊपरी हाफ में रखा गया है ओर वह अपने अभियान की शुरुआत चीनी ताइपे के जू वेई वैंग के खिलाफ करेंगे। शीर्ष वरीय यान ओ योर्गेनसन को पहले दौर में जापान के सो ससाकी का सामना करना है जबकि राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता पी.कश्यम पहले दौर में चीनी ताइपे के सु जेन हाओ से भिड़ेंगे। इंडोनेशिया ग्रां प्री गोल्ड के विजेता एचएस प्रणय की भिड़ंत पहले दौर में इस्राइल के मिशा जिल्बरमैन से होगी।     पुरुष युगल में मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी की राष्ट्रीय चैम्पियन जोड़ी का सामना पहले दौर में केनिची हयाकावा और हिरोयुकी एंडो की जापान की दूसरी वरीय जोड़ी से होगा। महिला युगल में ज्वाला गट्टा और अश्विनी पोनप्पा की विश्व चैम्पियनशिप की कांस्य पदक विजेता जोड़ी पहले दौर में ओयु डोंगनी और शियाओहान यू की चीन की छठी वरीय जोड़ी से भिड़ेगी।

    Read more »
  • दो उंगलियों से मार्टिन गप्टिल ने बनाया विश्व कप में 237 रनों का विश्व रिकॉर्ड

    वेलिंगटन। विश्वकप कप में सर्वाधिक उच्चतम 237 रनों की नाबाद पारी खेलने वाले मार्टिन गप्टिल का एक ऐसा रहस्य भी जिसे दुनिया नहीं जानती है। मार्टिन गप्टिल ने जब 237 रनों की तूफानी पारी खेली तो किसी ने भी ये नहीं सोचा होगी कि उनकी सिर्फ दो ही उंगलियां हैं।दरअसल गप्टिल का महज 14 साल की उम्र में एक ट्रक एक्सिडेंट के दौरान बायें पैर की तीनों उंगलियां कट गयी थी। गप्टिल के बारे में इस तथ्य का किसी को भी नहीं पता था। लेकिन इस बात का खुलासा उनके साथी खिलाड़ी स्कॉट स्टायरिस ने उस वक्त किया जब गप्टिल ने पहला अंतर्राष्ट्रीय मैच खेला। इस खुलासे के बाद से गप्टिल को 'टू टोज़' के नाम से जाना जाता है।गप्टिल जब अस्पताल में भर्ती थे तो उन्हें देखने के लिए स्टीफेन फ्लेमिंग खुद अस्पताल पहुंचे थे। गप्टिल के पिता ने खुद न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों से इसकी अपील की थी। जिसके बाद कई खिलाड़ी उन्हें देखने पहुंचे थे। गप्टिल ने एकदिवसीय क्रिकेट में रोहति शर्मा के 264 के बाद यह दूसरा सर्वाधिक स्कोर बनाया है। गौर करने वाली बात यह है कि गप्टिल को महज 4 रनों के स्कोर पर जीवनदान मिला था जब मर्लोन सैमुअल्स ने उनका कैच छोड़ दिया था। उसके बाद उन्होंने 163 गेंदों का सामना करते हुए 11 छक्के और 24 चौके लगाते हुए 237 रन बनाये। वहीं वेस्टइंडीज से जीतने के बाद गप्टिल ने कहा कि यह अच्छा अनुभव है कि हम सेमीफाइनल में पहुंच गये हैं। लेकिन लक्ष्य अभी आधा प्राप्त हुआ है।

    Read more »
  • मुफ्ती की पाक को चेतावनी- शांति चाहता है तो रखे आतंकियों पर नियंत्रण

    जम्मू। जम्मू- कश्मीर विधानसभा ने आज कठुआ और सांबा में आतंकी हमले के खिलाफ प्रस्ताव पास करते हुए केंद्र सरकार से इस मुद्दे को पाकिस्तान के सामने उठाने को कहा है। आज विधानसभा में इन आतंकी हमलों को लेकर जमकर हंगामा हुआ। इस मुद्दे को लेकर सत्ता और विपक्ष के बीच तीखी बहस हुई। मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद ने इन आतंकी हमलों की निंदा करते हुए इसे शांति प्रक्रिया को पटरी से उतारने की साजिश करार दिया। इससे पहले पाक को चेतावनी देते हुए मुफ्ती ने कहा कि अगर वह शांति चाहता है तो आतंकवाद को नियंत्राण में रखे। हंगामे के बीच केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कांग्रेस और नेशनल कांफ्रेंस के विधायकों ने सदन से वाकआउट किया। जबकि प्रस्ताव पास कर केंद्र सरकार से मांग की गई कि वह आतंकी हमले का मुद्दा पाकिस्तान से सामने उठाए। रविवार को जम्मू-कश्मीर विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही आतंकी हमले की गूंज ने सदन के माहौल को गर्म कर दिया। भाजपा विधायकों ने पाकिस्तान के खिलाफ नारे लगाए और सांबा व कठुआ में हुए आतंकी हमले के लिए पड़ोसी मुल्क को जमकर कोसा। मुद्दा उठते ही कांग्रेस और नेशनल कांफ्रेंस के विधायकों ने भी सदन में हंगामा शुरू कर दिया। कांग्रेस नेता रिगजान ने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा कि 24 घंटों के भीतर पाकिस्तानी आतंकियों ने दो बार हमला किया, लेकिन जाने इस दौरान प्रधानमंत्री का 56 इंच का सीना कहां था। विधानसभा स्पीकर कविंद्र गुप्ता ने भी आतंकी हमलों की निंदा की, जबकि मुख्यमंत्री सईद ने कहा, 'इस ओर सदन में प्रस्ताव पास किया जाना चाहिए और यह स्पष्ट होना चाहिए कि वह कौन लोग हैं जो आम लोगों पर हमला कर रहे हैं। सीएम ने कहा कि अगर पाकिस्तान दोनों मुल्कों के बीच बेहतर संबंध चाहता है तो उसे सबसे पहले उसे इस तरह की आतंकी वारदातों पर लगाम लगाना होगा। मुफ्ती सईद ने स्पीकर से इस मुद्दे पर विशेष चर्चा की भी मांग की. बाद में सदन में इस बाबत प्रस्ताव भी पास किया गया.

    Read more »
  • सिंगापुर के प्रथम प्रधानमंत्री ली कुआन येव का निधन

    सिंगापुर के संस्थापक जनक एवं प्रथम प्रधानमंत्री ली कुआन येव का गंभीर निमोनिया के चलते आज निधन हो गया। वह 91 वर्ष के थे। ली गंभीर निमोनिया के चलते पांच फरवरी से सिंगापुर जनरल अस्पताल में भर्ती थे। स्ट्रेटस टाइम्स के अनुसार प्रधानमंत्री कार्यालय ने आज जारी एक बयान में कहा कि ली का स्थानीय समयानुसार तड़के तीन बजकर 18 मिनट पर निधन हो गया। अंतिम संस्कार की प्रक्रियाओं की घोषणा बाद में की जाएगी।प्रधानमंत्री कार्यालय 17 मार्च से ली के स्वास्थ्य के बारे में नियमित जानकारी दे रहा था, जब संक्रमण के चलते उनकी स्थिति गंभीर होने लगी थी। ली को सिंगापुर का संस्थापक जनक कहा जाता है और उन्हें देश को महज तीन दशक के भीतर आर्थिक शक्ति के रूप में तब्दील करने का श्रेय जाता है। उन्होंने 31 साल के अपने कार्यकाल के बाद 1990 में प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था।ली के परिवार में दो पुत्र- सिंगापुर के वर्तमान प्रधानमंत्री ली सीन लूंग (63) और ली सीन यांग (57), पुत्री ली वेई लिंग (60), सात पोते-पोतियां और दो भाई-बहन हैं। उनकी पत्नी का 89 साल की उम्र में 2010 में निधन हो गया था।

    Read more »
  • युगल रैंकिंग में सानिया दुनिया में तीसरे नंबर पर

    सेंट पीटर्सबर्ग। भारत की अग्रणी महिला टेनिस स्टार सानिया मिर्जा जारी ताजा महिला टेनिस संघ (डब्ल्यूटीए) रैंकिंग के युगल वर्ग में अपने करियर के सर्वश्रेष्ठ तीसरे पायदान पर पहुंच गईं हैं। सानिया ने अमेरिका के इंडियन वेल्स में अपनी जोड़ीदार मार्टिना हिंगिस के साथ खेलते हुए बीएनपी पारिबास ओपन का महिला युगल वर्ग का खिताब हासिल किया था।सानिया के अब कुल 6,885 अंक हो गए हैं और अब वह केवल शीर्ष पर मौजूद इटली की रोबर्टा विंसी और सारा इरानी से पीछे रह गई हैं। रोबर्टा और सारा के 7,640 अंक हैं।इंडियन वेल्स टूर्नामेंट जीतने के कारण सानिया ने 1,000 अंक हसिल किए और दो स्थान ऊपर पहुंच गईं। तीन बार ग्रैंड स्लैम जीतने वाली सानिया अब मियामी ओपन में हिस्सा लेंगी। यहां भी हिंगिस ही उनकी जोड़ीदार होंगी। महिला एकल खिलाड़ियों में भारत की ओर से विश्व वरीयता में सबसे ऊपर अंकिता रैना का नाम है। ताजा रैंकिंग में वह दो स्थान और ऊपर 253वें पायदान पर पहुंच गईं।पुरुष एकल में भारत के शीर्ष खिलाड़ी सोमदेव देववर्मन 176वें पायदान पर बने हुए हैं। वहीं, रामकुमार रामनाथन 10 स्थान ऊपर 247वें पायदान पर पहुंच गए। युकी भांबरी ने भी 27 स्थानों की छलांग लगाई है और 257वें पायदान पर हैं। पुरुष युगल वर्ग में लिएंडर पेस चार पायदान नीचे 25वें स्थान पर पहुंच गए हैं। उनके ठीक नीचे रोहन बोपन्ना हैं। उन्हें एक स्थान नीचे फिसलना पड़ा।

    Read more »
  • शेयर बाजारों के कारोबार में तेजी

    नई दिल्ली: देश के प्रमुख शेयर बाजारों में सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार को शुरुआती कारोबार में तेजी का रुख देखा गया। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.30 बजे 85.32 अंकों की तेजी के साथ 28,346.40 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 20.20 अंकों की तेजी केसाथ 8,591.10 पर कारोबार करते देखे गए।बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 56.21 अंकों की तेजी के साथ 28,317.29 पर खुला, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 20.65 अंकों की तेजी के साथ 8,591.55 पर खुला।

    Read more »
  • भारत के खिलाफ सेमीफाइनल में स्पिन की भूमिका नहीं होगी: जेम्‍स फाकनर

    सिडनी : आस्ट्रेलिया के आलराउंडर जेम्स फाकनर ने सोमवार को जोर देकर कहा कि 26 मार्च को भारत के खिलाफ होने वाले विश्व कप सेमीफाइनल में स्पिन उतनी बड़ी भूमिका नहीं निभाएगी जैसा कि अनुमान लगाया जा रहा है।दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका के बीच क्वार्टर फाइनल में लेग स्पिनर इमरान ताहिर और आफ स्पिनर जेपी डुमिनी ने मिलकर सात विकेट चटकाए थे लेकिन फाकनर का माना है कि आस्ट्रेलिया को स्पिन विकल्पों की कमी से परेशानी नहीं होगी।फाकनर ने आज यहां मीडिया से बात करते हुए कहा कि मुझे लगता है कि वे (रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा) विश्व स्तरीय स्पिनर हैं और वह लंबे समय से अपना काम बखूबी कर रहे हैं। लेकिन अगर आप दक्षिण अफ्रीका के श्रीलंका के खिलाफ मैच के विकेट को देखो तो इस पर स्पिन अधिक नहीं हो रही थी और इससे निपटना आसान था। उन्होंने कहा कि हम अपनी सर्वश्रेष्ठ एकादश खिलाएंगे। यह विकेट पर निर्भर करेगा। इंडियन प्रीमियर लीग में नियमित तौर पर खेलने वाले फाकनर आस्ट्रेलिया दौरे पर एक भी जीत दर्ज नहीं करने के बाद विश्व कप में लगातार सात जीत के भारत के प्रदर्शन से हैरान नहीं हैं।फाकनर ने कहा कि मैं बिलकुल भी हैरान नहीं हूं कि वे अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। हम जब भी उनके खिलाफ खेलते हैं तो यह क्रिकेट का अच्छा मैच होता है और यह काफी कड़ा होता है। अगर आप भारत में वनडे श्रृंखला (2013) को देखो तो काफी रन बने थे और काफी शानदार तरीके से लक्ष्य का पीछा किया गया।फाकनर ने हालांकि कहा कि उन्हें नहीं पता कि भारतीय टीम में अचानक ऐसा बदलाव कैसे आया। उन्होंने कहा कि मुझे नहीं पता। मैं उनके साथ नहीं था और उनके साथ ट्रेनिंग नहीं कर रहा था इसलिए मुझे नहीं पता कि इसका क्या जवाब है। फाकनर के मुताबिक इस विश्व कप में जो चीज भारत के पक्ष में रही वह आस्ट्रेलिया में काफी समय बिताना है।उन्होंने कहा कि पिछले 12 से 18 महीने में हमने उनका काफी सामना किया और आपने देखा कि उन्होंने देश में काफी समय बिताया है और हालात से सामंजस्य बैठा लिया है। फाकनर ने कहा कि उनकी टीम सेमीफाइनल के दौरान जज्बे को बनाए रखेगी। इस तेज गेंदबाज ने कहा कि मुझे लगता है कि क्वार्टर फाइनल में हम काफी जज्बे के साथ खेले। मैं उम्मीद करता हूं कि सेमीफाइनल में अगर यह ज्यादा नहीं होगा तो भी उतना तो रहेगा। आप कुछ दिनों में दो काफी अच्छी टीमों को एक दूसरे के खिलाफ खेलता देखोगे और यह काफी दर्शनीय मैच होगा। फाकनर को अब तक बल्लेबाजी करने का अधिक मौका नहीं मिला है लेकिन उन्होंने कहा कि अगर जरूरत हुई तो वह बल्ले से जलवा दिखाने को तैयार हैं। कड़ी प्रतिस्पर्धा के बीच सेमीफाइनल में थोड़ी छींटाकशी भी हो सकती है।फाकनर ने कहा कि यह खेल की प्रकृति है, यह सेमीफाइनल है। कड़ी प्रतिस्पर्धा होगी, कुछ शब्द कहे जाएंगे, यह काफी कड़ा मुकाबला होगा और मुझे लगता है कि दोनों ही टीमें पीछे नहीं हटेंगी। फाकनर का साथ ही मानना है कि उनकी टीम किसी भी लक्ष्य को हासिल करने में सक्षम है। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि आप किसी भी लक्ष्य का पीछा कर रहे हो आपके अंदर यह विश्वास होना चाहिए। मुझे लगता है कि एक बल्लेबाज के रूप में सब कुछ शुरूआत पर निर्भर करता है फिर आप चाहे लक्ष्य का पीछा कर रहे हो या पहले बल्लेबाजी करके लक्ष्य दे रहे हो।

    Read more »
  • डिविलियर्स बोले, हमें कोई नहीं रोक सकता

    ऑकलैंड।   वर्षों तक चोकर्स के ठप्पे के साथ खेलने के बाद साउथ अफ्रीका के कप्तान एबी डिविलियर्स ने घोषणा की कि इस बार वर्ल्ड कप उनका ही है। न्यू जीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल की पूर्व संध्या पर डिविलियर्स पूरी तरह से आश्वस्त हैं। इससे पहले दोनों ही टीमें कभी विश्व कप के फाइनल में नहीं पहुंची हैं। डिविलियर्स ने कहा, 'हम आत्मविश्वास से भरे हैं। मुझे लगता है कि टीम काफी अच्छे समय पर काफी अच्छी लय में है। आत्मविश्वास से भरे होने के कई कारण हैं।' उन्होंने कहा, 'अगर हम अपनी पूरी क्षमता से खेलते हैं तो इस टूर्नमेंट में हमें कोई नहीं रोक सकता।' न्यू जीलैंड में गर्मियों की शुरुआत के समय दोनों टीमों के बीच हुई संक्षिप्त सीरिज साउथ अफ्रीका ने 2-0 से जीती थी लेकिन वर्ल्ड कप शुरू होने से पहले अभ्यास मैच में न्यू जीलैंड की टीम बाजी मारने में सफल रही थी। इससे पहले विश्व कप में दोनों टीमें छह बार भिड़ी हैं जिसमें से न्यू जीलैंड ने चार मैच जीते जबकि दो मैच हारे। दोनों टीमों के बीच विश्व कप में हुए पिछले तीन मुकाबले न्यू जीलैंड ने जीते हैं। डिविलियर्स की हालांकि इतिहास में कोई दिलचस्पी नहीं है और उन्होंने कहा कि उनके लिए मायने यह रखता है कि 2015 की उनकी टीम कैसा प्रदर्शन करती है। उन्होंने कहा, 'हमारे अतीत और विश्व कप में साउथ अफ्रीका के अच्छा प्रदर्शन नहीं करने को काफी तवज्जो दी जा रही है। हमें पता है कि अगर हम अच्छा क्रिकेट खेलते हैं तो हम जीत जाएंगे। एक क्रिकेट टीम के रुप में हमें अपनी क्षमताओं पर यकीन है।' 

    Read more »
  • सोशल मीडिया पोस्‍ट पर तुरंत नहीं होगी जेल : सुप्रीम कोर्ट

    नई दिल्ली सोशल मीडिया पर किसी पोस्ट की वजह से अब तुरंत गिरफ्तारी नहीं की जा सकेगी। सुप्रीम कोर्ट आईटी ऐक्ट की धारा 66ए की संवैधानिक वैधता पर बड़ा फैसला देते हुए इसे रद्द कर दिया है। हालांकि आईटी ऐक्ट बना रहेगा। जस्टिस जे चेलमेश्वर और जस्टिस आर एफ नरीमन की बेंच ने कहा कि आप कुछ भी नहीं लिख सकते हैं, लेकिन अभिव्यक्ति की आजादी पर हमला नहीं होना चाहिए। सर्वोच्च अदालत में इस मामले में याचिकाकर्ताओं में से एक विनय राय ने इस फैसले का स्वागत किया है। आईटी ऐक्ट की इस 'बदनाम धारा' के शिकार उत्तर प्रदेश में एक कार्टूनिस्ट से लकेर पश्चिम बंगाल में प्रोफेसर तक रह चुके हैं। हाल ही में आजम खान को लेकर फेसबुक पर किए गए एक कॉमेंट की वजह से उत्तर प्रदेश के एक 19 वर्षीय छात्र को भी जेल की हवा खानी पड़ी थी। छात्र के खिलाफ आईटी ऐक्ट की धारा 66ए समेत अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था।सुप्रीम कोर्ट में 66ए के खिलाफ दायर याचिकाओं में कहा गया है कि यह कानून अभिव्यक्ति की आजादी और व्यक्तिगत स्वतंत्रता के मौलिक अधिकारों के खिलाफ है, इसलिए यह असंवैधानिक है। याचिकाओं में यह मांग भी की गई है कि अभिव्यक्ति की आजादी से जुड़े किसी भी मामले में मैजिस्ट्रेट की अनुमति के बिना कोई गिरफ्तारी नहीं होनी चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने 16 मई 2013 को एक दिशा-निर्देश जारी करते हुए कहा था कि सोशल मीडिया पर कोई भी आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले व्यक्ति को बना किसी सीनियर अधिकारी जैसे कि आईजी या डीसीपी की अनुमति के बिना गिरफ्तार नहीं किया जा सकता। दूसरी तरफ सरकार की दलील है कि इस कानून के दुरूपयोग को रोकने की कोशिश होनी चाहिए। इसे पूरी तरह निरस्त कर देना सही नहीं होगा। सरकार के मुताबिक इंटरनेट की दुनिया में तमाम ऐसे तत्व मौजूद हैं जो समाज के लिए खतरा पैदा कर सकते हैं। ऐसे में पुलिस को शरारती तत्वों की गिरफ्तारी का अधिकार होना चाहिए। इस मामले में एक याचिकाकर्ता श्रेया सिंघल हैं। उन्होंने शिवसेना नेता बाल ठाकरे के निधन के बाद मुंबई में बंद के खिलाफ टिप्पणी पोस्ट करने और उसे लाइक करने के मामले में ठाणे जिले के पालघर में दो लड़कियों- शाहीन और रीनू की गिरफ्तारी के बाद कानून की धारा 66ए में संशोधन की भी मांग उठाई थी। 

    Read more »
  • विश्वकप : दक्षिण अफ्रीका को हराकर न्यूजीलैंड फाइनल में

    ऑकलैंड: आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2015 के फाइनल में पहुंचनेवाली पहली टीम न्यूजीलैंड बन गई है। चार विकेट से दक्षिण अफ्रीका को मात देकर न्यूजीलैंड फाइनल में पहुंच गया है। न्यूजीलैंड को जीत के लिए 43 ओवर में 298 रन बनाने थे जो उसने एक गेंद रहते ही बना ली। डकवर्थ लुईस पद्धति के आधार पर न्यूजीलैंड को 43 ओवर में 298 रन का लक्ष्य मिला था।दक्षिण अफ्रीका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट पर 281 रन बनाए लेकिन लक्ष्य को डकवर्थ लुईस के आधार पर दोबारा तय किया गया क्योंकि ईडन पार्क पर बारिश के कारण लगभग दो घंटे खेल रूकने के कारण मैच को 50 ओवर की जगह 43 ओवर का कर दिया गया। मिलर ने अपनी पारी में छह चौके और तीन छक्के मारे। वह विश्व कप में सबसे तेज अर्धशतक के रिकार्ड की बराबरी करने से चूक गए।कप्तान एबी डिविलियर्स ने भी 45 गेंद में 65 रन की नाबाद पारी खेली जबकि फाफ डु प्लेसिस ने 107 गेंद में सर्वाधिक 82 रन बनाए। मिलर ने हालांकि अंतिम ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए टीम को मजबूत स्कोर तक पहुंचाया। दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 38 ओवर के बाद तीन विकेट पर 216 रन था लेकिन मिलर की पारी की मदद से टीम ने अंतिम पांच ओवर में 65 रन जोड़े।इससे पहले दक्षिण अफ्रीका को शुरूआत में परेशानी हुई। तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट ने दोनों सलामी बल्लेबाजों हाशिम अमला (10) और क्विंटन डि काक (14) को जल्दी पवेलियन भेजा जबकि टीम का स्कोर आठवें ओवर में 31 रन तक ही पहुंचा था। अमला और डिकाक दोनों को जीवनदान मिला लेकिन वे इसका फायदा नहीं उठा पाए।बोल्ट इन दो विकेट के साथ किसी एक विश्व कप में न्यूजीलैंड की ओर से सर्वाधिक विकेट हासिल करने वाले गेंदबाज बने। बोल्ट के इस टूर्नामेंट में सर्वाधिक 22 विकेट हो गए हैं। उन्होंेने ज्यौफ एलोट को पीछे छोड़ा जिन्होंने 1999 में 21 विकेट हासिल किए थे। न्यूजीलैंड के कप्तान ब्रैंडन मैकुलम ने आक्रामक रूख अपनाया और एक समय वह पांच स्लिप और एक गली के साथ आक्रमण कर रहे थे। डु प्लेसिस और रिली रोसेसु ने तीसरे विकेट के लिए 83 रन जोड़कर पारी को संभाला। रन बनाना आसान नहीं था लेकिन इन दोनों ने सतर्कता से बल्लेबाजी करते हुए डिविलयर्स और मिलर के लिए शानदार मंच तैयार किया।कोरी एंडरसन ने रोसेयु को मार्टिन गुप्टिल के हाथों कैच कराके इस साझदेारी को तोड़ा। उन्होंने 53 गेंद की अपनी पारी में दो चौके और एक छक्का मारा। डिविलियर्स इसके बाद क्रीज पर उतरे और उन्होंने जल्द ही अपनी टीम को हावी कर दिया। वह 36वें ओवर में भाग्यशाली भी रही जब एंडरसन की गेंद पर केन विलियमसन ने उनका कैच टपका दिया। दायें हाथ के इस बल्लेबाज ने अगली ही गेंद पर छक्का जड़ा और फिर इसी ओवर में दो और चौके जड़कर अपने इरादे जाहिर कर दिए।

    Read more »
  • भारत की तेज गेंदबाजी से निपटने का पूरा भरोसा: एरॉन फिंच

    सिडनी : आस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाज एरॉन फिंच ने मंगलवार को दावा किया कि गुरूवार को भारत के खिलाफ विश्व कप सेमीफाइनल मुकाबले में वे भारतीय टीम के तेज गेंदबाजी के आक्रमण से सफलतापूर्वक निपट सकते हैं और उसे नाकाम करने में भी सफल होंगे।भारतीयी तेज गेंदबाजों मोहम्मद शमी मोहित शर्मा और उमेश यादव की तिकड़ी ने अब तक 70 विकेट में से 42 चटकाए हैं जो मेजबान टीम आस्ट्रेलिया के लिये खतरा नजर आ रहे हैं। फिंच ने कहा कि ये गेंदबाज अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। तीनों गेंदबाजों में शमी ने अब तक सबसे अच्छा प्रदर्शन किया है। इन तीनों ने मिलकर अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन हमें भरोसा है हम इन गेंदबाजों को निष्फल करने में कामयाब होंगे। फिंच ने स्वीकार किया कि भारत के पास रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा के रूप में कुछ अच्छे स्तर के स्पिनर हैं लेकिन हमारे पास भी उनको निष्फल करने का गेमप्लान है।फिंच ने कहा कि अगर हम अपने गेमप्लान पर टिके रहे तो हम कामयाब हो सकते हैं। जीत के लिये लंबा रास्ता तय करना होता है। यह पूछने पर कि क्या अश्विन के लिये कोई विशेष योजना बनाई गयी हैं, फिंच ने कहा कि अभी नहीं। हम ग्रुप में बैठेंगे और भारतीय टीम और उसके गेंदबाजों के बारे में बात करेंगे। वह (अश्विन) लगातार बेहतर प्रदर्शन कर रहा है। हमे देखना होगा।

    Read more »
  • विश्व कप के सबसे सफल कीवी गेंदबाज बने बोल्ट

    ट्रेंट बोल्ट विश्व कप में नई ऊंचाई हासिल करते हुए इसके किसी एक संस्करण में सबसे अधिक विकेट हासिल करने वाले कीवी गेंदबाज बन गए हैं।बोल्ट ने ईडन पार्क मैदान पर दक्षिण अफ्रीका के साथ खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले के दौरान क्विंटन डे कॉक का विकेट हासिल करते ही यह मुकाम हासिल किया।बोल्ट ने अब तक इस विश्व कप में 21 विकेट हासिल किए हैं और वह विश्व कप के किसी एक संस्करण में सबसे अधिक 20 विकेट हासिल करने वाले ज्यौफ एलॉट से अगे निकल गए हैं।एलॉट ने 1999 विश्व कप में नौ मैचों में 16.25 के औसत से 20 विकेट लिए थे। एलॉट ने दो मौकों पर चार विकेट चटकाए थे। 37 रन पर चार विकेट उनका श्रेष्ठ प्रदर्शन था।

    Read more »
  • समन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट गए मनमोहन सिंह

    नई दिल्ली।  कोयला घोटाले में आरोपी के तौर पर कोर्ट में समन किए गए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की है। सीबीआई कोर्ट ने उनके समेत छह लोगों को अगली सुनवाई के दौरान 8 अप्रैल को कोर्ट में पेश होने का निर्देश दिया था। मनमोहन सिंह ने अपनी अर्जी में इस समन पर रोक लगाने की अपील की है। सीबीआई के स्पेशल जज भरत पराशर ने इस महीने 11 मार्च को आईपीसी की धाराओं 120 बी (आपराधिक साजिश), 409 (किसी लोकसेवक, बैंकर, व्यापारी या एजेंट द्वारा आपराधिक विश्वासघात) और भ्रष्टाचार रोकथाम कानून (पीसीए) के प्रावधानों के तहत छह आरोपियों को कथित अपराधों के लिए समन किया था। मनमोहन सिंह के अलावा समन किए जाने वालों में उद्योगपति कुमार मंगलम बिड़ला, पूर्व कोयला सचिव पी सी पारेख, बिड़ला की कंपनी हिंडाल्को, इसके अधिकारियों शुभेंदु अमिताभ और डी भट्टाचार्य शामिल हैं। दोषी ठहराए जाने पर आरोपियों को अधिकतम आजीवन कारावास की सजा हो सकती है। यह मामला वर्ष 2005 का है, जब मनमोहन सिंह के पास कोयला मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार था। इसी दौरान बिड़ला की कंपनी हिंडाल्को को ओडिशा के तालाबीरा में दो कोयले के ब्लॉक आवंटित किये गए थे। इससे पहले ये ब्लॉक सार्वजनिक क्षेत्र की निवेल्ली लिग्नाईट कॉर्पोरेशन के पास थे। पिछले साल दिसंबर महीने में ही सीबीआई के स्पेशल कोर्ट ने मनमोहन सिंह के बयान को दर्ज करने का निर्देश जारी किया था। सीबीआई का कहना था कि उन्हें पूर्व प्रधानमंत्री से पूछताछ की इजाजत नहीं मिली थी। 

    Read more »
  • इजरायली पीएम नेतन्याहू के साथ मतभेद होने की बात मानी ओबामा ने

    वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि इजरायल के राष्ट्रपति बेंजामिन नेतन्याहू के साथ उनका कामकाजी किस्म का संबंध है, जबकि इस बात को माना कि लंबित फिलस्तीन मुद्दे को सुलझाने के लिए दो राष्ट्र के समाधान पर उनके बीच मतभेद हैं।अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के साथ एक संयुक्त प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए ओबामा ने कहा, प्रधानमंत्री के साथ मेरा बिल्कुल कामकाजी किस्म का संबंध है। दुनिया के किसी भी नेता से ज्यादा मैंने उनसे मुलाकात की है। मैं उनसे हमेशा बात करता हूं। वह अपने देश की अगुवाई करते हैं, जैसा कि वे सोचते हैं और मैं भी ऐसा करता हूं। ओबामा ने उल्लेख किया कि दो राष्ट्र समाधान इजरायल की सुरक्षा के लिए, फिलस्तीनी आकांक्षा और क्षेत्रीय स्थिरता के लिए सबसे बेहतर मार्ग है। उन्होंने कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान इजरायल-फिलस्तीन संघर्ष के निदान के लिए दो राष्ट्र के समाधान को खारिज करने के नेतन्याहू के बयान पर जरूरत है कि उनका प्रशासन शांति की पैरवी की दिशा में उनके रुख का फिर से आकलन करे। ओबामा ने कहा कि सुरक्षा, सैन्य और खुफिया मोर्चे पर अमेरिका, इजरायल का सहयोग करता रहेगा।

    Read more »
  • अंतरराष्ट्रीय बुकर पुरस्कार के अंतिम 10 में अमिताभ घोष

    लंदन : इस साल के मैन बुकर अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार के लिए अंतिम 10 लेखकों में अमिताभ घोष का नाम शामिल है। इसमें वह एकमात्र भारतीय लेखक हैं। अंग्रेजी भाषा के लेखन में योगदान के लिए उनको इसमें शामिल किया गया है।कोलकाता में पैदा हुए 58 वर्षीय घोष साल 2008 में बुकर पुरस्कार से उस वक्त चूक गए थे जब उन्हें ‘सी ऑफ पापीज’ के लिए शीर्ष दावेदारों की सूची में शामिल किया गया था।लोकप्रिय साहित्य पुरस्कार के अंतरराष्ट्रीय संस्करण का आयोजन 19 मई को लंदन में होगा। यह पुरस्कार हर दो साल पर किसी एक ऐसे लेखक को दिया जाता है जिसका प्रकाशित गल्प मूल रूप से अंग्रेजी भाषा में हो अथवा उसके काम का अंग्रेजी में अनुवाद किया गया हो।बुकर प्राइज फाउंडेशन के प्रमुख जोनाथन टेलर ने कहा, यह अंतिम दावेदारों की बहुत दिलचस्प और शिक्षाप्रद सूची है। पहली बार 10 देशों के लेखकों को इसमें शामिल किया गया। लीबिया, मोजाम्बिक, गुआदली, हंगरी, दक्षिण अफ्रीका और कांगों के लेखकों को इसमें पहली बार स्थान मिला है।

    Read more »
  • जीत के रथ पर सवार धौनी के धुरंधरों के सामने ऑस्ट्रेलियाई अग्निपरीक्षा

    विश्व कप जीतने से दो कदम दूर खड़ी भारतीय क्रिकेट टीम के अश्वमेधी अभियान में गुरुवार को सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया के रूप में अब तक की सबसे कठिन चुनौती होगी और उसे हर विभाग में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा। छह सप्ताह पहले ही दोनों टीमें टेस्ट और त्रिकोणीय वनडे श्रृंखला में एक दूसरे से खेल चुकी है जिसमें माइकल क्लार्क की टीम का पलड़ा भारी रहा था।क्रिकेट के इतिहास में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच एशेज प्रतिद्वंद्विता और भारत-पाकिस्तान मुकाबलों के अलावा पिछले कुछ साल में भारत और ऑस्ट्रेलिया के मैच भी कम प्रतिस्पर्धी नहीं हुए हैं। यह मुकाबला डेविड वार्नर की बल्लेबाजी और मोहम्मद शमी की गेंदबाजी का भी होगा, मिशेल स्टार्क की कहर बरपाती गेंदों और रनों के रूप में शरारे उगलते विराट कोहली के बल्ले का भी होगा, आर अश्विन की कैरम बॉल और ग्लेन मैक्सवेल की आक्रामक बल्लेबाजी का भी होगा।सभी की नजरें कोहली पर होंगी जो पहले मैच में पाकिस्तान के खिलाफ शतक बनाने के बाद से एक अर्धशतक भी नहीं बना सके है। कोहली हालांकि दबाव में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने में माहिर हैं और उनके पास यह सबसे बड़ा मौका है। सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर दोनों टीमें कल एक दूसरे के आमने सामने होंगी तो यह मुकाबला कमोबेश बराबरी का होगा जिसमें पिछले प्रदर्शन मायने नहीं रखेंगे।मौजूदा फार्म के आधार पर देखें तो भारत ने टूर्नामेंट में लगातार सात जीत दर्ज की है, लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दोनों प्रारूपों में वह पिछले सात मैचों (दो टेस्ट, दो वनडे और एक अभ्यास मैच) में जीत दर्ज नहीं कर सका है जिसमें विश्व कप का एक अभ्यास मैच शामिल है।ऑस्ट्रेलिया दौरे के उस शर्मनाक प्रदर्शन का गम भारत ने विश्व कप में शानदार खेल दिखाकर दूर कर दिया। विश्व कप से पहले दिशाहीन लग रही टीम इंडिया का अचानक मानो कायाकल्प हो गया और उसके प्रदर्शन ने विरोधियों को भी चकित कर डाला। आम तौर पर भारत की कमजोर कड़ी मानी जाने वाली गेंदबाजी उसकी ताकत साबित हुई है। मोहम्मद शमी (17 विकेट), उमेश यादव (14) और मोहित शर्मा (11) मिलकर 70 में से 42 विकेट ले चुके हैं। भारतीय गेंदबाजों ने सात मैचों में पूरे 70 विकेट चटकाये हैं।ऑस्ट्रेलिया के लिये सबसे बड़ी चुनौती सिडनी की पिच होगी, जो उसे रास नहीं आती। इस धीमी पिच पर दक्षिण अफ्रीका ने क्वार्टर फाइनल में श्रीलंका को हराया था, जिसमें इमरान ताहिर ने चार और जेपी डुमिनी ने तीन विकेट लिये थे। ऐसे में भारत के अश्विन और रविंद्र जडेजा उन पर भारी पड़ सकते हैं। अश्विन 12 विकेट ले चुके हैं और अपनी गेंदों से ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के लिये परेशानी का सबब बन सकते हैं। दूसरी ओर ऑस्ट्रेलिया को टीम में एक अच्छे स्पिनर की कमी खलेगी। उसके पास धीमे गेंदबाज के रूप में सिर्फ स्टीवन स्मिथ हैं।इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वान समेत अधिकांश विशेषज्ञों की राय है कि टॉस जीतने वाली टीम को पहले बल्लेबाजी चुननी चाहिये। भारतीय बल्लेबाजों ने अभी तक उम्दा प्रदर्शन किया है। शिखर धवन 367 रन बना चुके हैं लेकिन उनके लिये यह पिच आसान नहीं होगी क्योंकि आफ स्टम्प पर पड़ती उछालभरी गेंदों ने उन्हें अक्सर परेशान किया है  स्टार्क और जानसन उनकी इस कमजोरी का पूरा फायदा उठाना चाहेंगे।रोहित शर्मा का बल्ला क्वार्टर फाइनल तक खोमोश था, लेकिन बांग्लादेश के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में उन्होंने 137 रन बनाये। ऑस्ट्रेलिया को याद होगा कि एमसीजी पर त्रिकोणीय श्रृंखला के पहले मैच में रोहित ने उनके खिलाफ 138 रन बनाये थे, जिसके बाद वह हैमस्ट्रिंग चोट का शिकार हो गए थे। ऑस्ट्रेलिया के लिये ग्लेन मैक्सवेल मैच विनर साबित हो सकते हैं जिन्हें आईपीएल की वजह से भारतीय गेंदबाजों के खिलाफ खेलने का खासा अनुभव है। मिशेल स्टार्क गेंदबाजी में और डेविड वार्नर बल्लेबाजी में खतरनाक साबित हो सकते हैं जबकि शेन वाटसन भी फार्म में लौट चुके हैं। टूर्नामेंट के अब सिर्फ दो मैच बाकी है और ऐसे में दोनों कप्तानों के लिये भी बहुत कुछ दांव पर लगा है। माइकल क्लार्क वनडे टीम में उनकी उपयोगिता को लेकर सवाल उठा रहे आलोचकों को खामोश कर सकते हैं या महेंद्र सिंह धौनी लगातार दो विश्व कप जिताकर भारतीय क्रिकेट के इतिहास में अपना नाम अमर कर सकते हैं।टीमें :भारत :महेंद्र सिंह धौनी (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, अजिंक्य रहाणे, विराट कोहली, सुरेश रैना, आर अश्विन, रविंद्र जडेजा, मोहित शर्मा, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, भुवनेश्वर कुमार, अक्षर पटेल, अंबाती रायुडू, स्टुअर्ट बिन्नी।ऑस्ट्रेलिया :माइकल क्लार्क (कप्तान), जार्ज बेली, डेविड वार्नर, आरोन फिंच, शेन वाटसन, स्टीवन स्मिथ, ब्राड हाडिन, ग्लेन मैक्सवेल, मिशेल मार्श, जेम्स फाकनेर, मिशेल जानसन, मिशेल स्टार्क, जोश हेजलवुड, पैट कमिंस, जेवियर डोहर्टी।

    Read more »
  • सेमीफाइनल में भारत को हराने के लिए ऑस्ट्रेलियाई टीम को शेन वार्न ने दिए टिप्स

    सिडनी : फॉर्म में चल रहे ऑफ स्पिनर आर अश्विन का सामना करने के लिए ऑस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क ने भारत के खिलाफ विश्व कप सेमीफाइनल से पहले आज महान स्पिनर शेन वार्न को नेट्स पर बुलाया। वार्न ने ऑस्ट्रेलियाई स्पिनरों को टिप्स दिए। क्लार्क और वार्न अभ्यास सत्र के बाद लंबे समय बातचीत करते रहे।काली स्लीवलेस जैकेट और ग्रे ट्रैक पैंट पहने वार्न जब स्टेडियम के भीतर गए तो उन पर किसी का ध्यान नहीं गया। वह सीधे क्लार्क के पास गए और 20 मिनट तक उनसे बात की। इस बीच उन्होंने फील्डिंग कोच माइक यंग की भी मदद की जो फील्डरों को उंचे कैच लपकने का अभ्यास करा रहे थे। फील्डिंग अभ्यास पूरा होने के बाद वह क्लार्क के साथ नेट पर गए जहां पहले वह अंपायर की पोजिशन पर खड़े रहे जब क्लार्क बल्लेबाजी कर रहे थे।उन्होंने गेंदबाजी कर रहे स्पिनर को कुछ सलाह दी। क्लार्क के जमने के बाद उन्होंने गेंदबाजी की। उन्हें देखकर क्रिकेटप्रेमी वहां जमा हो गए और ‘कम आन वार्नी’ का शोर सुनाई देने लगा। इनमें से अधिकांश भारतीय क्रिकेटप्रेमी और वार्न के प्रशंसक थे।  जेम्स फाकनर को वार्न ने बेहतरीन गेंदें डाली। उनकी खूबसूरत लेग ब्रेक पर फाकनर ने पहली स्लिप में कैच थमा दिया। इसके बाद उन्होंने शेन वाटसन और आरोन फिंच को भी गेंदबाजी की। इसके साथ ही बायें हाथ के स्पिनर जेवियर डोहर्टी से कुछ बातचीत की।वार्न पिछले साल बांग्लादेश में टी20 विश्व कप के दौरान दक्षिण अफ्रीकी नेट्स पर भी गए थे और लेग स्पिनर इमरान ताहिर के साथ काफी समय बिताया था । उस समय भी दक्षिण अफ्रीका का सामना भारत से था । भारत ने उस मैच में दक्षिण अफ्रीका को हराया था ।

    Read more »
  • नेतन्याहू की टिप्पणी फिलिस्तीन राज्य के निर्माण में रोड़ा : ओबामा

    वाशिंगटन| अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के हाल के बयानों को फिलीस्तीन राज्य के निर्माण के मार्ग में रोड़े के रूप में देखते हैं। उनका कहना है कि नेतन्याहू के हालिया बयानों से क्षेत्र में शांति की संभावना क्षीण पड़ गई है। अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के साथ मंगलवार को एक संवाददाता सम्मेलन में ओबमा ने कहा, "फिलिस्तीन राज्य के गठन के लिए अब भी एक सार्थक ढांचे की संभावना नहीं दिख रही है।"गौरतलब है कि नेतन्याहू ने इजरायल में संसदीय चुनाव के लिए 17 मार्च को हुए मतदान के दिन कहा था कि वह अलग फिलिस्तीन राज्य का गठन नहीं होने देंगे। हालांकि इस मुद्दे पर वैश्विक स्तर पर चौतरफा आलोचना भेजने के बाद एक साक्षात्कार में उन्होंने यह भी कहा कि वह द्वि-राष्ट्र समाधान के पक्ष में हैं, लेकिन मौजूदा हालात में फिलहाल यह संभव नहीं है।नेतन्याहू के स्पष्टीकरण के बावजूद ओबामा ने कहा, "मुझे फिलिस्तीन राज्य के गठन के लिए अब भी सार्थक ढांचे का निर्माण होता नहीं दिख रहा है। यह सिर्फ मेरा अनुमान नहीं है, बल्कि प्रधानमंत्री के बयान के आधार पर मुझे ऐसा लगता है कि इस बारे में कल्पना करना मुश्किल है।"ओबामा ने चेताया कि नेतन्याहू के बयान पर फिलिस्तीन की ओर से प्रतिक्रिया हो सकती है, जिस पर इजरायल फिर प्रतिक्रिया दे सकते हैं और इस तरह शांति भंग होगी तथा संबंध खराब होंगे, जो हर किसी के लिए खतरनाक और बुरा साबित होगा।"

    Read more »
  • भारत हारा, फाइनल में ऑस्ट्रलिया का मुकाबला न्यूजीलैंड से

    भारतीय क्रिकेट टीम ने सिडनी में क्रिकेट विश्वकप के दूसरे सेमीफाइनल में ऑस्ट्रिलया के खिलाफ 329 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 233 रन पर ऑलआउट हो गई। ऑस्ट्रेलिया 95 रनों से भारत को हराकर फाइनल में पहुंच गया है। अब उसका मुकाबला न्यूजीलैंड से होगा। पहला विकेट शिखर धवन का गिरा। धवन 45 रन बनाकर जोश हेजलवुड की गेंद पर मैक्सवेल को कैच दे बैठे। विराट कोहली एक रन बनाकर मिशेल जॉनसन की गेंद पर कैच आउट हुए। रोहित शर्मा 34 रन बनाकर मिशेल जॉनसन की गेंद पर बोल्ड हो गए। सुरेश रैना 7 रन बनाकर फॉकनर की गेंद पर आउट हुए। अजिंक्य रहाणे 44 रन बनाकर मिशेल स्टार्क की गेंद पर आउट हुए। रहाणे ने धौनी के साथ मिलकर 70 रनों की साझेदारी की। रहाणे ने 68 गेंदों में दो चौके लगाए। रवींद्र जडेजा 16 रन बनाकर रन आउट हो गए। कप्तान महेंद्र सिंह धौनी 65 रन बनाकर रन आउट हो गए। आर.अश्विन 5 रन बनाकर फॉकनर की गेंद पर बोल्ड हो गए। मोहित शर्मा बिना खाता खोले फॉकनर की गेंद पर बोल्ड हो गए। ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों में जेम्स फॉकनर ने तीन, मिशेल जॉनसन और मिशेल स्टार्क ने दो जबकि जोश हेजलवुड को एक विकेट मिला।  इससे पहले स्टीवन स्मिथ (105 रन) और ऐरन फिंच (81) के बीच दूसरे विकेट के लिये 182 रन की बड़ी साझेदारी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने कसी हुई गेंदबाजी और अच्छे क्षेत्ररक्षण के बावजूद भारत के खिलाफ गुरुवार को विश्वकप सेमीफाइनल में सात विकेट के नुकसान पर 328  रन का मजबूत स्कोर बना लिया।         ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय किया और 50 ओवरों में सात विकेट पर सह 328 रन का मजबूत स्कोर बनाया। टेस्ट कप्तान स्टीवन स्मिथ एक बार फिर अहम साबित हुये और उन्होंने 105 रन की शतकी पारी खेलकर टीम को लड़ने लायक स्थिति में पहुंचाया जबकि ओपनर ऐरन फिंच ने 81 रन की पारी खेली और टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई।        दूसरे विकेट के लिये फिंच और स्मिथ ने 182 रन की बेहतरीन साझेदारी निभाई। विश्वकप नॉकआउट में यह दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी है। इससे पहले वर्ष 1999 में पाकिस्तान के सईद अनवर और वाजुल्लाह वास्ती ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 194 रन की सबसे बड़ी साझेदारी की थी।              भारत ने शुरुआत में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को रन बनाने से कुछ रोका लेकिन आखिरी ओवरों में शेन वॉटसन ने ताबड़तोड़ 28 रन बटोरे। वॉटसन को हालांकि गेंदबाजों ने फिर देर तक नहीं टिकने दिया और 47वें ओवर में मोहित ने अजिंक्या रहाणे के हाथों बाउंड्री के पास कैच कराकर पवेलियन भेज दिया। इसके बाद मिशेल जॉनसन मैदान पर आये और उन्होंने केवल नौ गेंदों में नाबाद 27 रन बना डाले। उन्होंने लगातार तीन चौके लगाये।         भारतीय गेंदबाजों ने शुरुआत में कसी हुई गेंदबाजी से एक समय 34 ओवर तक ऑस्ट्रेलिया को 200 के अंदर रखा लेकिन फिर आखिरी नौ ओवरों में 74 रन पड़ गये जो भारत को काफी महंगा पड़ा। भारत की ओर से उमेश यादव ने नौ ओवरों में 72 रन देकर चार विकेट लिये। विश्वकप नॉकआउट में वह चार विकेट निकालने वाले पहले गेंदबाज है। लेकिन उनकी गेंदबाजी कुछ महंगी रही। मोहित शर्मा ने 10 ओवरों में 75 रन देकर दो विकेट और रविचंद्रन अश्विन ने 10 ओवरों में 42 रन पर एक विकेट लिया।         मैच में सिडनी की पिच की अहम भूमिका मानी जा रही थी और सुबह यह बल्लेबाजी पिच दिखाई दी लेकिन ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को शुरुआत में यहां रन बटोरने में कुछ परेशानी जरूर हुई। लेकिन स्मिथ और फिंच ने टिक्कर रन बटोरे और टीम को बेहतर स्थिति में पहुंचाया। फिंच ने 116 गेंदों में सात चौके और एक छक्का लगाकर 81 रन जबकि स्मथ ने 93 गेंदों में 11 चौके और दो छक्के लगाकर 105 रन की पारी खेली। उन्होंने 89 गेंदों में अपना शतक पूरा किया। यह उनके वनडे करियर का चौथा शतक है।       भारत को जहां पहली कामयाबी केवल 15 के स्कोर पर डेविड वॉर्नर (12) के रूप में मिली वहीं दूसरा विकेट निकालने में उसे काफी इंतजार करना पड़ा और 34वें ओवर में जाकर उमेश ने स्मिथ को रोहित शर्मा के हाथों कैच कराकर पवेलियन भेजा और फिंच के साथ उनकी रिकॉर्ड साझेदारी पर ब्रेक लगाया।       भारत ने मध्य ओवरों में मैच में वापसी की और अच्छे इकोनोमी रेट से रन दिये लेकिन आखिरी 10 ओवरों में मैच का रूख बदल गया और नौंवें नंबर पर खेलने उतरे जॉनसन ने 300 के स्ट्राइक रेट से केवल नौ गेंदों में चार चौके और एक छक्का लगाकर नाबाद 27 रन बनाये। ब्रैड हैडिन और जॉनसन ने मिलकर आठवें विकेट के लिये केवल 20.1 ओवर में 30 रन की बेहद उपयोगी अविजित साझेदारी निभाई।          ऑस्ट्रेलिया की ओर से ग्लेन मैक्सवेल ने 23 रन, शेन वॉटसन ने 28, कप्तान माइकल क्लार्क ने 10 और जेम्स फॉकनर ने 21 रन बनाकर स्कोर 300 के पार पहुंचाने में मदद की।

    Read more »
  • जर्मनविंग्स हादसा : क्रैश विमान को लेकर बड़ा खुलासा, को-पायलट ने जानबूझकर प्लेन क्रैश कराया

    वाशिंगटन: फ्रांस की एल्प्स पहाड़ियों में क्रैश हुए जर्मन विंग्स के विमान के बारे में एक बड़ा ख़ुलासा हुआ है। विमान हादसे की जांच कर रहे फ्रांस के अधिकारियों ने कहा है कि विमान के को पायलट ने विमान को जानबूझ कर क्रैश कराया। को पायलट का नाम आंद्रे लूबिट्ज़ था। अधिकारियों के मुताबिक मुख्य पायलट जब कॉकपिट से बाहर निकला तो को-पायलट ने कॉकपिट अंदर से लॉक कर लिया और विमान का नियंत्रण अपने हाथों में ले लिया। इसी के कुछ देर बाद विमान हादसे का शिकार हो गया। फ्रांस के अधिकारियों ने जो भी ख़ुलासे किए हैं। वो विमान के वॉयस रिकॉर्डर से मिली जानकारी के आधार पर सामने लाए गए हैं। इससे पहले खबर आई थी कि जर्मनविंग्स विमान के दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से पहले इसके दो में से एक पायलट कॉकपिट से बाहर निकल गया था।न्यूयॉर्क टाइम्स में बुधवार को प्रकाशित खबरों के अनुसार, जांच में शामिल एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कॉकपिट में मौजूद वॉइस रिकॉर्डर से मिले सबूत इस तरफ इशारा करते हैं कि पायलट कॉकपिट से बाहर निकलने के बाद दोबारा इसमें प्रवेश नहीं कर पाया था।जांचकर्ता ने बताया, "पायलट दरवाजे पर दस्तक दे रहा था, लेकिन उसे कोई जवाब नहीं मिला और फिर उसने तेजी से खटखटाया फिर कोई जवाब नहीं मिला। उधर से कोई जवाब नहीं आया। आप सुन सकते हैं कि उसने दरवाजे को तोड़ने की कोशिश की।"जांचकर्ता ने कहा, "हमें नहीं पता कि क्यों पायलट बाहर गया था, लेकिन यह बिल्कुल स्पष्ट है कि दुर्घटना से ठीक पहले कॉकपिट में एक ही पायलट था और अकेला होने के कारण उसने दरवाजा नहीं खोला।"एयरबस ए320 विमान मंगलवार को दक्षिणी फ्रांस में उस वक्त दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जब वह स्पेन के बार्सिलोना से जर्मनी के डसेलडॉर्फ जा रहा था। विमान में सवार 144 यात्रियों और चालक दल के छह सदस्यों में से किसी की जान नहीं बच पाई।

    Read more »
  • मेलबर्न में भी इस प्रदर्शन की जरूरत : स्मिथ

    सिडनी| आईसीसी विश्व कप-2015 के सेमीफाइनल मैच में गुरुवार को भारत के खिलाफ आस्ट्रेलिया की जीत में अहम भूमिका निभाने वाले स्टीवन स्मिथ ने रविवार को मेलबर्न क्रिकेट मैदान (एमसीजी) में होने वाले फाइनल में भी टीम को इस मौजूदा प्रदर्शन को जारी रखने का आह्वान किया है। स्मिथ ने सिडनी क्रिकेट मैदान (एससीजी) पर हुए सेमीफाइनल में 105 रनों की पारी खेली और मैन ऑफ द मैच चुने गए।मैच के बाद स्मिथ ने कहा, "हमें पता था कि 330 का स्कोर अच्छा है और हमें बेहतर गेंबदाजी और क्षेत्ररक्षण करने की भी जरूरत है। सभी ने अच्छा प्रदर्शन किया। अब मेलबर्न में भी इसे दोहराने की जरूरत है।"  स्मिथ ने कहा कि वह फाइनल में भी अपना यह प्रदर्शन जारी रखना चाहेंगे और मेलबर्न में खेलने को लेकर अभी से उत्साहित हैं। स्मिथ के अनुसार, "एक और बड़ा शतक मजेदार होगा। विश्व कप का फाइनल न्यूजीलैंड के खिलाफ एमसीजी में खेलना सच में एक यादगार लम्हा होगा। न्यूजीलैंड ने पूरे टूर्नामेंट में काफी अच्छी क्रिकेट खेली है। उम्मीद है कि हम वहां भी प्रशंसकों के लिए कुछ खास कर पाएंगे।"

    Read more »
  • वाजपेयी को भारत रत्न प्रदान किया गया

    नई दिल्ली| देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को शुक्रवार शाम देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न प्रदान किया गया। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने वाजपेयी के घर जाकर एक सादे समारोह में उन्हें भारत रत्न प्रदान किया। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद थे। राष्ट्रपति ने प्रोटोकॉल को दरकिनार करते हुए बीमार चल रहे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दिग्गज नेता को उनके कृष्ण मेनन मार्ग स्थित आवास पर भारत रत्न दिया।इस समारोह में उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह तथा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी उपस्थित थे।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाजपेयी के निवास स्थान पर आकर उन्हें सम्मानित करने के लिए राष्ट्रपति का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा, "वाजपेयी का जीवन राष्ट्र को समर्पित रहा। वह देश के लिए जिए। उनका एक-एक क्षण देश लिए था। मेरे जैसे सभी कार्यकर्ताओं (भाजपा कार्यकर्ता) के लिए वाजपेयी जी प्रेरणास्रोत रहे और आगे भी रहेंगे। उनका जीवन हमें प्रेरित करता रहेगा।"वित्त मंत्री अरुण जेटली ने वाजपेयी के आवास के बाहर मीडियाकर्मियों को इस बात की जानकारी दी कि राष्ट्रपति ने वाजपेयी को भारत रत्न दे दिया है। आवास के अंदर चल रहे समारोह में मीडियाकर्मियों को जाने की अनुमति नहीं थी।  बीते साल दिसंबर में मोदी ने वाजपेयी (90) तथा शिक्षाविद् मदन मोहन मालवीय (मरणोपरांत) को भारत रत्न देने की घोषणा की थी।जेटली ने संवाददाताओं से कहा, "एक संक्षिप्त समारोह में वाजपेयी को भारत रत्न अवार्ड प्रदान किया गया। बीमार होने के कारण वाजपेयी घर पर ही रहते हैं। समारोह उनके आवास पर हुआ। वाजपेयी जी हमारे सर्वोच्च नेता हैं।"उन्होंने कहा कि समारोह में कई केंद्रीय मंत्री, जम्मू एवं कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्र बाबू नायडू, राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सहित कई मुख्यमंत्री, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक मोहन भागवत तथा जनता दल-युनाइटेड के अध्यक्ष शरद यादव मौजूद थे। पूर्व राष्ट्रपति ए.पी.जे.अब्दुल कलाम भी समारोह में मौजूद थे।जेटली ने कहा कि प्रधानमंत्री के रूप में वाजपेयी बेहद प्रभावशाली राष्ट्रीय नेता थे। उन्होंने कई मंत्रालयों का कार्यभार संभाला। एक प्रखर वक्ता, राजनेता तथा कवि के रूप में उन्होंने अपनी छाप छोड़ी। उन्होंने इसे खुशी का अवसर करार दिया।राष्ट्रपति भवन द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक, राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने वाजपेयी को भारत रत्न प्रदान किया। प्रोटोकॉल को दरकिनार करते हुए राष्ट्रपति ने वाजपेयी के आवास पर एक सादे समारोह में उन्हें सम्मानित किया। वाजपेयी पहले गैर कांग्रेसी नेता हैं, जो लगातार पांच साल (1999-2004) प्रधानमंत्री रहे। इसके पहले वह 13 दिन व 13 महीने तक प्रधानमंत्री रहे।

    Read more »
  • पैसा है पर खुशी नहीं: अशोक कपूर

    माया ब्यूरो लंदन, परीक्षित डोगरा, कई बार छोटी सी प्रेरणा जीवन जीन का आधार बन जाती है। कुछ ऐसा ही हुआ तेजेन्द्र सिद्रा के और श्री अशोक कपूर के साथ। उन्हें लंदन सामाजिक क्लब को शुरू करने की प्रेरणा एक आयोजन से मिली।  श्री कपूर एक आयोजन में गये। वहां उन्होंने एक ऐसे व्यक्ति को देखा जो अकेला एक कौन में मायूस बैठा हुआ था। जब तेजेन्द्र सिद्रा की नजर उन पर पड़ी तो असलियत सामने आई। उन्हें एहसास हुआ कि लोगों के पास पैसा तो है पर खुशी नहीं। पैसे की चाह में लोग जीवन की असल पूंजी गवां चुके हैं। उन्होंने लंदन सामाजिक क्लब स्थापित किया। एक ऐसा क्लब जो लोगों को न सिर्फ अकेलेपन में उनके साथ खड़ा है बल्कि जरूरत पडऩे पर हर तरह की मदद भी कर रहा है। ये जानकारी खुद संस्थापक ने लंदन के लंच किंगस वे में आयोजित एक समाहरोह के दौरन दीउन्होंने कहा कि क्लब से जुड़े लोगों को मदद की सख्त जरूरत है। श्री कपूर ने आगे स्पष्ट किया कि श्री कपूर और श्री सिद्रा अपने व्यस्त कार्यक्रम और तनावपूर्ण दिन-प्रतिदिन के जीवन से अलग करने के लिए एक ऐसा समुदाय प्रदान करता है जिसमें रहते हुए लोग बस जीवन में छोटे क्षणों का आनंद लेने के शुरू करने के लिए है।इस मौके पर माया टुडे (हिन्दी एवं इंलिश)के सीईओ दीपक डोगरा मौजूद रहे जिन्होंने अपनी पारखी नजर से पूरे कार्यक्रम को न सिर्फ देखा बल्कि सामाजिक क्षेत्र में अपने साकारात्मक भूमिका निभाते हुए उसे लोगों तक पहुंचाने में भी मदद की। श्री डोगरा की कोशिश है कि ये प्रेरणा ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचे ताकि वह किसी न किसी रूप में इस कार्यक्रम से जुड सकें। इस पूरे कार्यक्रम की शोभा में उस समय चार चांद लग गये जब अपना पंजाब होवे पर एब्रो अटवाल जमकर थिरके। इस गाने की धुनों ने सभी को नाचने पर मजबूर कर दिया। इस कार्यक्रम में सीमा मल्होत्रा (संसद सदस्य), (स्वामी आदर्श) राजिंदर जोशी, डॉ जी एस चंडोक, जगदीश गुप्ता, श्री  एब्रो अटवाल, अमित गुप्ता ने कार्यक्रम को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की। इसके अलावा श्री सुरेन्द्र कुमार, श्री बृज मोहन गुप्ता, श्री जसकरण सिंह (परदेस साप्ताहिक), श्री निर्मल रयत (रयत बहरा समूह), अनीता कपूर, श्रीमती कोमल (चांदनी लेबर पार्टी से पार्षदों, हरलीन अटवाल (हेस्टन केन्द्रीय) और दानिश सईद (क्रेनफोर्ड), (हाल ही में जारी) ऑनर किलिंग के निर्माता और निर्देशक के साथ अवतार भोगल ने कार्यक्रम में हिस्सा लिया। लगातार क्लब की सदस्यता में इजाफा हो रहा है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को खुश करने और रहने का मौका दिया जा सके।  

    Read more »
  • ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को 7 विकेट से हराया

    मेलबर्न. ऑस्ट्रेलिया ने पहली बार फाइनल में पहुंची न्यूजीलैंड को 7 विकेट से हराकर 5वीं बार वर्ल्ड कप का खिताब जीतकर कप्तान माइकल क्लार्क विजयी विदाई दे दी। 91 हजार दर्शकों से खचाखच भरे स्टेडिम में ऑस्ट्रेलिया ने बॉलिंग, बैटिंग और फील्डिंग तीनों क्षेत्रों में न्यूजीलैंड को पीछे छोड़ते देश को जश्न मनाने की सौगात दी। ऑस्ट्रेलिया ने जेम्स फल्कनर, जॉनसन (3-3 विकेट) की घातक बॉलिंग की बदौलत न्यूजीलैंड को 183 रनों पर समेटा, फिर डेविड वॉर्नर (47), माइकल क्लार्क (74) और स्टीवन स्मिथ (52) की बेजोड़ बैटिंग से 186 रन बनाकर मुकाबला आसानी से जीत लिया। पांच में से चार बार जीता खिताबऑस्ट्रेलिया ने पिछली पांच में से चार वर्ल्ड कप खिताब पर कब्जा जमाया है। कंगारू टीम इंग्लैंड को 7 विकेट से हराकर 1987 में पहली बार वर्ल्ड चैम्पियन बनी थी। उसके बाद पाकिस्तान को 8 विकेट से हराकर 1999, इंडिया को 125 रनों से हराया 2003 और श्रीलंका को 53 रनों से हराया 2007 में खिताब जीता था। 2011 में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के तिलिस्म को तोड़ते हुए ट्रॉफी अपनी झोली में डाली। अब फिर कंगारू टीम ने जोरदार वापसी करते हुए वर्ल्ड कप-2015 का खिताब जीता। न्यूजीलैंड 183 पर ऑल आउट, जॉनसन-फल्कनर को 3-3 विकेट इससे पहले जेम्स फल्कनर और मिचेल जॉनसन (3-3 विकेट) की घातक बॉलिंग के सामने कीवी बैट्समैन ने घुटने टेक दिए और 45 ओवर्स में सिर्फ 183 रनों पर पवेलियन लौट गए। घरेलू मैदान पर ऑस्ट्रेलिया के लिए मिचेल स्टार्क ने दो और ग्लेन मैक्सवेल ने एक विकेट चटकाए। 32 साल बाद वर्ल्ड कप फाइनल में एक बार पहले बैटिंग करने वाली टीम ने 183 रनों का टारगेट दिया है। 1983 में भारतीय टीम ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ 183 रनों का स्कोर बनाया था। न्यूजीलैंड के लिए ग्रांट इलियट ने सर्वाधिक 83 रनों की पारी खेली। रोस टेलर ने 40 रन बनाए। कप्तान मैक्कुलम-गुप्टिल फेल, लौटे सस्ते में इससे पहले मेलबर्न क्रिकेट मैदान (एमसीजी) पर टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने उतरी कीवी टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। न्यूजीलैंड को पहला झटका कप्तान ब्रेंडन मैक्कुलम के रूप में लगा। उन्हें खतरनाक फॉर्म में चल रहे मिचेल स्टार्क ने बोल्ड किया। इसके बाद मार्टिन गुप्टिल को ग्लेन मैक्सवेल ने 15 रनों के निजी स्कोर पर बोल्ड किया। इसके अगले ही ओवर में केन विलियम्सन, मिचेल जॉनसन की एक बाहर निकलती बॉल को बैक टू द बॉलर खेल बैठे और कैच आउट हुए।

    Read more »
  • ओबामा ने सऊदी अरब का साथ देने के लिए फोन पर विश्वास दिलाया

    वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने यमन में सऊदी अरब और सहयोगी खाड़ी देशों के सैन्य कार्रवाई को साथ देने के लिए विश्वास दिलाया है। व्हाईट हाऊस से आज पेश किए गए बयान के अनुसार बताया गयाहै कि ओबामा ने सऊदी अरब के सुल्तान किंग सलमान से मोबाइल पर बात की और उन्हें साथ देने का विश्वास दिलाया है। मध्य-पूर्व के कुछ देशों ने इस कार्रवाई का साथ दिया है, लेकिन ईरान और कुछ अन्य देशों ने इसका विरोध करते हुए यमन के राजनीतिक संकट के समाधान के लिए वार्ता का रास्ता अपनाने की बात बोली है। विद्रोहियों के बढ़ते दबाव के बीच यमन के राष्ट्रपति अब्द-रब्बु मनसौर हैदी ने दक्षिणी शहर अदन स्थित अपने घर को विदा कर दिए थे। भारतीयों के लिए हेल्पलाइन भारत युद्धग्रस्त देश से अपने नागरिकों को फौरन निकलने की चेतावनी पहले ही पेश कर चुका जिससे भारतीयों के लिए सरलता हासिल हो सके। भारतीयों के लिए दो हेल्पलाइन नंबर भी पेश किए गए है।

    Read more »
  • मंगल पर भूमिगत जल के नए सबूत मिले

    लंदन, अनुसंधानकर्ताओं को मंगल ग्रह पर भूमिगत जल की उपस्थिति के नए सबूत मिले हैं। जियोलॉजिकल सोसायटी ऑफ अमेरिका की पत्रिका में प्रकाशित एक ताजा अध्ययन के अनुसार, मंगल ग्रह के अत्यधिक क्रेटर युक्त उत्तरी हिस्से में स्थित 'अरबिया टेरा' में मंगल की भूमध्यरेखीय उभारयुक्त संरचना की जांच की गई। अनुसंधानकर्ता इसके निर्माण प्रक्रिया और वहां निवास करने की संभाव्यता को समझने की कोशिश कर रहे थे। मंगल ग्रह के इस पठारी हिस्से में स्थित यह भूमध्यरेखीय उभारयुक्त संरचना अनेक दुर्लभ टीलों, समतल कई स्तरों वाली एवं एकदूसरे पर तिरछे स्तरों पर फैले रेतीले भूभाग से युक्त है। अनुसंधानकताओं ने लिखा है कि भूमध्यरेखीय उभारयुक्त संरचना के निर्माण में भूमिगत जल के स्तर में उतार-चढ़ाव की अहम भूमिका प्रतीत हो रही है। पठार पर पाए गए टीलों को अनुसंधानकर्ता छोटे-छोटे फव्वारों से बनी संरचना मान रहे हैं, जबकि समतल स्तरीय संरचना को किसी मरुस्थल का घाटी जैसा और रेतीली भूमि को वायु अपरदन के कारण निर्मित भूसंरचना के रूप में देख रहे हैं। इटली के अंतर्राष्ट्रीय भूमण्डलीय विज्ञान अनुसंधान विद्यालय की अनुसंधानकर्ता मोनिका प्रांडेली के अनुसार, मंगल की धरती पर इस तरह की संरचना वहां जलचक्र की उपस्थिति की संभावना की ओर इशारा करती है, जिसमें हिमांक बिंदु से भी कम तापमान वाली सतह की ओर भूमिगत जल ऊपर की ओर बलपूर्वक निकलता है। प्रांडेली और उनके साथी अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि पृथ्वी की पर्यावरणीय परिस्थितियों में इस तरह स्थिति सूक्ष्मजीवियों के पनपने में अहम हो सकती है।

    Read more »
  • विश्व कप: आस्ट्रेलिया पांचवीं बार चैम्पियन

    मेलबर्न, आस्ट्रेलिया क्रिक्रकेट टीम ने रविवार को 93,000 से अधिक दर्शकों से खचाखच भरे मेलबर्न क्रिकेट मैदान (एमसीजी) स्टेडियम में हुए आईसीसी विश्व कप-2015 के फाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड को सात विकेट से मात देकर रिकॉर्ड पांचवीं बार विश्व कप अपने नाम कर लिया। आस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड से मिले 184 रनों के आसान लक्ष्य को 101 गेंद शेष रहते तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया।आस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लार्क (74) ने अंतर्राष्ट्रीय एकदिवसीय की अपनी विदाई पारी में शानदार प्रदर्शन किया और आस्ट्रेलिया को विश्व चैम्पियन बनाने में अहम भूमिका निभाई। क्लार्क के अलावा स्टीवन स्मिथ (नाबाद 56) और डेविड वार्नर (45) ने भी अहम योगदान दिया।एक ही ओवर में लगातार दो विकेट चटकाने वाले और न्यूजीलैंड की शतकीय साझेदारी को तोडऩे वाले आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज जेम्स फॉल्कनर को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया। फॉल्कनर ने नौ ओवर गेंदबाजी की और 36 रन देते हुए तीन विकेट चटकाए।लक्ष्य आसान होने के बावजूद सलामी बल्लेबाज एरॉन फिंच खाता खोले बगैर दूसरे ओवर की चौथी गेंद पर पवेलियन लौट गए। न्यूजीलैंड के टूर्नामेंट में सफलतम गेंदबाज ट्रेंट बोउल्ट ने फिंच का कैच अपनी ही गेंद पर लपका। इसके साथ ही बोल्ट आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क के साथ इस विश्व कप में सर्वाधिक 22 विकेट लेने के मामले में संयुक्त रूप से शीर्ष पर पहुंच गए।स्टार्क ने टूर्नामेंट में एक पारी में सर्वाधिक सात विकेट हासिल करने का कारनामा किया और उन्हें उनके शानदार प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द सीरीज चुना गया।इसके बाद बल्लेबाजी करने उतरे स्मिथ ने डेविड वार्नर (45) के साथ दूसरे विकेट के लिए 61 रनों की साझेदारी निभाई और आस्ट्रेलिया को पहले झटके से उबार लिया। वार्नर हालांकि अपना अर्धशतक पूरा नहीं कर सके और 13वें ओवर की दूसरी गेंद पर ग्रांट इलियट को कैच थमा बैठे। यह विकेट मैट हेनरी ने लिया। इस बीच वार्नर ने 46 गेंदों में सात बाउंड्री लगाई।इसके बाद क्लार्क ने स्मिथ के साथ तीसरे विकेट के लिए संयम से खेलते हुए 112 रनों की साझेदारी की और टीम को जीत के बिल्कुल नजदीक पहुंचा दिया।क्लार्क का विकेट 175 के कुल योग पर गिरा। मैट हेनरी की अंदर को आती गेंद क्लार्क के बल्ले का भीतरी किनारा लेकर स्टम्प से टकरा गई। क्लार्क ने इस बीच 72 गेंदों की अपनी बेहद नियंत्रित पारी में 10 चौके और एक छक्का लगाया।इसके बाद हालांकि आस्ट्रेलिया ने जीत हासिल करने में कोई विकेट नहीं गंवाया और स्मिथ ने 34वें ओवर की पहली गेंद पर चौका लगाकर आस्ट्रेलिया को जीत दिलाई।टूर्नामेंट में आस्ट्रेलिया के सर्वोच्च स्कोरर रहे स्मिथ 71 गेंदों पर तीन चौके लगाए और अंत तक नाबाद रहे।इससे पहले, टॉस जीतकर न्यूजीलैंड का पहले बल्लेबाजी चुनने का फैसला गलत साबित हुआ। न्यूजीलैंड के बल्लेबाज आस्ट्रेलियाई आक्रमण के आगे टिक नहीं सके और 45 ओवरों में सिर्फ 183 रन बनाकर धराशायी हो गए।अपना सातवां विश्व कप फाइनल खेल रही चार बार की चैम्पियन आस्ट्रेलियाई टीम को शानदार शुरुआत दिलाते हुए टूर्नामेंट में उसके सफलतम तेज गेंदबाज स्टार्क ने पांचवीं गेंद पर ही पहली सफलता दिला दी।अब तक टूर्नामेंट में बेहद अक्रामक खेलते आ रहे और इस मैच में आस्ट्रेलिया के लिए मुख्य खतरा माने जा रहे न्यूजीलैंड के कप्तान ब्रेंडन मैक्लम खाता खोले बगैर क्लीन बोल्ड हो गए। मैक्लम के जाने के बाद न्यूजीलैंड पर दबाव साफ दिखने लगा और उसकी रन गति काफी धीमी हो गई।क्लार्क ने गेंदबाजी में परिवर्तन करते हुए तेज गेंदबाजों को आराम देकर स्पिन गेंदबाज ग्लेन मैक्सवेल को 12वें ओवर में आक्रमण पर बुलाया और मैक्सवेल ने अपनी दूसरी ही गेंद पर इसी विश्व कप में दोहरा शतक लगा विश्व कप की सबसे बड़ी पारी खेलने वाले मार्टिन गुप्टिल (15) को 33 के कुल योग पर क्लीन बोल्ड कर दिया। गुप्टिल ने 34 गेंदों का सामना किया था और एक चौका और एक छक्का लगाया था।

    Read more »
  • तेंदुलकर ने प्रदान किए प्लेयर ऑफ द मैच, सीरीज अवार्ड

    मेलबर्न, दिग्गज भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने रविवार को विश्व कप विजेता बनकर उभरी आस्ट्रेलियाई खिलाडिय़ों जेम्स फॉल्कनर और मिशेल स्टार्क को क्रमश: प्लेयर ऑफ मैच और प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट के पुरस्कार प्रदान किए। रविवार को मेलबर्न क्रिकेट मैदान (एमसीजी) पर हुए विश्व कप के फाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड को सात विकेट से हराकर आस्ट्रेलिया पांचवीं बार विश्व कप खिताब जीतने में कामयाब रहा।रॉस टेलर, ग्रांट इलियट और कोरी एंडरसन जैसे कीवी बल्लेबाजों का महत्वपूर्ण विकेट हासिल करने वाले आस्ट्रेलिया के हरफनमौला खिलाड़ी जेम्स फॉल्कनर को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया। टूर्नामेंट में 22 विकेट हासिल करने वाले आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुने गए।

    Read more »
  • एयर कनाडा का विमान रनवे से फिसला, 23 घायल

    ओटावा, टोरंटो से आई एयर कनाडा की एक उड़ान रविवार को हैलीफैक्स स्टैनफील्ड हवाईअड्डे पर उतरते समय रनवे से फिसल गई, जिसमें 23 व्यक्ति घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सभी खतरे से बाहर हैं। हवाईअड्डे के प्रवक्ता पीटर स्परवे ने कहा कि उड़ान संख्या एसी624 वाला विमान बहुत ही कठिनाई से उतरा और रनवे से फिसल गया। सीबीसी न्यूज के अनुसार, स्परवे ने कहा, "फिलहाल हमारे पास जो घायल हैं, उन्हें मामूली चोटें हैं। वे सभी खतरे से बाहर हैं।" विमान में 133 यात्री और चालक दल के पांच सदस्य सवार थे। अधिकारियों ने कहा कि घटना में केवल 16 लोग घायल हुए हैं।  स्परवे ने कहा कि यह कोई दुर्घटना नहीं है, क्योंकि ऐसा माना जा रहा है कि जब विमान पहुंचा तो वह पूरी तरह नियंत्रण में था। उन्होंने कहा कि इस बात का कोई संकेत नहीं मिल पाया है कि विमान कठिनाई से क्यों उतरा। उन्हें विमान की स्थिति के बारे में कोई जानकारी नहीं है। घटना के समय हवाईअड्डे पर बिजली नहीं थी और कम से कम एक घंटे तक बिजली कटी रही। रैंडी हाल नामक एक यात्री ने कहा कि विमान उतरने के लिए एक अच्छे समय के इंतजार में हवाईअड्डे के ऊपर कम से कम 30 मिनट तक चक्कर काटता रहा। यात्री डेनिस लावोई ने कहा कि उन्होंने विमान से चिंगारी निकलते देखी और विमान उतरते समय दो बार डगमगाया। विमान के रुकने के बाद यात्रियों को आपात द्वारों से निकाला गया।

    Read more »
  • गिनी के 5 प्रांतों में इबोला के कारण आपातकाल घोषित

    लंदन, गिनी के राष्ट्रपति अल्फा कोंडे ने रविवार को देश के पश्चिमी और दक्षिण पश्चिमी क्षेत्रों में इबोला के कारण 45 दिनों के स्वास्थ्य आपातकाल की घोषणा की है। बीबीसी की रपट के अनुसार, स्थानीय मीडिया में जारी एक बयान में कहा गया है कोंडे ने फोरकारियाह, कोयाह, डुबरेका, बोफ्फा और किंडिया के प्रशासकीय क्षेत्रों में 45 दिनों की अवधि के लिए स्वास्थ्य आपातकाल की घोषणा की है। उन्होंने कहा, "वायरस का प्रभाव हमारे देश के तटीय इलाकों की ओर स्थानांतरित हो गया है।" इन रोक और प्रतिबंधों में वे अस्पताल और क्लीनिक शामिल हैं, जहां पर इबोला के नए मामले सामने आए हैं। गिनी में इबोला का प्रकोप दिसंबर 2013 में शुरू हुआ था।  देश के कुछ इलाकों में लोगों को दोबारा से बीमारी के वापस आने का डर सता रहा है इसी कारण शुक्रवार को सिएरा लियोन ने तीन दिवसीय देशव्यापी बंद का आह्वान किया।  विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के मुताबिक, इबोला का प्रकोप जब से शुरू हुआ है तब से नौ देशों के 24,000 लोग इसके वायरस से संक्रमित हुए हैं और 10,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। 

    Read more »
  • जर्मनविंग्स हादसा: मृतक के पिता ने की अपील

    लंदन, जर्मनविंग्स विमान में सवार एक ब्रिटिश नागरिक के पिता ने विमानन कंपनी से उनके पायलटों का ख्याल रखने की अपील की। यह विमान मंगलवार को बार्सिलोना से डुसेलडार्फ जाने के दौरान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। एक रिपोर्ट के मुताबिक, विमान में सवार सभी 150 लोगों की मौत हो गई थी, जिसमें फिलिप ब्रैमली का बेटा पॉल (28) भी शामिल था। उन्होंने कहा कि मृतकों को नहीं भुलाया जाना चाहिए। बै्रमली का बेटा स्विट्जरलैंड में होटल मैनेजमेंट की पढ़ाई कर रहा था। उन्होंने विमानन कंपनियों से अधिक पारदर्शी रवैया अपनाने की अपील करते हुए कहा कि पायलटों का ख्याल रखा जाना चाहिए। उन्होंने कहा, "हम अपनी और अपने बच्चों की जिंदगी उनके हाथ में सौंप देते हैं।" बै्रमली ने कहा कि उस दिन जो कुछ हुआ वह एक व्यक्ति की वजह से हुआ, जो बीमार था। लेकिन घटना के पीछे का उद्देश्य या वजह प्रासंगिक नहीं है। ब्रिटिश विदेश कार्यालय का कहना है कि दुर्घटना में तीन ब्रिटिश नागरिक भी मारे गए हैं।  वुल्वरहैम्पटन निवासी मार्टिन मैथ्यूज (50), मैनचेस्टर निवासी सात महीने का जुलियन प्राक्ज-बैडर्स और उसकी मां मैरिना बैंड्रेस लोपेज-बेलियो शामिल हैं। मैरिना स्पेन मूल की हैं। जांच रपट के अनुसार, विमान के सह-कप्तान एंड्रियास लुबिट्ज ने जानबूझ कर विमान को दुर्घटनाग्रस्त करावाया।उसने अपने बीमार होने से संबंधी दस्तावेज छुपाए थे, जिसमें दुर्घटना वाले दिन उसके काम के लिए फिट न होने की बात लिखी थी।

    Read more »
  • मोबाइल फोन से सेहत को कितना नुकसान

    केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय 16 वैज्ञानिक संस्थानों से मोबाइल फोन तरंगों के स्वास्थ्य पर पडऩे वाले प्रभाव पर एक स्टडी कराने जा रही है. सेल्युलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सीओएआई) ने ये जानकारी रविवार को दी.सीओएआई की ओर से जारी बयान के मुताबिक, 2011 में आए अंतरमंत्रालय समिति के एक निर्देश के बाद पहली बार केंद्र सरकार व्यापक स्तर पर यह स्टडी कराने जा रही है और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग से सहयोग देने के लिए संस्थानों से मिले परियोजना प्रस्तावों का चुनाव कर लिया गया है. स्टडी एम्स, पीजीआईएमईआर चंडीगढ़, बंगलुरु और अमृतसर का गुरु नानक देव विश्वविद्यालय संस्थान इस स्टडी में शामिल होंगे.सीओएआई ने बताया कि अध्ययन में प्रमुखत: विद्युत चुंबकीय क्षेत्र का प्रभाव, मस्तिष्क पर उसका प्रभाव, जैव रसायनिक अध्ययन, प्रजनन पैटर्न, पशु और मानव मॉडल की तुलना और उपचारात्मक कदम जैसे विषयों पर अध्ययन किया जाएगा. इसी विषय पर भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) दिल्ली में 4,500 लोगों के एक लक्षित समूह के साथ अध्ययन कर रहा है और मुंबई में टाटा मेमोरियल सेंटर अध्ययन कर रहा है.  इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश का पालन करते हुए सरकार ने 2012 में एक समिति गठित की थी, जिसने तरंग और हैंडसेट पर एक अध्ययन रपट 2014 में सौंपी थी.इस रपट में यह सिफारिश की गई है कि विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद को भारतीय परिस्थितियों पर व्यापक अध्ययन कराना चाहिए.

    Read more »
  • मुफ्ती ने मांगा बाढ़ प्रभावितों के लिए पैकेज

    जम्मू। नीति आयेाग की बैठक में हिस्सा लेने दिल्ली गए मुख्यमंत्री मुफ्ती मुहम्मद सईद ने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी और केंद्रीय वित्ता मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की। इस दौरान मुफ्ती ने जेटली से बाढ़ प्रभावितों के पुनर्वास के लिए केंद्र को भेजे गए पैकेज के प्रस्ताव को जल्द जारी करने की मांग की, ताकि अप्रैल माह से काम शुरू किया जा सके।मुख्यमंत्री बनने के बाद मुफ्ती पहली बार वित्ता मंत्री से मिले। मुख्यमंत्री ने राज्य में शुरू हो रहे पर्यटन सीजन के मद्देनजर बाढ़ के कारण ध्वस्त हो चुके पर्यटन ढांचे को फिर से बहाल करने की जरूरत पर जोर दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह तभी संभव है जब केंद्र जल्द राज्य को पैकेज दे, जो पिछले छह महीनों से केंद्र के पास पड़ा हुआ है। इस पर वित्ता मंत्री ने कहा कि वह सितंबर 2008 में आई बाढ़ से हुए नुकसान से भलीभांति परिचित हैं। केंद्र का पूरा प्रयास है कि राज्य में पुननिर्माण कार्य जल्द हो और प्रभावित लोग फिर से पैरों पर खड़े हो सकें। इस दौरान वित्ता मंत्री ने मुख्यमंत्री से सडक़ प्रोजेक्ट व लोगों से जुड़े अन्य क्षेत्रों के प्रोजेक्टों को चिन्हित करने को कहा, ताकि इसी बजट में उन्हें शामिल किया जा सके। मुख्यमंत्री के साथ राज्य के वित्ता मंत्री हसीब द्राबू भी थे।इसके बाद मुफ्ती ने राष्ट्रपति के साथ मुलाकात कर उन्हें राज्य की स्थिति व चल रहे विकास कायरें के बारे में जानकारी दी। वहीं उपराष्ट्रपति के साथ मुफ्ती ने करीब 45 मिनट तक बैठक की। मुख्यमंत्री ने उनके साथ सुरक्षा समेत कई मुद्दों पर बातचीत की।

    Read more »
  • ओलावृष्टि प्रभावित राजस्थान को हर संभव मदद : जेटली

    जयपुर| केन्द्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने रविवार को कहा कि ओलावृष्टि से अत्यधिक प्रभावित राजस्थान को केन्द्र सरकार अतिशीघ्र हर संभव मदद प्रदान करेगी। जेटली ने आपदा राहत नियमों में बदलाव करने की भी आवश्यकता बताई। जेटली ने केन्द्रीय लघु एवं सूक्ष्म उद्योग राज्य मंत्री गिरिराज सिंह के साथ रविवार को प्रदेश के आपदा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया, उसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के साथ उच्चस्तरीय बैठक की और उसके बाद मीडिया से बातचीत की। उन्होंने माना कि ओलावृष्टि से राजस्थान में जनधन, पशुधन व फसलों को भारी नुकसान हुआ है, जिसके लिए केन्द्र सरकार हर संभव मदद उपलब्ध कराएगी।वित्त मंत्री ने कहा कि प्रदेश के दौरे में ओलावृष्टि से हुए नुकसान को उन्होंने स्वयं देखा है। कई घरों की छतें टूट गई हैं और खड़ी फसलें बर्बाद हुई हैं। उन्होंने कहा, "राज्य की मांग है कि आपदा से निपटने के लिए अतिरिक्त संसाधनों के साथ ही आपदा प्रबंधन नियमों में भी शिथिलता दी जाए। केन्द्र इस पर विचार करेगा, ताकि राज्यों को आपदा प्रबंधन में सुविधा हो सके।" उन्होंने कहा कि राज्य सरकार शीघ्र ही आपदा से हुए नुकसान की विस्तृत रपट केन्द्र को भेजेगी, जिस पर विचार कर उचित निर्णय लिया जाएगा।बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में ओलावृष्टि से टमाटर, संतरा, सरसों, धनिया, जीरा एवं इसबगोल की फसलें पूरी तरह बर्बाद हो गई हैं। उन्होंने कहा कि एसडीआरएफ के प्रावधानों में बदलाव होने पर राज्य सरकार आपदा के समय प्रभावितों को आवश्यकतानुसार सहायता तुरंत उपलब्ध कराने में सक्षम होगी।मुख्य सचिव सी.एस. राजन ने आपदा के बाद राज्य सरकार द्वारा उठाए जा रहे कदमों की विस्तृत जानकारी केन्द्रीय वित्त मंत्री को दी।बैठक में आपदा प्रबंधन एवं सहायता सचिव रोहित कुमार ने प्रस्तुतीकरण दिया, जिसमें राज्य सरकार ने केन्द्र से मांग की कि एसडीआरएफ के प्रावधानों में शिथिलता देते हुए राज्य को 90 दिनों से अधिक राहत गतिविधियां संचालित करने की छूट दी जाए। राज्य सरकार ने मांग की कि फसलों को 50 प्रतिशत से अधिक नुकसान होने पर ही सहायता दिए जाने के प्रावधानों में संशोधन कर सभी प्रभावित काश्तकारों को आनुपातिक नुकसान के आधार पर सहायता दी जाए तथा एसडीआरएफ के तहत कृषि आदान सहायता की दरों में बढ़ोतरी कर इसे मूल्यवृद्घि से जोड़ने की मांग रखी गई।राज्य सरकार ने मांग की है कि मौसम आधारित फसल बीमा योजना में बदलाव कर इसे फसलों को हुए वास्तविक नुकसान एवं फसल की उत्पादकता से जोड़ा जाना चाहिए।

    Read more »
  • ‘जी 20 में मोदी सहित 31 नेताओं की निजी जानकारी गलती से हो गई सार्वजनिक’

    लंदन : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी विश्व के उन 31 नेताओं में शामिल हैं जिनकी निजी जानकारी पिछले साल आस्ट्रेलिया में हुए जी 20 शिखर सम्मेलन में गलती से सार्वजनिक हो गई।‘गार्डियन’ अखबार की खबर के मुताबिक पिछले साल नवंबर में ब्रिसबेन में जी 20 देशों के नेताओं के शिखर सम्मेलन में शरीक होने वाले नेताओं के पासपोर्ट नंबर, वीजा ब्यौरा और अन्य निजी जानकारी आस्ट्रेलियाई आव्रजन विभाग के एक कर्मचारी के ईमेल भेजने में हुई गलती के चलते ‘एशियन कप फुटबॉल टूर्नामेंट’ के आयोजकों के पास पहुंच गई।खबर के मुताबिक मोदी के अलावा, अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल, चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग, जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे, इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विदोदो और ब्रिटिश प्रधानमंत्री डेविड कैमरन उन नेताओं में शामिल हैं जिनके बारे में जानकारी सार्वजनिक हो गईं।सात नवंबर 2014 की घटना के बारे में सूचना देने के लिए और फौरी सलाह मांगने के लिए आस्ट्रेलियाई निजता आयुक्त से आस्ट्रेलिया के आव्रजन एवं सीमा सुरक्षा विभाग के निदेशक ने संपर्क किया। लेकिन अखबार ने दावा किया है कि इस घटना के बारे में जी 20 देशों के नेताओं को सूचना देना आवश्यक नहीं समझा गया। इस घटना के लिए जिम्मेदार कर्मचारी ने गलती से एशियन कप की स्थायी आयोजन समिति के एक सदस्य को निजी जानकारी के साथ ईमेल कर दिया।अधिकारी ने लिखा है, निजी जानकारी जो सार्वजनिक हो गई उनमें 31 अंतरराष्ट्रीय नेताओं (प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति और उनके समकक्षों) के नाम, जन्म तिथि, टाइटल, पद, पासपोर्ट नंबर, वीजा नंबर और वीजा उपवर्ग शामिल हैं। उन्होंने बताया कि इन जानकारी के सार्वजनिक होने का कारण मानवीय गलती है। उन्होंने लिखा है कि यह विषय उनके ध्यानार्थ फौरन लाया गया। यह सिर्फ सिर्फ मानवीय गलती तक सीमित है और इसका प्रणालीगत या सांस्थानिक उल्लंघन से कोई लेना देना नहीं है।आव्रजन अधिकारी ने इसके बाद यह सिफारिश की कि विश्व के नेताओं को उनकी जानकारी सार्वजनिक होने से अवगत नहीं कराया जाए। अधिकारी ने लिखा है, बताया गया कि जानकारी सार्वजनिक होने का जोखिम बहुत कम था और ईमेल को और अधिक फैलने से रोकने के लिए की गई कार्रवाई के चलते मुझे नहीं लगता कि इस बारे में सूचना देनी जरूरी थी। आस्ट्रेलिया के उप विपक्षी नेता तान्या प्लीबस्र्क ने प्रधानमंत्री टोनी एबॉट से बात की और इस घटना की जानकारी विश्व के नेताओं को नहीं दिए जाने का कारण बताया। एक सरकारी एजेंसी से देश के अब तक के सबसे बड़े डेटा के सार्वजनिक होने के लिए आस्ट्रेलिया का आव्रजन विभाग भी जिम्मेदार है।

    Read more »
  • भूमि विधेयक पर गुमराह कर रहीं सोनिया गांधी: गडकरी

    नई दिल्ली। भूमि अधिग्रहण विधेयक के मुद्दे पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर निशाना साधते हुए भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने आज उन पर देश को गुमराह करने का आरोप लगाया तथा कहा कि संप्रग सरकार की नीतियों के चलते ही बेरोजगारी और किसानों की खुदकुशी के मामले बढ़े। राजग सरकार के विवादास्पद विधेयक पर अहम भूमिका निभा रहे गडकरी ने सोनिया के एक पत्र का जवाब देते हुए कहा कि संप्रग सरकार द्वारा सिंचाई और अन्य ग्रामीण तथा सामाजिक बुनियादी परियोजनाओं के लिए जमीन अधिग्रहण कानून के तहत एक एकड़ जमीन का भी अधिग्रहण नहीं किया गया और किसान हर बार बारिश पर निर्भर रहे।गडकरी को लिखे पत्र में सोनिया ने बातचीत का गडकरी का प्रस्ताव ठुकरा दिया था और कहा था कि यह मजाक है और भाजपा सरकार ने एकपक्षीय तरीके से भूमि अध्यादेश लागू किया। विधेयक को किसान विरोधी बताते हुए सोनिया ने आरोप लगाया था कि सरकार उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए पूरी तरह नतमस्तक हो रही है। सामाजिक प्रभाव आकलन के दायरे से बाहर जाकर अनेक परियोजनाओं को चालू रखने संबंधी आलोचनाओं का जवाब देते हुए गडकरी ने कहा, ‘‘संप्रग सरकार ने जानबूझकर एक व्यवस्था बनाई जिसमें बड़ी भूमि अधिग्रहण परियोजनाएं आकलन के बाहर थीं जबकि राज्य सरकार द्वारा संचालित कल्याण परियोजनाएं इसमें फंसी हुई थीं।’’

    Read more »
  • महामना भारत रत्न से व आडवाणी पद्म विभूषण से सम्मानित

    नई दिल्ली। प्रख्यात शिक्षाविद और स्वतंत्रता सेनानी महामना मदन मोहन मालवीय को मरणोपरांत आज देश के शीर्ष नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने राष्ट्रपति भवन में आयोजित समारोह में मालवीय के परिजनों को भारत रत्न प्रदान करने के साथ ही भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी सहित कई लोगों को पद्म पुरस्कारों से भी सम्मानित किया। राष्ट्रपति भवन के दरबार हाल में पद्म और भारत रत्न पुरस्कार प्रदान किए जाने के लिए आयोजित पारंपरिक समारोह में राष्ट्रपति ने मालवीय के परिजनों को भारत रत्न प्रदान किए जाने के अलावा दूसरे उच्चस्थ नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और पंजाब के मुख्यमंत्री और शिरोमणि अकाली दल के नेता प्रकाश सिंह बादल को नवाजा। इसके अलावा विख्यात वकील हरीश साल्वे तथा पत्रकार स्वप्न दासगुप्त एवं रजत शर्मा को पद्म भूषण से सम्मानित किया गया।पिछले सप्ताह पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को राष्ट्रपति ने उनके निवास पर जाकर उन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया था। 90 वर्षीय वाजपेयी की उम्र संबंधी अस्वस्थता के चलते मुखर्जी ने प्रोटोकोल से हट कर पूर्व प्रधानमंत्री के कृष्ण मेनन मार्ग स्थित निवास पर जाकर उन्हें यह पुरस्कार प्रदान किया। वाजपेयी और मालवीय को भारत रत्न से सम्मानित करने की घोषणा पिछले साल 24 दिसंबर को की गई थी। इस समारोह में उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री अरुण जेटली और मंत्रिमंडल के अन्य कई सदस्य उपस्थित थे।पद्मश्री से सम्मानित किए जाने वालों में फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली, लेखक एवं गीतकार प्रसून जोशी, भौतिकविद डॉ. रणदीप गुलेरिया, ‘चाचा चौधरी’ जैसे मशहूर कार्टून चरित्र के रचियता कार्टूनिस्ट प्राण (मरणोपरांत), बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू, हाकी स्टार सरदारा सिंह और एवरेस्ट को फतह करने वाली अरुणिमा सिंह शामिल हैं।भारतवासियों में शिक्षा के प्रसार को लेकर दूरदृष्टि रखने वाले मालवीय ने काशी हिन्दू विश्वविद्यालय की स्थापना की थी। 25 दिसंबर, 1861 को जन्मे मालवीय 1886 में कोलकाता के कांग्रेस अधिवेशन में दिए गए अपने पहले ही प्रभावशाली भाषण से देश के राजनीतिक क्षितिज में कद्दावर नेता के रूप में उभरे। वह 1909 और 1918 में कांग्रेस के अध्यक्ष बने। मालवीय को स्वतंत्रता आंदोलन में उनकी उत्कृष्ट भूमिका और हिन्दू राष्ट्रवाद को आगे बढ़ाने के लिए जाना जाता है। वह दक्षिणपंथी हिन्दू महासभा के प्रारंभिक नेताओं में थे।हैरानी की बात यह रही कि पद्म पुरस्कार समारोह में कांग्रेस से कोई नेता नजर नहीं आया। राष्ट्रपति भवन के सूत्रों ने बताया कि प्रोटोकाल के हिसाब से पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को निमंत्रण दिया गया था। विख्यात कार्टूनिस्ट दिवंगत प्राण की पत्नी आशा प्राण ने कहा कि उनके पति को पुरस्कार देर से मिला लेकिन फिर भी यह उनके जीवन में किए गए उनके रचनात्मक कार्यों की मान्यता है। चाचा चौधरी, बिल्लू, पिंकी और रमण जैसे लोकप्रिय कार्टून चरित्रों के रचयिता का 5 अगस्त 2014 को निधन हो गया था। पद्मश्री से सम्मानित भारतीय हाकी टीम के कप्तान सरदार सिंह ने कहा कि यह प्रतिष्ठित पुरस्कार पाना उनके लिए बड़ा सम्मान है।

    Read more »
  • आप के मुख्य प्रवक्ता पद से हटाए जा सकते हैं योगेंद्र यादव

    नई दिल्ली। प्रशांत भूषण को आप की राष्ट्रीय अनुशासन समिति के प्रमुख पद से हटाए जाने के बाद अगला निशाना योगेंद्र यादव बन सकते हैं जिन्हें पार्टी के मुख्य प्रवक्ता पद से हटाया जा सकता है। आम आदमी पार्टी के सूत्रों ने कहा कि पार्टी जल्द ही प्रवक्ताओं की नयी सूची जारी करेगी जिसमें यादव का नाम नहीं होगा। एक वरिष्ठ पार्टी नेता ने नाम उजागर नहीं करने का आग्रह करते हुए कहा, ‘‘हम जल्द ही पार्टी प्रवक्ताओं की नयी सूची लाएंगे। नि:संदेह यादव का नाम सूची में नहीं होगा।’’पार्टी की राजनीतिक मामलों की समिति और राष्ट्रीय कार्यकारिणी से प्रशांत भूषण के साथ हटाए जाने के बाद यादव को मुख्य प्रवक्ता पद से हटाए जाने की संभावना है। भूषण और यादव को महत्वपूर्ण समितियों से हटाए जाने को उन्हें पार्टी से बाहर करने के संकेत के रूप में माना जा रहा है। यह देखना दिलचस्प है कि यादव ही वह एकमात्र नेता थे जिन्हें पार्टी के प्रवक्ताओं का पैनल बनाए जाने के समय मुख्य प्रवक्ता बनाया गया था। पार्टी ने रविवार को भूषण को अनुशासन समिति से बर्खास्त कर दिया था और उनकी जगह तीन सदस्यों का एक पैनल बनाया है। ये सदस्य आप प्रमुख केजरीवाल के करीबी माने जाते हैं। पार्टी नेतृत्व की आलोचना के चलते आप के आंतरिक लोकपाल एडमिरल (अवकाशप्राप्त) एल रामदास को भी बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था। उनकी जगह तीन सदस्यीय लोकपाल पैनल बनाया गया है जिसमें दो पूर्व आईपीएस और एक शिक्षाविद शामिल हैं।

    Read more »
  • भ्रूण हत्या के लिए भारतवंशी महिला को 20 साल की कैद

    वाशिंगटन।| अमेरिका में भारतवंशी अमेरिकी महिला को कन्या भ्रूणहत्या मामले में 20 साल कारावास की सजा सुनाई गई है। उसे पिछले महीने ही दोषी साबित किया गया था। 'पब्लिक रेडियो इंटरनेशनल' (पीआरआई) की ऑनलाइन रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिकी राज्य इंडियाना के साउथ बेंड में एक न्यायाधीश ने महिला को सजा सुनाई।पूर्वी पटेल (33) भारतवंशी परिवार से आती हैं। यह परिवार इंडियाना में साउथ बेंड के उपनगरी इलाके में बसा हुआ है।पूर्वी को जुलाई 2013 में मिशावाका शहर के सेंट जोसेफ रीजनल मेडिकल सेंटर में देखा गया था। उसके शरीर से काफी खून निकल रहा था। चिकित्सकों को समझते देर नहीं लगी कि उसका गर्भपात हो गया है। पूर्वी ने स्वयं भी स्वीकार किया कि उसने ग्रैनर के रेस्तरां मोएज साउथवेस्ट ग्रील के बाहर कूड़ेदान में भ्रूण को फेंक दिया है। यह रेस्तरां उसके मातापिता का है। पुलिस ने पूर्वी से उसके अस्पताल में रहने के दौरान पूछताछ की और उसके मोबाइल फोन की भी जांच की। इसमें पुलिस को कई ऐसे संदेश मिले, जिसमें पूर्वी द्वारा अवैध गर्भपात कराने की बात साबित हुई।अभियोजन पक्ष के अनुसार, इन संदेशों में पूर्वी ने अवांछित गर्भ गिराने के लिए ऑनलाइन दवा का आर्डर दिया है।इंडियाना में भ्रूण हत्या के मामले में दोषी वह पहली महिला है और इस आरोप का सामना कर रही दूसरी महिला। दो साल पहले चीनी महिला बेइ बेइ शुआई पर भी भ्रूण हत्या का आरोप लग चुका है।

    Read more »
  • तंबाकू से नहीं होता है कैंसर, हटेगी चेतावनी!

    नई दिल्ली। तंबाकू सेवन से जुड़े कानून पर बनी एक संसदीय समिति ने कहा है कि भारत में इस बात पर कोई रिसर्च नहीं हुई है कि तंबाकू के सेवन से कैंसर होता है। इसलिए विदेशी रिसर्च के आधार पर भारत के नियम में बदलाव नहीं किया जा सकता। समिति ने सरकार को सुझाव दिया है कि सिगरेट के डिब्बों पर जो तंबाकू विरोधी विज्ञापन आता है उसे फिलहाल बढ़ाने की जरूरत नहीं है। जानकार इस सुझाव की आलोचना कर रहे हैं। भारत में हर साल 75 से 80 हजार लोगों को मुंह का कैंसर होता है। 2011 के आंकड़े के मुताबिक भारत सरकार ने उस साल इस बीमारी से लड़ने के लिए 1 लाख 4 हजार 500 करोड़ रुपया खर्च किया। इसकी सबसे बड़ी वजह है तंबाकू का सेवन। लेकिन तंबाकू से जुड़े कानून सिगरेट एंड अदर प्रोडक्ट्स एक्ट 2003 के नियम पर विचार करने वाली समिति ने एक चौंकाने वाली रिपोर्ट दी है। रिपोर्ट के मुताबिक भारत में ऐसा कोई रिसर्च नहीं हुआ जिससे ये साबित हो कि तंबाकू के सेवन से कैंसर होता है। सभी रिसर्च विदेशों में हुए हैं। विदेशी रिसर्च के आधार पर भारत के नियम में बदलाव नहीं किया जा सकता। जबतक भारत का अपना रिसर्च ना हो जाए तब तक नियम में बदलाव नहीं होना चाहिए। एक अप्रैल से सिगरेट के डिब्बों पर तंबाकू विरोधी विज्ञापन को 40 फीसदी से बढ़ाकर 85 फीसदी किया जाना था। माना जाता है कि ऐसे विज्ञापन देने से लोग तंबाकू का सेवन करने से डरते हैं। लेकिन समिति ने सुझाव दिया है कि नया रिसर्च आने तक विज्ञापन को ना बढ़ाया जाए। सवाल पूछे जाने पर समिति के अध्यक्ष दिलीप गांधी कहते हैं कि इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि इस व्यवसाय में बड़ी तादाद में लोग लगे हैं। बीड़ी बनाने में 4 करोड़ लोगों को रोजगार मिला है। सिगरेट, बीड़ी, तंबाकू सबकी अलग-अलग जांच होनी चाहिए। फिर उस आधार पर हम कानून तैयार करेंगे। फिलहाल सिर्फ स्थागित किया है। जब सर्वे आएगा तब निर्णय लेंगे। गौरतलब है कि अदालत में चली एक लंबी लड़ाई के बाद 2003 में सरकार ने कानून बनाया था कि सिगरेट के हर डिब्बे पर कैंसर से पीड़ित फेफड़े या मुंह को छापा जाएगा। ऐसी गंदी तस्वीरें देखकर लोग सिगरेट पीने से डरेंगे। धीरे धीरे तस्वीर के आकार को बढ़ाया जाएगा। लेकिन संसदीय समिति ने फिलहाल इस पर पूर्ण विराम लगा दिया है। कैंसर सर्जन हरित चतुर्वेदी ने समिति के इस फैसले पर कहा कि ये बहुत झूठी बात है। इतनी रिसर्च हुई है जिसने साबित किया है कि तंबाकू से कैंसर होता है। ये किसी के दबाव में बोला जा रहा है। वालंटरी हेल्थ एसोसिएशन के सदस्य आलोक मुखोपाध्याय ने कहा कि हम एक ट्रक दस्तावेज ऐसे दे सकते हैं जो साबित करते हैं कि तंबाकू से कैंसर होता है। सलाम बांबे ट्रस्ट की सदस्य पदमिनी सोमैया ने कहा कि ये स्तब्ध करने वाला फैसला है। इसपर पुनर्विचार होना चाहिए। 20-30 साल के बच्चे आज तंबाकू की वजह से कैंसर झेल रहे हैं। सरकार पर हमेशा से तंबाकू लॉबी के दबाव में काम करने का आरोप लगता रहा है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर इस मुद्दे पर कहते हैं कि दूसरे देशों के लोग यहां आकर अपनी रिसर्च के आधार पर ये सब बोलते हैं। हालांकि उन्होंने कहा कि सिगरेट से दूर रहना चाहिए। जानकारों का आरोप है कि नई रिसर्च में कई साल लगेंगे और ये सिर्फ एक बहाना है ताकि नए नियम को टाला जा सके। तंबाकू के खिलाफ चल रही मुहिम में इसका नकारात्मक असर पड़ सकता है।

    Read more »
  • बाबरी केस में आडवाणी-जोशी सहित 20 को नोटिस

    नई दिल्ली। विवादित बाबरी ढांचा गिराने की साजिश के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने आडवाणी जोशी समेत 20 लोगों को नोटिस जारी किया है, ये याचिका हाजी महमूद ने दायर किया था। मामले की सुनवाई 4 हफ्ते बाद होगी। 22 साल पुराने केस की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में आज हुई। कोर्ट ने इस मामले में सीबीआई को नोटिस दिया है। याचिका में दावा है कि सीबीआई ने पूरे मामले में लाल कृष्ण आडवाणी को बचाने की कोशिश की। इस याचिका में 2010 में आए इलाहबाद हाईकोर्ट के उस फैसले को चुनौती दी गई है, जिसमें लाल कृष्ण आडवाणी को बाबरी मस्जिद तोड़ने के आरोप से बरी कर दिया गया था। यह याचिका फैजाबाद के रहने वाले हाजी हाजी महमूद अहमद की तरफ से दायर की गई थी वो पिछले 45 साल से जुड़े हैं। इलाहाबाद कोर्ट ने बाबरी मस्जिद गिराने के मामले में 21 आरोपियों को साजिश के आरोप से मुक्त कर दिया था। सीबीआई ने इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दायर की थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट का यह फैसला 20 मई 2012 को आया था, लेकिन सीबीआई ने 8 महीने बाद इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी।

    Read more »
  • केंद्र सरकार ने प्राकृतिक गैस की कीमत तय की

    नई दिल्ली अंतरराष्ट्रीय कीमतों में नरमी के बीच प्राकृतिक गैस के दाम लगभग आठ प्रतिशत घटाकर 4.66 डॉलर प्रति इकाई कर दिए गए हैं. इससे आने वाले समय में बिजली और उर्वरक जैसे उत्पादों की उत्पादन लागत घटेगी. नई दरें पहली अप्रैल से लागू होंगी.पेट्रोलियम मंत्रालय के कीमत प्रकोष्ठ पीपीएसी ने मंगलवार को इसकी घोषणा करते हुए कहा कि घरेलू उत्पादित प्राकृतिक गैस की कीमत एक अप्रैल से 30 सितंबर तक 4.66 डॉलर प्रति एमएमबीटीयू रहेगी. यह कीमत सकल उर्जा मूल्य (जीसीवी) के आधार पर होगी. फिलहाल इस आधार पर गैस की दर 5.05 डालर प्रति इकाई (एमबीटीयू) है.वहीं शुद्ध क्लेरोफिक मूल्य (एनसीवी) आधार पर यह दर 5.18 डॉलर रहेगी, जो इस समय 5.61 डॉलर है. सरकार ने पिछले साल अक्तूबर में गैस मूल्य निर्धारण के जिस फार्मूले को मंजूरी दी थी उसी के आधार पर नई कीमत तय की गई है.देश में प्राकृतिक गैस की कीमतों में पहली बार कटौती की गई है. घरेलू गैस कीमत पिछले साल एक नवंबर से 4.2 डालर एमएमबीटीयू से बढाकर 5.61 डालर प्रति एमएमबीटीयू की गई थी.प्राकृतिक गैस की कीमत में कमी से ओएनजीसी और रिलायंस इंडस्ट्रीज जैसे उत्पादकों की आय प्रभावित होगी, वहीं बिजली और उर्वरक क्षेत्र के लिए लागत में कमी आएगी. अक्तूबर 2014 में मंजूर फार्मूले के तहत घरेलू उत्पादित प्राकृतिक गैस की कीमतों की हर छह महीने के अंतराल पर समीक्षा होगी.

    Read more »
  • डेनियल विटोरी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहा

    ऑकलैंड । न्यूजीलैंड के लिए सबसे ज्यादा वनडे खेल चुके अनुभवी स्पिनर डेनियल विटोरी ने मंगलवार को 50 ओवरों के प्रारूप को अलविदा कहने के साथ ही 18 साल के सुनहरे करियर के बाद क्रिकेट से पूरी तरह से विदाई ले ली। विश्व कप में फाइनल तक पहुंचे न्यूजीलैंड के शानदार प्रदर्शन के बाद 36 वर्षीय विटोरी के वनडे करियर को लेकर अटकलें लगायी जा रही थीं। वह टेस्ट और टी-20 क्रिकेट से पहले ही विदा ले चुके हैं। उन्होंने विश्व कप फाइनल में ऑस्ट्रेलिया से सात विकेट से हारने के बाद स्वदेश पहुंचने के बाद वनडे क्रिकेट से संन्यास का एलान किया। उन्होंने पत्रकारों से कहा, 'यह न्यूजीलैंड के लिए मेरा आखिरी मैच था। जीतते तो और अच्छा लगता, लेकिन मुझे सभी खिलाडि़यों पर गर्व है। हमने पिछले छह सप्ताह बेहतरीन क्रिकेट खेला। फाइनल में पहुंचना ही गर्व की बात थी। मैं ब्रेंडन (मैकुलम) और माइक (हेसन) से मिले सहयोग के लिए उनका शुक्रगुजार हूं। इतनी चोटों से जूझकर वापसी करते हुए वहां तक पहुंचना, मैं कभी नहीं भूल सकूंगा।' 18 बरस की उम्र में 1997 में वनडे क्रिकेट में पदार्पण करने वाले विटोरी पांच विश्व कप के 32 मैचों में 36 विकेट ले चुके हैं। उन्होंने 2011 तक 32 टेस्ट और 82 वनडे में न्यूजीलैंड की कप्तानी की। विटोरी ने इस विश्व कप में बेहतरीन गेंदबाजी कर न्यूजीलैंड को फाइनल तक पहुंचाने में अहम योगदान दिया। उन्होंने नौ मैचों में 20.46 के औसत से कुल 15 विकेट लिए और उनका इकॉनमी रेट सिर्फ 4.04 रहा। इसके बाद आइसीसी ने अपनी विश्व कप टीम में भी विटोरी को गेंदबाज के रूप में शामिल किया। अनूठा रिकॉर्ड : वह टेस्ट में 300 विकेट और 4000 रन तथा वनडे में 300 विकेट लेने और 2000 रन बनाने वाले दुनिया के एकमात्र क्रिकेटर हैं। कपिल देव और इयान बॉथम टेस्ट में 300 विकेट लेने और 4000 रन बनाने का कारनामा कर चुके हैं। विटोरी का करियर वनडे मैच, औसत, विकेट, रन बनाए, 100/50 295, 31.71, 305, 2244, 00/04 पहला वनडे : 25 मार्च, 1997, क्राइस्टचर्च बनाम श्रीलंका अंतिम वनडे : 29 मार्च, 2015, मेलबर्न बनाम ऑस्ट्रेलिया टेस्ट मैच, औसत, विकेट, रन बनाए, 100/50 113, 34.36, 362, 4531, 06/23 पहला टेस्ट : 6-10 फरवरी, 1997, वेलिंगटन बनाम इंग्लैंड अंतिम टेस्ट : 26-30 नवंबर, 2014, शारजाह बनाम पाकिस्तान टी-20 मैच, औसत, विकेट, रन बनाए 34, 19.68, 38, 205 पहला टी-20 : 12 नवंबर, 2007, डरबन बनाम केन्या अंतिम टी-20 : 05 दिसंबर, 2014, दुबई बनाम पाकिस्तान

    Read more »
  • वनडे रैंकिंग : दूसरे स्थान पर पहुंची टीम इंडिया

    दुबई। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने मंगलवार को खिलाडियो और टीमों की वनडे रैंकिंग जारी की। भारतीय सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और तेज गेंदबाज उमेश यादव को आईसीसी विश्व कप-2015 में अच्छा प्रदर्शन का फायदा मिला है और दोनों मंगलवार को जारी ताजा एकदिवसीय विश्व रैंकिंग में लंबी छलांग लगाने में कामयाब रहे। वहीं, टीम इंडिया दूसरे पायदान पर है। पांचवी बार विश्व कप जीतने वाली आस्ट्रेलिया टीम पहले स्थान पर है। विश्व कप में 22 विकेट लेकर प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुने गए आस्ट्रेलिया के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क गेंदबाजों की सूची में शीर्ष पर पहुंच गए। वह अपने करियर में पहली बार गेंदबाजों की सूची में शीर्ष स्थान हासिल करने में कामयाब हुए हैं। विश्व कप में 18 विकेट हासिल कर तीसरे स्थान पर रहे उमेश पहली बार शीर्ष-20 में जगह पाने में कामयाब रहे और 16 पायदान की छलांग लगाते हुए 19वें स्थान पर पहुंच गए।रोहित ने भी सात स्थान की छलांग लगाई है और अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ 12वां स्थान हासिल किया। विश्व कप में उन्होंने 330 रन बनाए। एकदिवसीय टीम रैंकिंग में पांचवीं बार विश्व कप खिताब जीतने वाली आस्ट्रेलियाई टीम 122 अंकों के साथ शीर्ष पर बना हुआ है।साथ ही शीर्ष क्रम बरकरार रखने के लिए आस्ट्रेलिया 175,000 इनामी राशि का हकदार भी बन चुका है। भारत 116 अंकों के साथ दूसरे पायदान पर है और इनाम स्वरूप वह 75,000 डॉलर का हकदार बन गया है।विश्व कप शुरू होने से पहले स्टार्क रैंकिंग में सातवें पायदान पर थे, लेकिन छह हफ्ते तक चलने वाले इस टूर्नामेंट में अपने बेहतरीन प्रदर्शन के बल पर उन्होंने 147 अंक अर्जित किए और कुल 783 अंकों के साथ शीर्ष पर पहुंच गए।न्यूजीलैंड के ट्रेंट बाउल्ट भी नौ स्थान की छलांग लगाकर अपने करियर के सर्वश्रेष्ठ छठे पायदान पर पहुंचने में सफल हुए हैं। बाउल्ट ने भी विश्व कप में 22 विकेट हासिल किए थे। विश्व कप में 15 विकेट हासिल करने वाले दक्षिण अफ्रीका के इमरान ताहिर नौ स्थान ऊपर दूसरे पायदान पर पहुंच गए हैं।भारत की ओर से विश्व कप के दूसरे सफल गेंदबाज रहे मोहम्मद समी 11वें और रविचंद्रन अश्विन 14वें पायदान पर हैं।टीम रैंकिंग (एकदिवसी) :1. आस्ट्रेलिया (122 अंक)2. भारत (116 अंक)3. दक्षिण अफ्रीका (112 अंक)4. श्रीलंका (108 अंक)5. न्यूजीलैंड (107 अंक)6. इंग्लैंड (101 अंक)7. पाकिस्तान (95 अंक)8. वेस्टइंडीज (92 अंक)9. बांग्लादेश (76 अंक)10. जिम्बाब्वे (50 अंक)11. आयरलैंड (44 अंक)12. अफगानिस्तान (38 अंक)

    Read more »
  • पटना ब्लास्ट मामले में बड़ा खुलासा- 'अमित शाह की रैली में थी धमाके की योजना'

    पटना: पटना ब्लास्ट में एक नया खुलासा हुआ है। सूत्रों के मुताबिक बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की रैली में धमाका करने की योजना थी। गौर हो कि अमित शाह की इसी महीने की 14 तारीख को पटना में रैली है और आरोपी इसी रैली में धमाके की योजना बना रहे थे। इसे लेकर एनआईए (राष्ट्रीय जांच एजेंसी) की जांच जारी है जो इस मामले की जांच-पड़ताल में लगी है।    गौर हो कि कल बिहार में राजधानी पटना के अगमकुआं थाना क्षेत्र के बहादुरपुर कॉलोनी के एक फ्लैट में एक टाइमर बम फट गया था। पुलिस ने घटनास्थल से दो जिंदा बम भी बरामद किए थे, जिसे बाद में निष्क्रिय कर दिया गया। पुलिस के अनुसार, भूतनाथ रोड के सेक्टर तीन के ब्लॉक 12 स्थित एक फ्लैट में हुए बम विस्फोट के बाद पुलिस ने घटनास्थल से दो बम भी बरामद किए हैं, जिन्हें रात में निष्क्रिय कर दिया गया। जिस फ्लैट में विस्फोट हुआ है, उसके मालिक की धरपकड़ के लिए छापेमारी की जा रही है।पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक, बम में जो घड़ी लगी थी वह लोटस कंपनी की है। गौरतलब है कि इसी कंपनी की घड़ी का इस्तेमाल पटना में साल 2013 में गांधी मैदान और बोधगया में हुए विस्फोट में किया गया था।

    Read more »
  • ब्रिटिश महारानी एलिजाबेथ के कर्मचारी कर सकते हैं हड़ताल

    लंदन| ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ के सामने पहली बार उनके कर्मचारियों की हड़ताल का खतरा मंडरा रहा है। उनके विंडसर महल के कर्मचारी कम वेतन और भत्ते की शिकायत को लेकर एकजुट हो गए हैं। समाचारपत्र 'द टेलीग्राफ' के अनुसार, महल के कर्मचारियों का वेतन 14,400 पाउंड (लगभग 21,000 डॉलर) वार्षिक से शुरू होता है। यानी उन्हें इतना कम वेतन मिल रहा है जो उनके जीवन-बसर के लिए नाकाफी है। लेकिन बगैर अतिरिक्त भुगतान के उनसे अतिरिक्त कार्य लिए जाते हैं, जैसे कि पर्यटकों के मार्गदर्शन के लिए और दुभाषियों व प्राथमिक उपचारकर्ता के रूप में उन्हें उनके साथ भेजा जाता है।विंडसर के 200 में से 120 कर्मचारियों का प्रतिनिधित्व करने वाली 'द पब्लिक एंड कॉमर्शियल सर्विसिस (पीसीएस) यूनियन' ने कहा कि शाही परिवार ने कर्मचारियों को अतिरिक्त काम के लिए अतिरिक्त भुगतान करने का वादा तोड़ दिया है।इस संबंध में यूनियन अपने सदस्यों के बीच 31 मार्च से 14 अप्रैल के बीच मतदान करवाएगा।पीसीएस के महासचिव मार्क सरवोतका ने कहा, "यह शर्मनाक है कि कर्मचारियों को इतना कम वेतन दिया जाता है और उनसे उस तरह के काम मुफ्त करने की उम्मीद की जाती है, जिनसे शाही परिवार को कमाई होती है।"विंडसर महल, दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे पुराना अधिवासित महल है। यहां हर साल लगभग 11 लाख आगंतुक आते हैं, जो इस महल में 1.7 करोड़ पाउंड से ज्यादा धनराशि खर्च करते हैं।रॉयल कलेक्शन ट्रस्ट, आगंतुकों से मिलने वाली इस राशि का उपयोग शाही महलों और उनकी वस्तुओं के रखरखाव में करता है।

    Read more »
  • अप्रैल में पाकिस्तान का दौरा करेंगे चीनी राष्ट्रपति

    इस्लामाबाद| चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग 10 अप्रैल को दो-दिवसीय पाकिस्तान दौरे पर जाएंगे। समाचार पत्र 'डॉन' की वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार, दौरे के वक्त परमाणु ऊर्जा, पाकिस्तान-चीन आर्थिक गलियारा (पीसीईसी), ऊर्जा, व्यापार तथा निवेश जैसे क्षेत्र सहित दो दर्जन से अधिक समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए जाएंगे।नेशनल एसेंबली सचिवालय के प्रवक्ता ने बताया कि शी अपने दौरे के दूसरे दिन संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करेंगे। पाकिस्तान पिछले 10 महीने से चीनी राष्ट्रपति के आगमन का इंतजार कर रहा है। इस दौरान उनका तीन प्रायोजित दौरा किन्हीं कारणों से स्थगित हो चुका है।पाकिस्तान में चीन के राजदूत सुन वीडांग ने 10 मार्च को कहा था कि राष्ट्रपति शी की फरवरी में होने वाली यात्रा घरेलू व्यस्तता के कारण रद्द हो गई थी। वह 23 मार्च को पाकिस्तान दिवस की परेड में भी हिस्सा लेने वाले थे। लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। सितंबर, 2014 में उनका दौरा सुरक्षा कारणों से स्थगित हो गया था।

    Read more »
  • जोउ छुनफेई: फैक्ट्री में करती थी काम, अब है चीन की सबसे अमीर महिला

    पेइचिंग, जोउ छुनफेई को चीन की सबसे अमीर महिला आंका गया है। उनकी संपत्ति लगभग आठ अरब डॉलर है और वह टचस्क्रीन ग्लास बनाने वाली एक कंपनी की मालकिन हैं। ऐपल व सैमसंग जैसी कंपनियां इस कंपनी से टचस्क्रीन ग्लास खरीदती हैं।जोउ के इस मुकाम तक पहुंचने की कहानी भी किसी फिल्मी कथा से कम नहीं है। 1970 में चीन के एक छोटे से गांव में जन्मी जोउ ने घडिय़ों के लिए ग्लास बनाने वाले एक कारखाने में काम किया। उन्होंने 2003 में खुद की कंपनी बनाई। इस कंपनी में अब 60 हजार लोग काम करते हैं और इसकी 10 कंपनियां हैं। फोब्र्स की लिस्ट के मुताबिक जोउ को क्वीन ऑफ मोबाइल फोन ग्लास कहा जाता है। उन्होंने इस लिहाज से पेइचिंग रेड सैंडलवुड कल्चरल फाउंडेशन की संस्थापक चान लाइवा को पछाड़ दिया है। जोउ की फॉर्म लेंस टेक्नॉलॉजी का शेयर मूल्य मंगलवार को बढक़र 78.08 युआन प्रति शेयर हो गया। कंपनी 18 मार्च को शेनचेन के ग्रोथ एंटरप्राइज मार्केट बोर्ड में सूचीबद्ध हुई थी।शिन्हुआ संवाद समिति के अनुसार लेंस टेक्नॉलजी का शेयर मूल्य बुधवार को लगातार 11वें दिन चढ़ा और 85.89 युआन प्रति शेयर रहा। लेंस टेक्नॉलॉजी स्मार्टफोन, कंप्यूटर व कैमरों आदि के लिए ग्लास कवर बनाती है। ऐपल व सैमसंग को इसका बिक्री कारोबार 2014 में नौ अरब डॉलर हो गया जो कि कंपनी के कुल कारोबार का लगभग 70 फीसदी है।- घडिय़ों के लिए ग्लास बनाने वाले  कारखाने में काम किया- 2003 में खुद की कंपनी बनाई-इस कंपनी में अब 60 हजार लोग काम करते हैं।- अब इसकी 10 कंपनियां हैं- 2014 में नौ अरब डॉलर हो गया-जो एपल और सैमसंग कंपनी के कुल कारोबार का लगभग 70 फीसदी है-शेयर बाजार में लगातार बढ़ रही है कंपनी शेयर की कीमत

    Read more »
  • सरकोजी से चुनाव खर्च मामले में दोबारा पूछताछ

    पेरिस। फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति निकोलस सरकोजी से पेरिस की एक अदालत में बुधवार को न्यायाधीश पूछताछ करेंगे। यह पूछताछ 2012 में उनके राष्ट्रपति पद के दूसरे कार्यकाल के चुनाव प्रचार में खर्च हुए धन के घोटाले के मामले में होगी। समाचार वेबसाइट द लोकल की रपट के मुताबिक, जांच में दावा किया गया है कि यूनियन फॉर अ पॉपुलर मूवमेंट पार्टी (यूएमपी) को फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति पर लगाए गए दंड को नहीं चुकाना चाहिए था। इस पार्टी के मौजूदा अध्यक्ष सरकोजी हैं। आरोप है कि सरकोजी ने पूर्व के चुनाव में अनुमति से अधिक धन खर्च किया है। यूएमपी पर आरोप है कि सरकोजी पर लगाए गए दंड की भरपाई वह जनता के धन से कर रही है। इसके अलावा पार्टी के पूर्व प्रमुख जीन फ्रेंकोइस कोप और पूर्व कोषाध्यक्ष कैथरीन वौतरिन पर भी इस संबंध में आरोप लगाए गए हैं।  न्यायाधीश द्वारा पूछताछ किए जाने लिए पूर्व राष्ट्रपति सरकोजी बुधवार को सुबह के समय मुख्य पेरिस न्यायालय के वित्तीय अनुभाग पहुंचे।  सरकोजी के चुनाव अभियान पर कार्यक्रमों के बिल में हेराफेरी का भी आरोप है। सरकोजी ने हालांकि धोखाधड़ी के इस मामले में खुद की भागेदारी का खंडन किया है। आरोप है कि कानूनी रूप से उन्हें चुनाव में जितना धन खर्च करने की अनुमति थी उन्होंने उससे 50 फीसदी अधिक धन खर्च किया है। 

    Read more »
  • दुनिया में सबसे बुजुर्ग 117 वर्षीय जापानी महिला का निधन

    टोक्यो। दुनिया में सर्वाधिक बुजुर्ग जापानी महिला मिसाओ ओकावा का ओसाका में बुधवार को 117 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। वह जापान की निवासी थी और उनका नाम गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्डस में दर्ज था। समाचार एजेंसी ऐफे ने जापान के राष्ट्रीय प्रसारक एनएचके के हवाले से बताया कि चिकित्सकों के मुताबिक उनका निधन ओकावा के एक वृद्धाश्रम में हुआ, जहां पर वह काफी समय से रह रही थीं।  ओकावा को फरवरी 2013 में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्डस द्वारा दुनिया की सबसे बुजुर्ग जीवित महिला के रूप में पहचाना गया था। उन्होंने जापानी मीडिया में विभिन्न अवसरों पर बताया कि उनकी लंबी उम्र का राज हर दिन कम से कम आठ घंटे की तनाव मुक्त नींद और उचित खानपान था। अगस्त 2013 में ही जापान के 116 वर्षीय जिरोमोन किमुरा के निधन के बाद उन्हें दुनिया की सबसे वृद्ध जीवित शख्सियत के खिताब से नवाजा गया।  अभी एक माह पहले ही उन्होंने अपना 117वां जन्मदिन मनाया था। इस दौरान उनके परिवार के सदस्य, पड़ोसी और स्थानीय अधिकारी भी मौजूद रहे थे। ओकावा का जन्म पांच मार्च, 1898 को ओसाका में हुआ था। उनके तीन बेटे, चार पोते और छह पड़पोते हैं।  110 वर्ष की उम्र तक वह चल फिर सकती थीं। लेकिन पिछले कुछ सालों से वह व्हील चेयर पर थीं और एक वृद्धाश्रम में रह रही थीं।उनके जन्मदिन पर एक सरकारी अधिकारी ने जब उनसे पूछा था कि जिंदगी के 117 सालों के बारे में कैसा महसूस कर रही हैं, तो उन्होंने कहा था, यह उम्र तो बल्कि मुझे कम लग रही है। विश्व के सबसे वृद्ध जीवित पुरुष का खिताब भी जापान के एक व्यक्ति के नाम है। सकारी मोमोई पांच फरवरी को 112 साल के हुए हैं।

    Read more »
  • ईरानी परमाणु कार्यक्रम के प्रमुख पक्षों पर सहमति बनी : रूस

    लौसेन। रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा है कि विश्व की छह शक्तियों और ईरान के बीच उसके विवादित परमाणु कार्यक्रम के प्रमुख पक्षों पर सहमति बन गई है। समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, लावरोव ने मंगलवार को कहा कि अब पर्याप्त भरोसे के साथ इस बात की घोषणा की जा सकती है कि प्रमुख मुद्दों पर सहमति बन गई है। उन्होंने कहा कि समझौते के तकनीकी विवरणों पर अब से लेकर जून के अंत तक काम किया जाएगा। ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जवाद जारिफ ने मंगलवार रात संवाददाताओं से कहा था कि मंगलवार को परमाणु वार्ता में काफी प्रगति हुई है और उन्हें बुधवार को समझौते को लेकर बातचीत के निष्कर्ष पर पहुंचने की आशा है। ईरान और विश्व की छह महाशक्तियों (अमेरिका, ब्रिटेन, चीन, रूस, फ्रांस और जर्मनी) के बीच चल रही परमाणु वार्ता अपनी निर्धारित समय सीमा 31 मार्च तक पूरी नहीं हो सकी थी, जिसके बाद वार्ता की अवधि बुधवार, एक अप्रैल के लिए बढ़ा दी गई। फ्रांस और जर्मनी ने भी मंगलवार को परमाणु वार्ता की अवधि एक दिन आगे बढ़ाने की घोषणा की थी। फ्रांस के विदेश मंत्री लॉरेंट फैबियस ने कहा, हम काफी प्रगति कर चुके हैं, लेकिन मुद्दा अब भी जटिल और लंबा है। इस बीच, ईरान के एक वार्ताकार ने स्वीकार किया कि तेहरान के परमाणु कार्यक्रम पर किसी व्यापक समझौते तक पहुंचने से पहले कई मुद्दे सुलझाने हैं। इन सभी मुद्दों को सुलझाए बगैर कोई समझौता संभव नहीं हो पाएगा।

    Read more »
  • पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत

    नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को राहत प्रदान करते हुए उच्चतम न्यायालय ने ओडिशा में तालाबीरा 2 कोल ब्लाक को हिंडाल्को कंपनी को आवंटित करने संबंधी मामले में सिंह को बतौर आरोपी तलब करने के निचली अदालत के आदेश पर आज रोक लगा दी। वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल द्वारा आपराधिक प्रक्रिया संहिता के तहत जरूरी मंजूरी के अभाव का उल्लेख करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री को तलब किए जाने की वैधता पर सवाल उठाए जाने के बाद शीर्ष अदालत ने समन पर रोक लगायी।सिब्बल ने यह भी कहा कि कोयला ब्लाक का आवंटन बिना किसी आपराधिक नीयत के एक प्रशासनिक गतिविधि थी। समन पर रोक का शीर्ष अदालत का आदेश हिंडाल्को कंपनी के अध्यक्ष कुमार मंगलम बिरला, पूर्व कोयला सचिव पीसी पारिख और तीन अन्य पर भी लागू होता है। न्यायाधीश वी गोपाला गौड़ा और सी नागप्पन की पीठ ने पूर्व प्रधानमंत्री की पैरवी करने वाले सिब्बल तथा मामले में अन्य वकीलों की जिरह को सुनने के बाद कहा, हम सभी छह याचिकाओं पर नोटिस जारी करते हैं। निचली अदालत का आदेश स्थगित रहेगा।’’ अदालत की कार्यवाही के दौरान 82 वर्षीय मनमोहन सिंह की बेटियां उपिन्दर सिंह और दमन सिंह वहां मौजूद थीं। पीठ ने निचली अदालत में चल रही कार्यवाही पर भी रोक लगा दी और साथ ही भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 13 (1) (डी) (3) की संवैधानिक वैधता को चुनौती देने वाली याचिका पर केंद्र को नोटिस जारी किया। आरोपियों के रूप में तलब अन्य लोगों में हिंडाल्को और उसके अधिकारी शुभेंदु अमिताभ और डी भट्टाचार्य शामिल हैं। विशेष सीबीआई न्यायाधीश भरत पाराशर ने सभी छह को आठ अप्रैल को अदालत के समक्ष हाजिर होने के लिए तलब किया था।सिब्बल ने 35 मिनट तक चली कार्यवाही के शुरूआत में ही कहा, मैं यह स्वीकार करूंगा कि मैं यह पता नहीं लगा पाया हूं कि इस मामले में याचिकाकर्ता ने क्या गैरकानूनी काम किया है।’’ उन्होंने कहा कि एक खदान का आवंटन गैरकानूनी कार्रवाई नहीं है। उन्होंने दलील दी कि प्रधानमंत्री की प्रशासनिक गतिविधियों को इस आधार पर त्रुटिपूर्ण नहीं कहा जा सकता कि उन्होंने स्क्र्रीनिंग कमेटी द्वारा अपनायी गयी प्रक्र्रिया या सिफारिशों का अनुसरण नहीं किया। इस संदर्भ में उन्होंने उच्चतम न्यायालय के उस पूर्व के फैसले का हवाला दिया जिसके जरिए सभी कोयला ब्लाक आवंटनों को इस आधार पर निरस्त कर दिया गया था कि स्क्र्रीनिंग कमेटी की कार्यविधि गैरकानूनी थी। सिब्बल ने कहा, जबकि निचली अदालत ने अपने आदेश में कहा है कि आपने स्क्रीनिंग कमेटी का अनुसरण नहीं किया और यह कानून के खिलाफ है।’’ उन्होंने साथ ही कहा कि प्रधानमंत्री को तलब करने का आदेश ‘‘जन तार्किकता’’ की कसौटी पर खरा नहीं उतरता। उन्होंने यह भी कहा कि निचली अदालत का आदेश आपराधिक प्रक्रिया संहिता और भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत एक लोक सेवक पर मुकदमा चलाने के लिए पूर्व अनुमति की जरूरत के प्रावधानों की भी अनदेखी करता है। किसी अपराध के आवश्यक तत्वों का जिक्र करते हुए सिब्बल ने कहा कि ‘‘आरोपी व्यक्तियों द्वारा कोई गैर कानूनी कार्य को अंजाम देने के लिए किसी सांठगांठ का भी कोई उल्लेख नहीं है।’’ सुनवाई के दौरान पीठ ने सिंह के वकील से कहा कि वह एक लोकसेवक के खिलाफ मुकदमा चलाने के लिए अनुमति प्रदान करने संबंधी प्रावधानों पर उसे संतुष्ट करें।

    Read more »
  • जब किसान परेशान थे तब मिलने क्यों नहीं आईं सोनिया: शिवराज

    भोपाल। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के ओला एवं अतिवृष्टि प्रभावित मध्य प्रदेश के नीमच जिले के दौरे से एक दिन पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उनकी यात्रा का स्वागत करते हुए कहा है कि पिछले कुछ सालों, विशेषकर संप्रग सरकार के दौरान जब प्रदेश में प्राकृतिक आपदा से किसान परेशान रहे, तब वह कहां थीं। गौरतलब है कि कांग्रेस अध्यक्ष मध्य प्रदेश के ओला एवं अतिवृष्टि प्रभावित किसानों का हालचाल जानने कल नीमच पहुंच रही हैं।मुख्यमंत्री चौहान ने आज कहा, ‘‘वह हमारी मेहमान हैं, इसलिए मध्य प्रदेश में उनका स्वागत है। लेकिन वह तब कहां थीं, जब पिछले साल विशेषकर संप्रग सरकार के कार्यकाल में मध्य प्रदेश पर इससे कहीं अधिक बड़ी प्राकृतिक आपदा आई थी और किसान बेहद परेशान थे’’। उन्होंने कहा, ‘‘जब संप्रग सरकार सत्ता में थी, तब ऐसी ही प्राकृतिक आपदा के वक्त हमें (मध्य प्रदेश) फसलों को हुए नुकसान की तुलना में बेहद कम मुआवजा दिया गया और केन्द्र ने अपनी मदद को उचित ठहराने के लिए कई नियमों का हवाला दिया था’’। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘पिछले साल ऐसी ही आपदा के दौरान मध्य प्रदेश ने अपने किसानों को मुआवजे के तौर पर लगभग 5487 करोड़ रूपये वितरित किए, जिसमें 3300 करोड़ रूपये राहत और 2187 करोड़ रूपये फसल बीमा के थे। हमारे अलावा अन्य कोई राज्य ऐसा नहीं है, जिसने आपदाग्रस्त अपने किसानों को इतना पैसा राहत-मुआवजा के तौर पर दिया हो’’। उन्होंने कहा, ‘‘यहां तक कि किसानों को राहत पहुंचाने के लिए हमने राजस्व पुस्तक परिपत्र (आरबीसी) के अनेक प्रावधानों को शिथिल किया, ताकि हम किसानों को अधिक से अधिक मदद दे सकें। ऐसा देश में इससे पहले कहीं नहीं हुआ’’।चौहान ने कहा, ‘‘इस साल ओला एवं बेमौसम बारिश से लगभग चार लाख हैक्टेयर फसल प्रभावित हुई है, जबकि पिछले साल यह आंकड़ा 35 लाख हैक्टेयर का था। लेकिन उस समय सोनिया गांधी, पीडि़त किसानों का हाल जानने यहां नहीं आईं’’। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे समझ नहीं आ रहा है कि उन्हें (सोनिया) अब किसानों की याद क्यों आई है। मुख्यमंत्री ने कांग्रेस के इस कदम को भी उपहासजनक बताया, जिसके तहत उसने विधानसभा का एक दिवसीय सत्र समाप्ति के बावजूद सदन के अंदर चार दिनों तक धरना दिया था। उन्होंने कहा, ‘‘इस तरह विरोध प्रदर्शन के लिए सदन का उपयोग करना उचित नहीं है और वह भी तब जब सत्रावसान हो चुका हो। आश्चर्यजनक तो यह भी रहा कि पीडि़त किसानों की जिन मांगों को लेकर कांग्रेस विधायक धरना दे रहे थे, उन्हें सरकार पहले ही पूरा कर चुकी थी’’।

    Read more »
  • लालू का बड़ा बयान, चुनाव से पहले होगा एक झंडा, एक निशान व एक नेता

    पटना। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने कहा कि विधान सभा चुनाव से पहले पुराने जनता दल परिवार के छह दलों राजद, जदयू, सपा, जदएस, भालोद, रासपा का विलय हो जाएगा। इसके अलावा तृणमूल कांग्रेस सहित अन्य दलों के साथ गठबंधन होगा। एक झंडा,एक निशान व एक नेता देश की मांग है। राजद के संगठनात्मक चुनाव से विलय में कोई दिक्कत नहीं है। इससे नए दल को ताकत मिलेगी। लालू भाजपा पर जमकर बरसे। कहा हमारा एकमात्र लक्ष्य भाजपा को शिकस्त देना है। विलय से पहले दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरना देकर हमने अपनी एकजुटता भी दिखाई है। आगे का काम भी चल रहा है।लालू ने बुधवार को दिल्ली से पटना पहुंचने के बाद संवाददाताओं से बात कर रहे थे। उन्होंने 5 अप्रैल को राजद की प्रस्तावित राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के संबंध में कहा कि इस दिन संगठनात्मक चुनाव के कार्यक्रम तय होंगे। देश के समक्ष उत्पन्न चुनौतियों को विस्तार से रखा जाएगा। विलय को लेकर प्रक्रिया शुरू है। कोई संशय नहीं है। विलय से ही जनता का विश्वास हासिल होता है। गठबंधन प्रभावकारी नहीं होता है। विलय के लिए जिला स्तर से प्रस्ताव पारित किए जाएंगे। विलय कभी व किसी दिन भी हो सकता है। इसकी तिथि बताना मुश्किल है। इतना तय है कि चुनाव से पहले हो जाएगा। राजद के संगठनात्मक चुनाव पर कहा कि चुने गए पार्टी के पदाधिकारियों में से ही नयी पार्टी के अध्यक्ष,उपाध्यक्ष, महामंत्री ,संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष व कार्यकारिणी के सदस्य बनाए जाएंगे। दलों के बीच संतुलन कायम रखते हुए पदों का बंटवारा हो जाएगा। लालू ने कहा कि मुझे नए दल में कोई पद नहीं भी मिलेगा तो काम करूंगा। हमलोगों में अहम का टकराव नहीं होगा। निशाने पर भाजपा है। दिल्ली की जनता ने आप पार्टी को नहीं बल्कि भाजपा के खिलाफ मतदान किया। उन्होंने आप पार्टी से गठबंधन के संबंध में पूछे जाने पर कहा कि मुझे थिंक टैंक की जरूरत नहीं है। व्यवस्था परिवर्तन के लिए जेपी आंदोलन हुआ। उसका जो हश्र हुआ वही आप पार्टी का हो रहा है।उन्होंने कहा कि विलय के बाद जीतन राम मांझी द्वारा जदयू को बनाए रखने पर कहा कि जदयू का चुनाव चिह्न तो चुनाव आयोग द्वारा जब्त (फ्रीज) हो जाएगा। उन्होंने तृतीय श्रेणी में झारखंड के बाहर के लोगों को नौकरी से वंचित रखने संबंधित झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास की घोषणा पर कहा कि वे शिवसेना की बोली बोल रहे हैं। लालू ने केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू द्वारा सुशील कुमार मोदी के नेतृत्व में विधान सभा का चुनाव लडऩे की बात पर कहा कि झारखंड में जब वैश्य मुख्यमंत्री हैं तो बिहार में सुशील मोदी किस आधार पर मुख्यमंत्री बनेंगे।

    Read more »
  • नई विदेश व्यापार नीति जारी

    नई दिल्ली।  देश की नई विदेश व्यापार नीति बुधवार को जारी कर दी गई। केंद्रीय वाणिज्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने विदेश व्यापार नीति-2015-20 जारी की और कहा कि 2020 तक वह विश्व व्यापार में भारत को एक महत्वपूर्ण कारक बनाना चाहती हैं। निर्यात बढ़ाने की योजना की रूपरेखा के अंतर्गत सरकार ने सभी पुरानी निर्यात संवर्धन योजनाओं का दो योजनाओं में वर्गीकृत कर दिया है -भारत से मर्के डाइज निर्यात योजना (एमईआईएस) और सेवा निर्यात के लिए सव्र्ड फ्रॉम इंडिया योजना (एसएफआईएस)। सेवा निर्यातकों को दी जाने वाली आयात शुल्क छूट पर्ची का उपयोग सेवा कर, सीमा शुल्क और उत्पाद शुल्क भुगतान में किया जा सकेगा। सीतारमण ने कहा, इन योजनाओं (एमईआईएस, एसईआईएस) के तहत किसी भी छूट पर्ची के साथ कोई शर्त नहीं जुड़ी होगी। यही नहीं विशेष आर्थिक क्षेत्र (सेज) को बढ़ावा देने के लिए उसके अंदर आने वाली इकाइयां अब एमईआईएस और एसईआईएस योजनाओं का लाभ उठा सकेंगी। विदेश व्यापार नीति पांच साल के लिए प्रभावी रहेगी और इसकी हर साल समीक्षा होगी। पिछली नीति 2009-2014 अवधि में प्रभावी थी। वर्ष 2014 में हालांकि न तो नई नीति जारी हुई और न ही पुरानी नीति की समीक्षा की गई।

    Read more »
  • आईसीसी अध्यक्ष पद से कमाल का इस्तीफा

    ढाका। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के अध्यक्ष बांग्लादेश के मुस्तफा कमाल ने बुधवार को अपने पद से इस्तीफा देने की घोषणा कर दी। कमाल विश्व कप ट्रॉफी प्रदान करने का मौका आईसीसी चेयरमैन एन. श्रीनिवासन को दिए जाने से नाराज थे। बांग्लादेश की समाचार वेबसाइट बीडीन्यूज24 डॉट कॉम की एक रपट के अनुसार, एक संवाददाता सम्मेलन में कमाल ने कहा कि वह आईसीसी नियमों के उल्लंघन के विरोध में अपना इस्तीफा दे रहे हैं। कमाल के मुताबिक यह उनका आखिरी फैसला है और इसमें कोई बदलाव नहीं होगा। उल्लेखनीय है कि रविवार को विश्व कप फाइनल के बाद आईसीसी चेयरमैन एन. श्रीनिवासन ने विश्व कप ट्रॉफी विजेता टीम आस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लर्का को प्रदान की थी। कमाल के अनुसार, यह आईसीसी के नियमों का उल्लंघन है। पूर्व में भी उन्होंने इस पर नाराजगी जताते हुए इसे अपने अधिकारों का हनन बताया था। कमाल ने पत्रकारों से कहा कि आईसीसी की नियमावली की धारा 3.3 के अनुसार केवल अध्यक्ष को ही विश्व कप फाइनल जैसे मुकाबलों में ट्रॉफी प्रदान करने का हक है। कमाल ने कहा, नियमों के अनुसार मुझे 29 मार्च को मेलबर्न में विजेता टीम को ट्रॉफी प्रदान करना चाहिए था लेकिन मैं ऐसा नहीं कर सका। अब मैं आपसे एक पूर्व अध्यक्ष के रूप में बात कर रहा हूं। मैं ऐसे लोगों के साथ काम नहीं कर सकता जो नियमों का उल्लंघन करते हैं। आईसीसी के नियमों में जनवरी में हुए बदलाव के अनुसार विश्व कप ट्रॉफी अध्यक्ष द्वारा प्रदान की जानी चाहिए। आस्ट्रेलिया मेलबर्न क्रिकेट मैदान (एमसीजी) पर खेले गए फाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड को सात विकेट से हराकर पांचवीं बार विश्व खिताब जीतने में कामयाब रहा। ऐसा माना जा रहा है कि कमाल द्वारा भारत-बांग्लादेश के बीच हुए मैच में अंपायरों के फैसलों की आलोचना करने से पैदा हुए विवाद का श्रीनिवासन ने फायदा उठाया और ट्रॉफी प्रदान करने के लिए आईसीसी के अन्य सदस्यों का समर्थन हासिल करने में कामयाब रहे। पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान कमाल वहां मौजूद नहीं थे। कमाल ने दो दिन पहले ही आईसीसी में चल रही शरारतों को उजागर करने की चेतावनी भी दी है। बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) ने भी भारत-बांग्लादेश के बीच हुए विश्व कप के क्वार्टर फाइनल मैच के दौरान हुई विवादित अंपायरिंग की शिकायत आधिकारिक तौर पर मंगलवार को आईसीसी से दर्ज कराई। बीसीबी के मुख्य कार्यकारी निजामुद्दीन चौधरी ने मंगलवार को बताया कि बोर्ड 19 मार्च को हुए इस मैच में विवादित अंपायरिंग से संबंधित शिकायत दर्ज करा चुका है।

    Read more »
  • सायना का विजयी आगाज

    कुआलालंपुर। इंडिया ओपन में शानदार प्रदर्शन कर विश्व वरीयता में शीर्ष स्थान सुनिश्चित कर चुकीं भारतीय महिला बैडमिंटन स्टार सायना नेहवाल बुधवार को वर्ष के तीसरे वर्ल्ड सुपरसीरीज बैडमिंटन टूर्नामेंट मलेशिया ओपन में विजयी आगाज करने में सफल रहीं। सायना ने पुत्रा स्टेडियम के कोर्ट-2 में हुए पहले दौर के मुकाबले में 47वीं विश्व वरीयता प्राप्त इंडोनेशिया की मारिया फेबे कुसुमस्तुती को आसानी से हराकर दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया। टूर्नामेंट में तीसरी वरीय सायना ने मारिया को आसानी से सीधे गेमों में 21-13, 21-16 से हराया। सायना को यह जीत दर्ज करने में 37 मिनट लगे। पूरे मैच में सायना का दबदबा दिखा और पहले ही गेम की शुरुआत में वह 7-0 की बढ़त हासिल करने में कामयाब रहीं। इसके बाद सायना ने इस अंतर और बड़ा करते हुए पहले 11-2 और फिर 15-4 की बढ़त बनाई।मारिया ने हालांकि यहां कुछ संघर्ष दिखाया और इस बढ़त को कम कर 12-17 तक लाने में कामयाब रहीं। सायना ने इसके बाद कोई और मौका दिए बगैर पहला गेम 21-13 से जीत लिया। दूसरे गेम में मारिया ने सानिया को अच्छी चुनौती दी और 15-15 से स्कोर बराबर रहने तक एक-एक अंक के लिए कड़ा संघर्ष किया। सायना ने हालांकि धैर्य से काम लेते हुए इसके बाद आखिरी छह अंक हासिल करने में सिर्फ एक अंक गंवाए और गेम के साथ ही मैच अपने नाम कर लिया। सायना अब दूसरे दौर में चीन की याओ ज्यू से भिड़ेंगी।

    Read more »
  • मियामी ओपन के सेमीफाइनल में पहुंची सानिया-हिंगिस

    मियामी। शीर्ष भारतीय महिला टेनिस स्टार सानिया मिर्जा ने स्विट्जरलैंड की अपनी जोड़ीदार मार्टिना हिंगिस के साथ मियामी ओपन के महिला युगल वर्ग के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया। हाल ही में जोड़ी बनाने वाली सानिया-हिंगिस ने बीते सप्ताह इंडियन वेल्स में अपना पहला खिताब जीता। शानदार फॉर्म में चल रही शीर्ष वरीय भारतीय-स्विस जोड़ी ने मंगलवार को हुए क्वार्टर फाइनल मैच में एनस्तासिया एवं एरिना रोडियोनोवा की आस्ट्रेलियाई जोड़ी की सीधे सेटों में 6-3, 6-4 से मात दी। रोडियोनोवा बहनों ने हालांकि सानिया-हिंगिस की जोड़ी को अच्छी चुनौती दी और मैच एक घंटा छह मिनट तक खिंचा। रोडियोनोवा बहनें दूसरे दौर के मैच में गारबाइन मुगूरुजा और कार्ला सुआरेज नैवरो की पांचवीं वरीय स्पेनिश जोड़ी को हराकर क्वार्टर फाइनल में पहुंची थीं। सानिया-हिंगिस की जोड़ी अब सेमीफाइनल मैच में हंगरी की टीमिया बाबोस और फ्रांस की क्रिस्टीना म्लादेनोविक की सातवीं वरीय जोड़ी से भिड़ेगी।

    Read more »
  • ओबामा की केन्याई दादी को है पोते का इंतजार

    नैरोबी : अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की केन्या में रहने वाली दादी ने उनकी इस पूर्वी अफ्रीकी देश की प्रस्तावित यात्रा का स्वागत करते हुए कहा कि ओबामा ने बरसों पहले जो वादा किया था वह उसे पूरा करने जा रहे हैं। ओबामा की दादी को लोग ममा साराह नाम से जानते हैं।अपने जीवन के 90वें दशक से गुजर रहीं साराह ऑनयांगो ओबामा ने कहा, ‘उसने (बराक ओबामा) मुझसे कहा था कि वह देश में राजनीतिक स्थिरता का इंतजार कर रहा है ताकि वह यहां आ सके।’ उन्होंने यह बात इस हफ्ते के शुरूआत में ओबामा की जुलाई की प्रस्तावित यात्रा के बारे में कही।ममा साराह, ओबामा के दादा हुसैन ऑनयांगो ओबामा की तीसरी पत्नी हैं। वह केन्या के एक छोटे से गांव कोगेलो में रहती हैं जहां राष्ट्रपति ओबामा के कई और केन्याई रिश्तेदार भी रहते हैं। ओबामा के दिवंगत पिता का जन्म कोगेलो में ही हुआ था और बाद में वह पढ़ाई के लिए विदेश चले गए थे। बाद में हवाई में उनकी मुलाकात ओबामा की अमेरिकी मां से हुई थी।ममा साराह का ओबामा के साथ खून का रिश्ता नहीं है फिर भी ओबामा उन्हें ‘दादी’ (ग्रैनी) कहकर बुलाते हैं। राष्ट्रपति बनने से पहले ओबामा उनसे मिले थे। एक केन्याई अखबार डेली नेशन से ममा साराह ने कहा, ‘हालांकि हम उसकी यात्रा को लेकर उत्साहित हैं, लेकिन हम उसे कोगेलो आने को मजबूर नहीं करेंगे।’सोमवार को व्हाइट हाउस ने घोषणा की थी कि जुलाई में ओबामा केन्या की यात्रा पर जाएंगे जहां वह एक नव उद्यमियों की एक बैठक में हिस्सा लेंगे। यह ओबामा की 2009 में पद ग्रहण करने के बाद केन्या की पहली और अफ्रीका की चौथी यात्रा होगी।

    Read more »
  • केन्या में विश्वविद्यालय पर हमला, 17 मरे

    नैरोबी| पूर्वोत्तर केन्या के एक विश्वविद्यालय पर कथित तौर पर अल शबाब आतंकवादी समूह के आतंकवादियों के हमले में कम से कम 17 लोगों की मौत हो गई, जबकि 60 घायल हो गए। यह हमला गुरुवार सुबह 5.30 बजे हुआ। अधिकारियों के मुताबिक, 280 छात्रों को बचा लिया गया है, जबकि 535 छात्रों को अभी भी बाहर निकालना बाकी है।समाचार एजेंसी सिन्हुआ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अधिकारियों ने कहा है कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है, क्योंकि आतंकवादियों ने कई घंटों से छात्रों को बंधक बना रखा है और सुरक्षाबलों से उनकी मुठभेड़ जारी है। पुलिस महानिरीक्षक जोसेफ बोइनेट ने कहा कि पुलिस और सेना ने विश्वविद्यालय परिसर को चारों ओर से घेर लिया है और बंदूकधारियों को बाहर निकालने के प्रयास किए जा रहे हैं। अल कायदा से संबद्ध सोमालिया के अल-शबाब आतंकवादी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी लेने का दावा किया है।अपने रेडियो स्टेशन से उन्होंने कहा, "हमने कई लोगों की हत्या कर दी और केन्याई लोग जब इसे देखेंगे तो हैरान रह जाएंगे।"वहीं, आंतरिक कैबिनेट सचिव जोसेफ एनकासेरी ने गेरिसा में संवाददाताओं से कहा कि घटनास्थल से फरार होने की कोशिश के दौरान एक संदिग्ध को गिरफ्तार कर लिया गया और हमले के बारे में उससे पूछताछ जारी है।उन्होंने संवाददाताओं से कहा, "संस्थान में 815 छात्र और 60 कर्मचारी हैं। सुरक्षाकर्मियों ने सफलतापूर्वक 280 छात्रों तथा सभी कर्मचारियों को बाहर निकाल लिया है।"हमला परिसर के अंदर बने मस्जिद से शुरू हुआ, जहां हमलावरों ने मस्जिद के मौलानाओं की गोली मार कर हत्या कर दी।गोलीबारी से बचे छात्रों ने बताया कि परिसर में कम से कम पांच हमलावर हैं। बहुत से अन्य छात्र और शिक्षक अभी भी बंधक बने हुए हैं।बोइनेट ने अपने ट्विटर अकाउंट पर जारी एक बयान में कहा, "छात्रावास में घुसते समय हमलावरों को मुंहतोड़ जवाब का सामना करना पड़ा। नेशनल पुलिस सर्विस कमीशन (एनपीएस) के अधिकारियों तथा अन्य सुरक्षा एजेंसियों को मिलाकर गठित एक संयुक्त बल घटनास्थल पर पहुंचा और छात्रावास में हमलवारों को मार गिराने की कार्रवाई के लिए मोर्चा संभाल लिया।"केन्या डिफेंस फोर्स (केडीएफ) तथा पुलिस भी विश्वविद्यालय परिसर में दाखिल हुई। इस बीच, केन्या की पुलिस ने गुरुवार को अल शबाब के शीर्ष आतंकवादी मोहम्मद कुनो का फोटो लोगों में वितरित किया, जिसे इस हमले का सरगना माना जा रहा है। पुलिस ने मोहम्मद कुनो के सिर पर 54,350 डॉलर का इनाम रखा है, जो दक्षिणी सोमालिया के निजले जुबा क्षेत्र में अल शबाब का कमांडर है। उसपर केन्या पर हमले का आरोप लगाया गया है। पुलिस ने कहा, "कुनो सीमा पर आतंकवादियों को निर्देशित करता है और देश में घुसपैठ के लिए वही जिम्मेदार है। उसने हाल के दिनों में उत्तरी केन्या तथा तटीय इलाके खासकर गेरिसा, मांडेरा तथा लामू में हमले तेज कर दिए हैं।"सूत्रों ने कहा है कि विश्वविद्यालय पर नजर रखने में संदिग्ध की दो स्थानीय युवकों ने मदद की। पुलिस के मुताबिक, कुनो बेहद धार्मिक किस्म का व्यक्ति है और कई सालों तक वह एक मदरसे में शिक्षक रहा है। कुनो बाद में गेरिसा के मदरसा नाजा में शिक्षक बन गया। इस्लामिक कोर्ट्स यूनियन (आईसीयू) के विचारों से प्रेरित होने के बाद बाद वह अल शबाब में शामिल हो गया। खबर है कि गेरिसा में जितने भी हमले हुए हैं, उनमें मदरसा नाजा के पूर्व छात्रों का हाथ रहा है। केन्या में व्यापक तौर पर आतंकवादी नेटवर्क स्थापित करने का श्रेय कुनो को दिया जाता है। पिछले साल हुए बस पर हमले की जिम्मेदारी कुनो ने ली थी, जिसमें 28 लोग मारे गए थे। 

    Read more »
  • तमिलनाड़ु में सड़क हादसे मे 9 की मौत,1 गंभीर

    चेन्नई : शुक्रवार रात एक सड़क हादसे मे 9 लोगो की मौत हो गयी। खबर के मुताबिक पता चला है की तमिलनाड़ु के डिंडीगुल जिले में शुक्रवार देर रात एक यात्री वाहन की दूध के टैंकर से टक्कर हो गई, जिसमें नौ लोगों की मौत हो गई। दुर्घटना चेन्नई से करीब 450 किलोमीटर दूर डिंडीगुल जिले में देर रात करीब 1.30 बजे हुई।बताया जा रहा है की, कोडेकनाल से 10 लोगों को लेकर निकला यात्री वाहन वाठालगुंडू राजमार्ग पर एक अन्य वाहन को ओवरटेक करने के चक्कर में दूध के टैंकर से जा टकराया, जिससे दोनों के बीच  जोरदार टक्कर हो गयी। यात्री वाहन में सवार 10 में से नौ लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक घायल व्यक्ति को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

    Read more »
  • ईरान के परमाणु कार्यक्रम पर समझौते के लिए बनी सहमति

    लौसेन। ईरान के विवादास्पद परमाणु कार्यक्रम को लेकर एक व्यापक समझौते तक पहुंचने के लिए स्विट्जरलैंड के शहर में ईरान तथा विश्व की छह महाशक्तियों के साथ लंबे समय तक चली वार्ता का एक सार्थक नतीजा निकला है। ईरान तथा छह देशों के बीच ऐतिहासिक समझौते की रूपरेखा तैयार करने पर सहमति बन गई है, जिसके तहत ईरान अपने परमाणु कार्यक्रम पर रोक लगाने के लिए तैयार हो गया है और अमेरिका तथा अन्य देशों ने उस पर लगाए गए प्रतिबंधों को हटाने पर सहमति दी है।   'सीएनएन' की रिपोर्ट के अनुसार, स्विट्जरलैंड के लौसेन शहर में ईरान तथा पी5+1 समूह (अमेरिका, फ्रांस, रूस, चीन, ब्रिटेन और जर्मनी) के देशों के बीच हुई मैराथन वार्ता के बाद गुरुवार को उनके बीच समझौते की रूपरेखा तैयार करने पर सहमति बनी। समझौते को जून तक अंतिम रूप दिए जाने की समयसीमा निर्धारित की गई है।   वार्ता के बाद यूरोपीय संघ की प्रतिनिधि फेडरिका मॉघेरिनी तथा ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जवाद जरीफ ने एक संयुक्त बयान में समझौते की रूपरेखा तैयार करने को लेकर बनी सहमति की घोषणा की।   समझौते की प्रमुख बातों का जिक्र करते हुए मॉघेरिनी ने कहा कि इसके तहत ईरान के परमाणु क्षमता एवं भंडार को सीमित किया जाएगा। इसका एकमात्र परमाणु संवर्धन केंद्र ईरान के शहर नतांज में होगा, जहां शांतिपूर्ण उद्देश्यों के लिए परमाणु संवर्धन की अनुमति होगी। अन्य केंद्रों को अन्य इस्तेमाल में परिवर्तित कर दिया जाएगा। अमेरिका के विदेश मंत्री जॉन केरी ने भी ट्वीट कर कहा, "समझौते के लिए महत्वपूर्ण मुद्दों का समाधान कर लिया गया है।" इससे पहले ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने भी ट्वीट कर कहा था, "ईरान के परमाणु कार्यक्रम पर समझौते से संबंधित प्रमुख मुद्दों का समाधान कर लिया गया है। समझौते का खाका तैयार करने का काम जल्द शुरू हो जाएगा, ताकि 30 जून तक इसे पूरा किया जा सके।"

    Read more »
  • सोनिया ने केन्या में विश्वविद्यालय पर हमले की निंदा की

    नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने केन्या के गेरिसा यूनिवर्सिटी कॉलेज में गुरुवार को हुए आतंकवादी हमले की निंदा की है। कांग्रेस ने शुक्रवार को ट्वीट किया, "कांग्रेस अध्यक्ष ने हमले पर दुख और पीड़ा व्यक्त करते हुए कहा है कि शिक्षा परिसर में इस तरह के हमलों को केवल बर्बर और अमानवीय गिरोह या व्यक्ति ही अंजाम दे सकते हैं।"  एक अन्य ट्वीट में कहा गया है, "कोई भी विचारधारा या धर्म इस तरह की गतिविधियों को जायज नहीं ठहरा सकती और न ही उसे ऐसा करना चाहिए।"  केन्या में गुरुवार को सशस्त्र हमलों ने विश्वविद्यालय पर हमला कर दिया था, जिसमें 147 लोगों की मौत हो गई। हमले की जिम्मेदारी आतंकवादी संगठन अल-शबाब ने ली है।

    Read more »
  • यमन: 358 भारतीय स्वदेश लौटे, 300 और लौटेंगे

    नई दिल्ली। उपद्रवग्रस्त यमन से 300 भारतीय नागरिकों को वायुमार्ग से सुरक्षित निकाला जाएगा। इससे पहले गुरुवार की सुबह दो विमानों में सवार होकर स्वदेश लौटने के बाद 358 भारतीयों ने राहत की सांस ली। निरंतर बमबारी हो रहे इलाके से अपने घर में वापस आना उनके लिए राहत भरी बात है। सबसे बड़े परिवहन विमान सी-17 (ग्लोबमास्टर) को अपने नागरिकों को सुरक्षित निकालने के अभियान में लगाया गया है। 190 भारतीय गुरुवार को मुंबई जबकि 168 भारतीय केरल के कोच्चि पहुंचाए गए। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अकबरुद्दीन ने ट्वीट किया है, "अलग तरह के शहर में.. दूसरा दिन.. समान लक्ष्य। यमन से भारतीय नागरिकों को निकालने का काम जारी। आईएनएस सुमित्रा हुदायदाह में आज रहेगा।" उन्होंने लिखा है, "यमन के अल हुदायदाह से 300 से ज्यादा भारतीयों को निकाला जाएगा, आज के लिए आईएनएस सुमित्रा को निर्धारित किया गया है।" रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता सीतांशु कार ने ट्वीट किया है कि भारतीय वायुसेना के एक और सी-17 ग्लोबमास्टर-3 विमान को जामनगर से जिबूती रवाना किया गया है ताकि वहां फंसे भारतीयों को वापस लाया जा सके। पहले ग्लेबमास्टर से 168 लोगों को जिनमें अधिकांश केरल की नर्से शामिल थीं लाया गया और 2 बजे रात को कोच्चि विमानतल पर विमान उतरा। दूसरा परिवहन विमान 190 भारतीयों को लेकर मुंबई में 3:25 बजे भोर में उतरा। राष्ट्रपति अब्द-रब्बू मंसूर हादी की सरकार को शिया हौती सेनाओं ने अपदस्थ कर दिया और उसके बाद ही 22 जनवरी से यमन में लड़ाई जारी है। सऊदी अरब के नेतृत्व में 10 देशों की गठबंधन सेना द्वारा हाल ही में सैनिक अभियान शुरू होने के बाद घमासान तेज हो गया है। भारत ने अपने नागरिकों को निकालने के लिए अत्यंत समन्वित अभियान शुरू किया है और यमन के बंदरगाह शहर अदन में फंसे करीब 350 लोगों को भारतीय नौसेना के पोत आईएनएस सुमित्रा के जरिये सुरक्षित निकाल लिया गया। सुरक्षित लौटे भारतीयों को अपने भविष्य को लेकर चिंता है और उन्हें रोजगार मिलने की उम्मीद है। यमन में नर्स का काम करने वाली एक प्रवासी भारतीय ने कहा, "हम अपने परिजनों के पास सुरक्षित पहुंचकर खुश हैं, लेकिन एक बड़ा सवाल यह भी है कि हमारे भविष्य का क्या होगा। हमें रोजगार चाहिए पर पता नहीं हमें कहां से काम मिलेगा, क्योंकि हमें परिवार की देखभाल भी करनी है।" यमन में भारतीय नागरिकों की संख्या 2010 में 14000 के आसपास होने का अनुमान था जो देश में राजनीतिक अस्थिरता और हिंसा के कारण जून 2011 में घटकर 5000 रह गया। सना में दूतावास में केवल 3000 के करीब भारतीय ही दर्ज हैं। यमन में रह रहे भारतीयों में नर्से, अस्पताल कर्मचारी, विश्वविद्यालय के प्रोफेसर, पेशेवर, बेहतर कामगार, आईटी पेशेवर और निजी कंपनियों में प्रबंधकीय एवं लिपकीय कर्मचारी शामिल हैं। इनमें से अधिकांश केरल से हैं, लेकिन कुछ अन्य राज्यों जैसे तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक, पंजाब, उत्तर प्रदेश, बिहार और पश्चिम बंगाल के भी हैं। केरल में प्रवासी मामलों के मंत्री के. सी. जोसफ ने आईएएनएस को बताया कि वे दिल्ली में विदेश मंत्रालय और यमन एवं जिबूती में भारतीय अधिकारियों के साथ लगातार संपर्क में हैं।  उन्होंने कहा, "सऊदी अरब के अधिकारियों के साथ यमन में अपने विमान को सुरक्षित उतरने और फिर वहां से उनके वायु मार्ग से वापसी सुनिश्चित करने के लिए गतिरोध तोड़ने के कूटनीतिक प्रयास किए जा रहे हैं।"  जोसफ ने कहा, "लेकिन ईरान के अधिकारियों के साथ बातचीत जारी है क्योंकि इसमें उनकी भी अनुमति जरूरी होगी। नर्सो और शिक्षकों के साथ 2500 और केरल के लोग वहां फंसे हैं।"   केरल सरकार ने प्रत्येक को 2,000 रुपये की सहायता राशि दी। वहां की भयावह स्थिति को याद करते हुए लौटने वाले एक व्यक्ति ने कहा, "यमन में स्थिति दिन ब दिन बिगड़ती जा रही है क्योंकि वहां अंधाधुंध बमबारी हो रही है। जहां हम ठहरे हुए थे वहां से करीब 200 मीटर की दूरी पर बम गिर रहे थे। प्रभावित होने वालों में सबसे ज्यादा बच्चे हैं।" दूसरे लौटने वाले ने कहा, "संचार भी ध्वस्त हो गया है और इसीलिए भारतीय दूतावास के अधिकारियों के लिए भारतीय नागरिकों के साथ संपर्क कर पाना मुश्किल हो गया है।"  उन्होंने कहा कि राज्य सरकार केंद्र पर दबाव बनाएगी कि प्रवासी भारतीयों को सुरक्षित स्वदेश लाने के लिए कूटनीतिक बातचीत सुनिश्चित करें।  उन्होंने यह भी कहा कि उनकी सरकार यमन से वापस आई नर्सो को रोजगार उपलब्ध कराएगी।  जोसफ ने कहा, "2,000 नर्सो को काम दिलाना मुश्किल होगा, लेकिन हमारी सरकार हरसंभव प्रयास करेगी।"  भारत ने पड़ोसी देश बांग्लादेश और श्रीलंका को भी उनके नागरिकों को यमन से वापस लाने में मदद करने के आग्रह को स्वीकार कर लिया है।

    Read more »
  • भाजपा सदस्यों को कार्यकर्ताओं में बदलें : मोदी

    बंगलुरू। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हुए नए सदस्यों की संख्या 10 करोड़ पर पहुंच रही है उन्हें पार्टी कार्यकर्ताओं में बदला जाना चाहिए।  सूत्रों ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी राष्ट्रीय कार्यालय के पदाधिकारियों की बैठक में प्रधानमंत्री ने कहा कि 'मतदाता सदस्य बन रहे हैं' यह बेहतर है।  बंद कमरे में हुई बैठक में अपना संदेश देते हुए मोदी ने कहा कि पार्टी सर्वोच्च है और सरकार तो बस लक्ष्य साधने का मुकाम भर है।

    Read more »
  • बेंगलुरू में भाजपा पदाधिकारियों की बैठक

    बेंगलुरू।  केंद्र में सत्ता में आने के बाद देशभर में अपने आधार को बढ़ाने और खास तौर से उन सात राज्यों में जहां उसकी हालत कमजोर है, को मजबूत करना भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक का मुख्य ध्येय रहेगा। भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से पहले पार्टी के पदाधिकारियों और संसदीय बोर्ड के सदस्यों ने गुरुवार को यहां बैठक की।   पार्टी के सूत्रों के मुताबिक, जिन राज्यों में पार्टी कमजोर है उनमें तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, केरल, असम, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और ओडिशा शामिल हैं।   शुक्रवार से शुरू हो रही राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के एजेंडे पर गुरुवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की अध्यक्षता में हुई पदाधिकारियों की बैठक में चर्चा की गई।   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी बाद में पदाधिकारियों की बैठक में शामिल होना था और उन्हें संबोधित करना था।   भाजपा प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन ने बैठक के बारे में चर्चा करते हुए कहा, "पार्टी एक राजनीतिक प्रस्ताव स्वीकार करेगी और भारत की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किस तरह छवि सुधरी है इस पर एक प्रस्ताव स्वीकार करेगी।"   भाजपा नेता ने यह भी कहा कि भाजपा कार्यकर्ता क्लीन इंडिया और क्लीन गंगा अभियान में किस तरह शामिल हों।   उन्होंने कहा कि शाह ने बैठक के शुरू में सदस्यता अभियान की सफलता के लिए बधाई दी।   यह पूछे जाने पर कि भूमि अधिग्रहण विधेयक की राह में संसद में रोड़ा अटकने पर कोई चर्चा होगी या नहीं का जवाब देते हुए प्रवक्ता ने कहा, "राष्ट्रीय महत्व के सभी मुद्दों पर चर्चा होगी।"   बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले यह संभवत: अंतिम बैठक होगी और अनुमान है कि इसमें राज्य में होने वाले चुनाव पर ध्यान केंद्रित रहेगा।   हुसैन ने कहा, "क्या करेगा 'जनता परिवार', भाजपा जीतेगी बिहार।"   दिल्ली में खराब प्रदर्शन पर भी विचार होगा यह पूछने पर प्रवक्ता ने कहा, "विजय और पराजय दोनों पर चर्चा होगी।"

    Read more »
  • इंडोनेशिया में ज्वालामुखी फटा

    जकार्ता। इंडोनेशिया के उत्तरी सुमात्रा प्रांत में गुरुवार दोपहर माउंट सिनाबंग ज्वालामुखी फट गया, जिसकी राख दो किलोमीटर की ऊंचाई तक गई। इसकी वजह से आसपास के इलाकों को खाली करवाना पड़ा। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो पूर्वो नुग्रोहो ने बताया कि ज्वालामुखी फटने से ज्वालामुखी की गर्म राख इसके केंद्र से दक्षिण की ओर चार किलोमीटर तक और दक्षिणपूर्व में एक किलोमीटर तक फैल गई।   सुतोपो ने बताया कि ज्वालामुखी के आसपास रहने वाले कुछ ग्रामीणों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।   उन्होंने बताया, "सेना और अधिकारियों ने सिबिनतुत गांव के कुछ निवासियों को अन्य स्थानों पर पहुंचाया है।"   ज्वालामुखी पहाड़ के मुख से तीन किलोमीटर दूर स्थित सिग्रंग गरंग, कुतगुनगन और सुकनालु गांवों के लोग भयग्रस्त हैं, वे जगह खाली करने की तैयारी में हैं।  सुतोपो ने बताया, "अधिकारी गश्ती और मैदान की निगरानी कर रहे हैं।"  करीब 2,475 मीटर ऊंचा माउंट सिनाबंग ज्वालामुखी इससे पहले 29 जून, 2014 को फटा था। इससे पहले सितंबर 2013 से फरवरी 2014 के बीच कई बार ज्वालामुखी फटा था, जिसमें 15 लोगों की मौत हो गई थी और 30,000 से ज्यादा लोग आंतरिक तौर पर विस्थापित हुए थे।  माउंट सिनाबंग इंडोनेशिया में सक्रिय 120 ज्वालामुखियों में से एक है।

    Read more »
  • एम्स फोन से करेगा मिरगी रोगियों की देखरेख

    नई दिल्ली।  देश के दूर-दराज के इलाकों से राजधानी स्थित अत्याधुनिक चिकित्सा सुविधा वाले अस्पताल एम्स में उपचार के लिए रेल की अनारक्षित बोगियों में बिना सोए रात भर सफर कर आने वाले मिरगी रोगियों के बीच सफर में ही दौरे का शिकार होने की घटनाओं को देखते हुए जल्द ही एम्स टेलीफोन के जरिए इस तरह के रोगियों की आगे की देखरेख की सुविधा शुरू करेगा।   एम्स के न्यूरोलॉजी विभाग द्वारा किए गए अध्ययन में पाया गया कि कई रोगियों को संबंधित चिकित्सक से फोन पर परामर्श प्रदान कर राहत पहुंचाया जा सकता है और उन्हें लंबी दूरी की यात्रा के तनाव से मुक्ति दी जा सकती है।   एम्स के न्यूरोलॉजी विभाग की प्रोफेसर ममता भूषण सिंह ने माया टुडे से कहा, "रोगियों में अधिकांश बिहार या उत्तर प्रदेश के होते हैं। ये रोगी दवा लेने के दौरान तो महीनों तक दौरे का शिकार नहीं होते, लेकिन भीड़ भरे अनारक्षित रेल डिब्बे में बैठकर आते हुए न सो पाने के कारण कुछ रोगियों को ट्रेन में ही दौरे पड़ने लगते हैं।"   उन्होंने आगे कहा, "टेलीफोन से उपचार संबंधी परामर्श प्रदान कर न केवल उनका पैसा बचेगा, बल्कि समय भी जाया नहीं होगा।"   इस संबंध में एक अध्ययन अनियमित तरीके से चुने गए 450 रोगियों पर किया गया, जिनकी देखरेख फोन के जरिए की गई। उनसे यह पूछा गया कि क्या वे खुश और संतुष्ट हैं। सिंह ने कहा, "फोन पर उपचार परामर्श से वे अत्यंत खुश थे।"   सिंह ने कहा कि भारत में मिरगी के करीब 12 प्रतिशत रोगी हैं। ग्रामीण इलाकों में और डॉक्टरों की अधिक आवश्यकता है। इसके अलावा चिकित्सा शिक्षक और स्वयंसेवियों की भी जरूरत है जो स्वास्थ्य की स्थिति के बारे में जागरूकता पैदा करने में मदद कर सकते हैं, क्योंकि अधिकांश लोग अभी तक दूसरों को बताने में संकोच महसूस करते हैं।  उन्होंने कहा, "मिरगी को समझना और उसका इलाज कराना जरूरी है। इलाज वहन करने योग्य है और दवा के साथ रोगियों को मिरगी के बारे में शिक्षित होना जरूरी है कि इसका सटीक इलाज हो सकता है और यह कि दवाओं की खुराक व उचित नींद कभी नजरअंदाज नहीं की जानी चाहिए।"  मिरगी का सबसे बड़ा कारण टेपवर्म के अंडे हैं, जो अच्छी तरह नहीं पकाए गए सूअर का मांस खाने से या फिर गंदा पानी पीने से या बिना धोए पत्तों का सलाद या बंदगोभी खाने से हो जाता है।  न्यूरोसाइस्टिसेरोसि एक पारासाइटिक संक्रमण है, जो वयस्क टेपवर्म के अंडों के अंतरग्रहण का परिणाम है, जिससे विकासशील देशों में दौरे और मिरगी को पांव पसारने का मौका मिलाता है।  उन्होंने आगे बताया, "एक बार अंतरग्रहण हो गया तो टेपवर्म के अंडे दिमाग तक पहुंच जाते हैं। ये दूषित जल से या सलाद के पत्ते या पत्तागोभी खाने से आता है। पत्तागोभी या सलाद के पत्ते में टेपवर्म खुले में शौच त्यागने के कारण आ जाता है।"

    Read more »
  • बान ने वैश्विक स्वास्थ्य संकट पर पैनल गठित किया

    संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने भविष्य के स्वास्थ्य संकटों से बचने और उनके प्रबंधन में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था को मजबूत करने की अनुशंसा के लिए एक पैनल नियुक्त किया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, स्वास्थ्य संकट पर वैश्विक प्रतिक्रिया के लिए गुरुवार को बनाया गया पैनल, पश्चिम अफ्रीका में फैली इबोला वायरस बीमारी से लड़ने के लिए किए गए इंतजामों को ध्यान में रखेगा। संयुक्त राष्ट्र की घोषणा के मुताबिक, बान ने तंजानिया के राष्ट्रपति जाकाया म्रिशो किकवेट को पैनल का अध्यक्ष नियुक्त किया है। अन्य सदस्यों में ब्राजील, स्विट्जरलैंड, इंडोनेशिया, बोत्स्वाना और संयुक्त राज्य अमेरिका से चुने गए हैं। यह पैनल प्रभावित देशों और समुदायों के प्रतिनिधियों, संयुक्त राष्ट्र प्रणाली, बहुपक्षीय एवं द्विपक्षीय वित्तीय संस्थानों, क्षेत्रीय विकास बैंको, गैर-सरकारी संगठनों, प्रतिक्रिया प्रयास में सहयोग करने वाले देशों, अन्य सदस्य देशों, स्वाथ्य सेवा प्रदाता, शैक्षिक और शोध संस्थानों, निजी क्षेत्र तथ अन्य विशेषज्ञों के साथ विस्तृत विचार-विमर्श करेगा। पैनल की पहली बैठक मई की शुरुआत में होगी। यह पैनल साल के अंत में अपनी अंतिम रिपोर्ट बान को सौंप सकता है। बान यह रिपोर्ट महासभा को उपलब्ध कराएंगे और इसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

    Read more »
  • नेपाल के साथ भारत के संबंध अटूट : जयशंकर

    काठमांडू| दो दिवसीय दौरे पर गुरुवार को काठमांडू पहुंचे भारतीय विदेश सचिव एस. जयशंकर ने कहा कि उनकी यह यात्रा नेपाल के साथ भारत के संबंधों के महत्व को दर्शाती है। दक्षेस यात्रा पर काठमांडू पहुंचे जयशंकर नेपाल के राष्ट्रपति राम बरन यादव, प्रधानमंत्री सुशील कोईराला, संविधान सभा के अध्यक्ष सुभाष चंद्र नेमबांग और विदेश मंत्री महेंद्र बहादुर पांडे के साथ बातचीत करेंगे।काठमांडू के त्रिभुवन अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पहुंचे जयशंकर ने कहा, "दक्षेस यात्रा के दौरान इस खुबसूरत शहर में घूमना अत्यंत सुखद है। मेरी यह यात्रा हमारी सरकार के नेपाल के साथ संबंधों के महत्व को दर्शाती है।"जयशंकर नेपाल में अपने समकक्ष शंकर दास बैरागी से मिल कर उनके साथ प्रतिनिधिमंडल स्तर की चर्चा करेंगे, जिससे जुलाई 2014 में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की दो दिवसीय यात्रा के दौरान संबंधों में आई गर्मजोशी को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी।वह नेपाल की प्रमुख पार्टियों के शीर्ष नेताओं से भी मुलाकात करेंगे, जिनमें सत्तारूढ़ नेपाल कांग्रेस, नेपाल की कम्युनिस्ट पार्टी यूनिफाइड मार्किस्ट लेनिनिस्ट (सीपीएन-यूएमएल) और विपक्षी पार्टी यूनिफाइड कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ नेपाल-माओवाद (यूसीपीएन-एम) शामिल हैं।जयशंकर ने कहा, "मैं पिछले साल प्रधानमंत्री मोदी की ऐतिहासिक नेपाल यात्रा के बाद दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सहयोग में आई तेजी को जारी रखने की उम्मीद करता हूं।""नेपाल के वरिष्ठ राजनीतिक नेतृत्व का आह्वान करना और विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के नेताओं के साथ बातचीत करना मेरा सौभाग्य होगा।"जयशंकर ने कहा कि 'नेबरहुड फर्स्ट' नीति के तहत भारत नेपाल के साथ अपने बहुआयामी और पारस्परिक रूप से लाभप्रद संबंधों को मजबूत करने के लिए प्रतिबद्ध है।जयशंकर द्वारा दक्षेस सदस्य देशों की यात्रा करने का यह दूसरा चरण है। इससे पहले उन्होंने एक मार्च को भूटान का दौरा किया था। उन्होंने तीन मार्च को पाकिस्तान और चार मार्च को अफगानिस्तान की यात्रा की थी।

    Read more »
  • भारतीय मूल की सहायक प्रोफेसर को पेल्टियर पुरस्कार

    वाॅशिंगटन : भारतीय मूल की अमेरिकी सहायक प्रोफेसर रजनी गणेश पिल्लै द्वारा विद्यार्थियों में कारोबारी संस्कृति की भूमिका की समझ डालने के लिए बाफा - बाफा खेल का सहयोग लेने के मामले में किए गए अध्ययन को लेकर पेल्टियर पुरस्कार प्रदान किया जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार नाॅर्थ डकोटा स्टेट यूनिवर्सिटी में मार्केटिंग का अध्यापन करने वाली रजनी गणेश पिल्लै को यह पुरस्कार उन्नत वैश्विक परिप्रेक्ष्य से जोड़ने को लेकर प्रदान किया गया।  इसके तहत उनका लक्ष्य विद्यार्थियों को कारोबारी संस्कृति की भूमिका समझाना रहा। यही नहीं उन्होंने लेन - देन और संबंधों को प्रभावित करने की बात भी की। मिली जानकारी के अनुसार विश्वविद्यालय में प्रबंधन प्रोफेसर चानचाई थांगपोंग द्वारा विद्यार्थियों के लिए आंखें खोलने वाला अनुभव रहा है। इसके ही साथ मार्केटिंग संबंधी निर्णयों में सांस्कृतिक मुद्दों को लेकर अधिक जागरूक और संवेदनशील बनाया जाता है। सुश्री पिल्लै को 6 मई के दिन यह सम्मान दिया जाएगा। 

    Read more »
  • मलेशिया ओपन : सेमीफाइनल मे जुइरेई से भिड़ेंगी सायना

    कुआलालम्पुर| विश्व की सर्वोच्च वरीयता प्राप्त महिला बैडमिंटन स्टार भारत की सायना नेहवाल शुक्रवार को शानदार प्रदर्शन करते हुए यहां जारी 5 लाख डॉलर इनामी मलेशिया ओपन सुपर सीरीज प्रीमियर टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंच गईं। अंतिम-4 दौर में सायना का सामना चीन की ली जुइरेई से होगा। खिलाड़ी और ओलम्पिक कांस्य पदक विजेता सायना ने पुत्रा स्टेडियम में विश्व की 15वीं वरीय चीनी खिलाड़ी सुन यू को 21-11, 18-21, 21-17 से हराया। यह मैच एक घंटे 10 मिनट चला। दोनों खिलाड़ियों के बीच यह चौथी भिड़ंत थी। तीन बार सायना विजयी रही हैं, जबकि एक बार यू को जीत मिली है।पहले गेम में सायना ने शानदार खेल दिखाया और 21-11 से इसे अपने नाम किया लेकिन दूसरे गेम में यू ने जोरदार वापसी की। एक समय यू ने 7-1 की5 बढ़त बना ली थी।सायना ने हालांकि हार नहीं मानी और कठिन मेहनत के बाद 14-14 की बराबरी करने में सफल रहीं लेकिन सुन ने यह गेम 21-18 से अपने नाम किया।तीसरे गेम में सायना ने एक बार फिर अपनी पुरानी लय हासिल कर ली और ब्रेक तक 11-7 की बढ़त बना ली। यू ने फिर वापसी की और 1-14 स्कोर कर दिया। एक समय यू 17-16 से आगे भी हो गईं लेकिन सायना ने लगातार पांच अंक हासिल करते हुए मैच अपने नाम किया।सेमीफाइनल में तीसरी वरीय सायना का सामना मौजूदा ओलम्पिक चैम्पियन और शीर्ष वरीय जुइरेई से होगा। जुइरेई ने क्वार्टर फाइनल में पूर्व विश्व चैम्पियन और हमवतन यिहान वांग को 14-21, 21-15, 21-12 से पराजित किया। यह मैच 55 मिनट चला।सायना और जुइरेई के बीच अब तक 10 बार सामना हुई है। जुइरेई ने सायना को आठ बार हार झेलने को मजबूर किया है जबकि सायना दो बार विजयी रही हैं। 2012 के बाद सायना इस चीनी खिलाड़ी के खिलाफ जीत नहीं हासिल कर सकी हैं।एक दिन पहले विश्व की नम्बर-1 खिलाड़ी का आधिकारिक दर्जा हासिल करने वाली सायना ने दूसरे दौर में चीनी क्वालीफायर जुई याओ को हराया था। इस टूर्नामेंट में सायना के रूप में भारत की अंतिम उम्मीद बची है। गुरुवार को पुरुष एकल में के. श्रीकांत, पारूपल्ली कश्यप और एचएच प्रनॉय को हार मिली थी। उसी तरह महिला युगल में ज्वाला गुट्टा और अश्विनी पोनप्पा को भी हार का सामना करना पड़ा था।उधर, अन्य क्वार्टर फाइनल मुकाबलों में मौजूदा विश्व चैम्पियन स्पेन की कैरोलिना मारिन ने हांगकांग की चेयुंग यी को 21-12 21-9 से हराया। यह मैच 34 मिनट चला।सेमीफाइनल में मारिन का सामना चीन की शिजियान वांग से होगा। दूसरी वरीय वांग ने जापान की नोजोमी ओकुहारा को एक घंटे 51 मिनट तक चले मुकाबले में 21-19 15-21 22-20 से हराया।

    Read more »
  • प्रेमिका को उपहार में दिया चॉकलेट स्नान

    वॉशिंगटन। साल 2050 तक दुनिया की कुल आबादी में हिंदुओं की संख्या तीसरे नंबर पर होगी जबकि भारत में मुस्लिमों की संख्या दुनिया में सबसे ज्यादा होगी। पीयू रिसर्च सेंटर की ओर से की गई स्टडी में इस बात का खुलासा किया गया है। स्टडी के मुताबिक भारत मुस्लिम आबादी के मामले में इंडोनेशिया को भी पीछे छोड़कर मुस्लिम आबादी के मामले में दुनिया का सबसे बड़ा देश बन जाएगा। रिपोर्ट में बताया गया है कि वर्ष 2050 में भी भारत में सबसे बड़ी आबादी हिंदुओं की होगी। 2050 तक 1.4 अरब होंगे हिंदू पीयू रिसर्च सेंटर की स्टडी में कहा गया है कि 2050 तक हिंदुओं की जनसंख्या 34 फीसदी बढ़ कर करीब 1.4 अरब हो जाएगी। स्टडी के मुताबिक दुनिया की कुल आबादी का 14.9 प्रतिशत हिंदू होंगे। इस तरह हिंदू उन लोगों को पीछे छोड़ देंगे, जिनका विश्वास किसी भी मजहब (नॉन बिलिवर्स) में नहीं है। 2050 तक दुनिया की 13.2 फीसदी आबादी नॉन बिलिवर्स की होगी जो हिंदुओं से कम होगी। ईसाइयों और मुस्लिमों में ज्यादा फर्क नहीं होगा रिपोर्ट के मुताबिक, ‘अगले चालीस सालों में ईसाइयों की संख्या दुनिया में सबसे ज्यादा होगी, लेकिन इसी लिहाज से मुसलमान उनसे ज्यादा पीछे नहीं होंगे। लेकिन इस्लाम किसी भी अन्य धर्म की तुलना में तेजी से बढ़ेगा। इसमें ये भी कहा गया है कि रिपोर्ट में अनुमान जताया गया है कि 2050 तक मुस्लिमों 2.8 अरब या आबादी का 30 फीसदी और ईसाइयों 2.9 अरब या 31 फीसदी के बीच आबादी के हिसाब से करीबी मुकाबला होगा।

    Read more »
  • स्मृति ईरानी ने गोवा के ट्रायल रूम में पकड़ा हिडन कैमरा

    गोवा। गोवा में एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है। यहां पॉप्युलर ब्रैंड फैब इंडिया स्टोर के ट्रायल रूम में हिडन कैमरे पाए गए। दिलचस्प बात यह है कि इन कैमरों पर किसी और की नहीं बल्कि मानव संसाधन मंत्री स्मृति की नजर गई। स्मृति शुक्र्रवार दोपहर 12:42 के लगभग फैब इंडिया के शोरूम में शॉपिंग करने गईं थीं। वहां ट्रायल रूम में उनकी नजर हिडन कैमरे पर गई, जिसका पूरा फोकस अंदर की ओर यानी ट्रायल रूम की ओर था। यह देखकर स्मृति शॉक्ड रह गईं और सबसे पहले उन्होंने अपने पति को इस बारे में बताया जिसके बाद शोरूम में काफी हंगामा हुआ।स्मृति ने कैलंगुट के बीजेपी एमएलए माइकल लोबो को फोन करके इसकी जानकारी दी। हमारे सहयोगी चैनल टाइम्स नाउ से बातचीत करते हुए माइकल लोबो ने बताया, स्मृति ने मुझे दोपहर 12:47 के लगभग फोन करके इसकी जानकारी दी। लोबो ने बताया कि पुलिस कुछ ही देर में फैब इंडिया के शोरूम में पहुंच गई और वहां से सारे कैमरों और कंप्यूटर डिवाइस को हटा दिया गया।पुलिस ने फैब इंडिया के स्टाफ से पूछताछ भी की। स्टाफ के मुताबिक ये कैमरे चार महीने पहले लगाए गए थे। लोबो ने कहा कि ऐसी हरकत बर्दाश्त नहीं की जाएगी। हम औरतों को खिलाफ ऐसी घटनाओं को सहन नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि कल वह गोवा के एसपी और डीजीपी से भी मिलेंगे और कहेंगे कि वे सादे कपड़ों में जाककर सभी शोरूम्स पर छापे मारें। इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज कर ली गई है। स्मृति ने अपना बयान भी दर्ज करा दिया है।

    Read more »
  • संपत्ति जब्ती की कार्रवाई राजनीतिक से प्रेरित : मारन

     चेन्नई। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा पूर्व केंद्रीय मंत्री दयानिधि मारन, उनके भाई कलानिधि मारन, उनकी पत्नी कावेरी कलानिधि और समूह की कंपनियों की 742.58 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त करने के मामले पर सन टीवी समूह ने शुक्रवार को भी कोई प्रतिक्रिया नहीं की। दयानिधि मारन ने हालांकि इसे राजनीतिक प्रतिशोध से प्रेरित कार्रवाई बताया। दूसरे दिन भी समूह के वरिष्ठ अधिकारियों ने इस मामले पर अपना मुंह नहीं खोला। समूह के चैनल हालांकि चालू हैं। पूर्व केद्रीय दूरसंचार मंत्री और डीएमके नेता दयानिधि मारन ने ईडी की कार्रवाई को राजनीतिक प्रतिशोध की भावना से प्रेरित बताया है। इस प्रकरण का सन टीवी के शेयरों पर क्या प्रभाव पड़ता है, इसका पता सोमवार को बाजार खुलने के बाद ही लग पाएगा। एक अप्रैल को सन टीवी के शेयर बंबई स्टॉक एक्सचेंज में 453.85 रुपये पर बंद हुए थे। सन टीवी में कलानिधि मारन की 75 फीसदी हिस्सेदारी है। ईडी ने बुधवार को एयरसेल-मैक्सिस सौदे के मामले में संपत्ति जब्त करने की घोषणा की थी।दयानिधि मारन ने कहा है कि ईडी ने जो संपत्ति जब्त की है, वह कथित अपराध से पहले की है। दयानिधि मारन के मुताबिक, केंद्र सरकार की अनुमति से ही विदेशी कंपनियां भारतीय कंपनियों में निवेश कर सकती हैं। उन्होंने कहा कि एयरसेल-मैक्सिस सौदे में कुछ भी छिपा हुआ नहीं है।पूर्व मंत्री ने कहा कि वह इस मामले में मुकदमा लड़ेंगे और उनकी जीत होगी। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) का आरोप है कि दयानिधि मारन ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर एयरसेल के प्रमोटर सी. शिवशंकरन को अपनी हिस्सेदारी बेचने के लिए विवश किया और मलेशियाई कारोबारी टी. आनंद कृष्णन को एयरसेल का अधिग्रहण करने में मदद की। शिवशंकरन ने आरोप लगाया है कि दयानिधि मारन ने मैक्सिस समूह को उनकी कंपनी का अधिग्रहण करने में मदद की। उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि मैक्सिस ने एस्ट्रो नेटवर्क के जरिए एक कंपनी में निवेश किया है, जो कथित तौर पर मारन परिवार की कंपनी है। सीबीआई द्वारा 29 अगस्त, 2014 को दखिल आरोप पत्र में चार अन्य कंपनियों को भी नामजद किया गया है, जिसमें चेन्नई की कंपनी सन डायरेक्ट टीवी, ब्रिटेन की एस्ट्रो ऑल एशिया नेटवर्क्स, मलेशिया की मैक्सिस कम्युनिकेशंस बेरहर्ड और मॉरीशस की साउथ एशिया एंटरटेनमेंट होल्डिंग्स शामिल है। उन्होंने आरोपियों को भारतीय दंड संहिता के तहत आपराधिक षडय़ंत्र और भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के प्रावधानों के तहत नामजद किया है।ईडी ने बुधवार को कहा कि जांच से पता चला है कि मॉरीशस की कंपनियों द्वारा दयानिधि मारन के लिए 742.28 करोड़ रुपये रिश्वत के रूप में दो कंपनियों-सन डायरेक्ट टीवी प्राइवेट लिमिटेड (एसडीटीपीएल) और साउथ एशिया एफएम लिमिटेड (एसएएफएल)- को भुगतान किए गए थे।दोनों कंपनियों के मालिक कलानिधि मारन हैं। इस राशि का उपयोग उनके कारोबार और निवेश में किया गया। सीबीआई ने मारन बंधुओं और उनकी कंपनियों के विरुद्ध आरोप पत्र दाखिल कर दिया है, जिसमें विदेशी कंपनियां भी शामिल हैं। ईडी ने कहा कि प्रीवेंशन ऑफ मनी लाउंडरिंग एक्ट (पीएमएलए) के प्रावधानों के मुताबिक, दयानिधि मारन को दी गई रिश्वत जब्त कर ली गई है।ये दोनों एसडीटीपीएल के 80 फीसदी हिस्सेदार हैं। एसएएफएल के हिस्सेदारों में हैं -सन टीवी नेटवर्क लिमिटेड (60 फीसदी), ए. एच. मल्टीसॉफ्ट प्राइवेट लिमिटेड और मॉरीशस की साउथ एशिया मल्टीमीडिया टेक्नोलॉजीज लिमिटेड (20 फीसदी प्रत्येक)। ईडी के मुताबिक, कलानिधि मारन और कावेरी कलानिधि की काल कम्युनिकेशंस प्राइवेट लिमिटेड में क्रमश: 90 फीसदी और 10 फीसदी हिस्सेदारी है।

    Read more »
  • भूमि अधिग्रहण अध्यादेश को राष्ट्रपति की मंजूरी मिली

    नई दिल्ली। भूमि अधिग्रहण अध्यादेश की समय सीमा समाप्त होने से एक दिन पहले सरकार ने आज इसे फिर से जारी कर दिया। इस अध्यादेश के बदले संबंधित विधेयक को राज्यसभा में विपक्ष के कड़े प्रतिरोध के कारण पारित नहीं करा पाने के कारण सरकार ने अध्यादेश को फिर से जारी किया। सरकारी सूत्रों ने बताया कि केन्द्रीय मंत्रिमंडल द्वारा 31 मार्च को की गई सिफारिश के अनुरूप राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने अध्यादेश पर हस्ताक्षर कर दिए।पूर्व में जारी अध्यादेश की अवधि शनिवार को समाप्त होने जा रही थी, क्योंकि संसद के बजट सत्र में इसके बदले लाए जाने वाले विधेयक को संसद की मंजूरी नहीं मिल पाई है। नरेन्द्र मोदी सरकार द्वारा लाया गया यह 11वां अध्यादेश है जिसमें उन नौ संशोधनों को समाहित किया गया है जो पिछले महीने लोकसभा द्वारा पारित संबंधित विधेयक में शामिल हैं। यह विधेयक राज्यसभा से पारित नहीं हो पाया है जहां राजग गठबंधन के पास इसे पारित कराने लायक संख्या का अभाव है।संबंधित अध्यादेश पहली बार दिसंबर में जारी किया गया था। विपक्ष राजग सरकार द्वारा लाए गए नए भूमि अधिग्रहण विधेयक के विरोध में एकजुट है। वह इसे पारित कराने में सरकार को कोई रियायत देने की बजाए अपना रूख और कड़ा करता नजर आ रहा है। सोनिया गांधी के नेतृत्व में विपक्षी दल मांग कर रहे हैं कि संप्रग शासन के समय पारित मूल भूमि अधिग्रहण विधेयक को ही पारित कराया जाए। अध्यादेश को दोबारा जारी करने का रास्ता साफ करने के लिए सरकार ने पिछले सप्ताह राज्यसभा का सत्रावसान कराया था। संविधान में प्रावधान है कि कोई अध्यादेश जारी करने के लिए संसद के किसी एक सदन का सत्रावसान होना चाहिए। 23 फरवरी से शुरू हुए संसद के बजट सत्र का इन दिनों एक महीने का अवकाश चल रहा है। संसद की अंतर सत्र अवधि के दौरान सरकार भूमि अधिग्रहण सहित छह अध्यादेश लाई थी जिनमें से पांच की जगह लेने वाले विधेयकों को संसद से पारित कराने में सरकार सफल रही लेकिन भूमि अधिग्रहण विधेयक को लेकर उसे ऐसी सफलता नहीं मिल पाई।

    Read more »
  • मधुमेह बढऩे के खतरे से बचा सकता है अंडा

    लंदन। अगर आपको अंडे खाना पसंद है तो आपके लिए अच्छी खबर है। यूं तो अंडे खाने बहुत से फायदे हैं, लेकिन हाल ही में एक नए शोध से पता चला है कि अंडे के सेवन से टाइप-2 मधुमेह का खतरा कम होता है। अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लीनिकल न्यूट्रीशन में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि जिन पुरुषों ने प्रति सप्ताह चार अंडे खाए, उनमें टाइप-2 मुधमेह होने का खतरा, सप्ताह में केवल एक अंडा खाने वाले पुरुषों की अपेक्षा 37 फीसदी कम था। टाइप-2 मधुमेह दुनिया में बहुत तेजी से बढ़ रहा है। पूर्वी फिनलैंड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने वर्ष 1984 से 1989 के बीच 42-से 60 साल तक की आयुवर्ग के 2,332 पुरुषों की खान-पान की आदतों का मूल्यांकन किया। इसके बाद 19 साल इनके फॉलोअप के दौरान 432 पुरुषों को टाइप-2 मधुमेह होने का पता चला। अध्ययन में पाया गया कि अंडे के सेवन से टाइप-2 मधुमेह का खतरा और रक्त में ग्लूकोज स्तर कम हुआ। इस दौरान शारीरिक गतिविधि, शारीरिक मास इंडेक्स, धूम्रपान और फल तथा सब्जियों के सेवन जैसे संभव कारकों को भी ध्यान में रखा गया। सप्ताह में चार से ज्यादा अंडे खाने का कोई अतिरिक्त लाभ नहीं हैं। इसके अतिरिक्त कोलेस्ट्राल, अंडों में लाभकारी पोषक तत्व होते है, जो प्रभावी हो सकते हैं। उदाहरण के यह लिए ये ग्लूकोज चयापचय और निम्न-स्तर की सूजन पर प्रभावी हो सकते हैं, जिससे टाइप-2 मधुमेह का खतरा कम होता है।

    Read more »
  • उत्तर कोरिया ने 4 मिसाइलों का परीक्षण किया

    सियोल। उत्तर कोरिया ने शुक्रवार को अपने पश्चिमी समुद्र क्षेत्र में छोटी दूरी की चार मिसाइलों का परीक्षण किया।  समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, दक्षिण कोरियाई रक्षा मंत्रालय के एक अधिकारी ने फोन पर कहा कि उत्तर कोरिया ने उत्तर प्योंगन प्रांत से अपराह्न् 4.15 और पांच बजे के बीच पश्चिमी जल क्षेत्र में चार मिसाइलें दागीं, जिनके बारे में समझा जाता है कि वे छोटी दूरी की हो सकती है। मिसाइलें लगभग 140 किलोमीटर दूर गईं। अधिकारी ने कहा कि गुरुवार को भी उत्तर कोरिया ने सुबह लगभग 10.30 बजे एक छोटी दूरी की मिसाइल दागी थी। यह मिसाइल भी शुक्रवार को दागी गईं मिसाइलों जैसी ही लगती है। दक्षिण कोरियाई सेना का मानना है कि दूरी, गति और प्रक्षेप पथ के आधार पर वे मिसाइलें छोटी दूरी की केएन-02 हैं। मिसाइलों का यह परीक्षण अमेरिका और दक्षिण कोरिया के बीच जारी संयुक्त वार्षिक युद्धाभ्यास तथा कुछ दक्षिण कोरियाई नागरिक संगठनों द्वारा सीमा पर उत्तर कोरिया विरोधी पर्चियां प्रसारित करने के खिलाफ किया गया है। अमेरिका और दक्षिण कोरिया के बीच की रिसॉल्व कमान पोस्ट अभ्यास 13 मार्च को समाप्त हो गया, लेकिन फोअल ईगल मैदानी प्रशिक्षण अभ्यास दो मार्च को शुरू हुआ था और यह 24 अप्रैल तक चलेगा।

    Read more »
  • अमेरिकी कोर्ट ने कहा, योग सांप्रदायिक नहीं, धर्मनिरपेक्ष

    वाशिंगटन। प्राथमिक विद्यालयों में सिखाया जा रहा योग हिंदुत्व की तरफ बढ़ने का मार्ग नहीं है और इससे धार्मिक स्वतंत्रता का उल्लंघन भी नहीं होता। कैलिफोर्निया की एक अदालत ने योग को विद्यालयों में जारी रखने की अनुमति दी है।तीन सदस्यीय अपीली अदालत ने शुक्रवार को अपने आदेश में कहा कि हमने यह निष्कर्ष निकाला है कि यह कार्यक्रम धर्मनिरपेक्ष है। इसका धर्म को बढ़ावा देने या उल्लंघन करने पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता। वेबसाइट यूटीसैनडियागो डॉट कॉम के मुताबिक कैलिफोर्निया की चौथी जिला अदालत ने सैनडियागो के एनसिनिटास यूनियन एलीमेंट्री स्कूल डिस्ट्रिक्ट के समर्थन में निचली अदालत के फैसले को बरकरार रखा है।इस स्कूल पर बच्चों के परिजनों ने यह कहकर मुकदमा दायर कर दिया था कि यह योग कार्यक्रम पूरी तरह से आध्यात्मिक और असंवैधानिक है। इस मुकदमे में परिजनों की पैरवी कर रहे अटॉर्नी डीन ब्रॉयलस ने कहा कि वह और उनके मुवक्किल इस फैसले से निराश है और हम सावधानीपूर्वक अन्य विकल्पों पर विचार कर रहे हैं।ब्रॉयलस ने यू-टी सैनडियागो को भेजे ईमेल में कहा कि पिछले 50 सालों में किसी भी अदालत ने सार्वजनिक स्कूलों में बच्चों को हिंदू पूजा पद्धति, सिर झुकाने या सूर्य भगवान की वंदना जैसे औपचारिक धार्मिक रीति-रिवाजों को करने की अनुमति नहीं दी।साल 2012 से स्कूल डिस्ट्रिक्ट में योग एक स्वास्थ्य-कल्याण व्यायाम रहा है। लेकिन सोमिना फाउंडेशन ने योग को शारीरिक शिक्षा की सभी कक्षाओं में शामिल करने के लिए डिस्ट्रिक्ट को 20 लाख डॉलर दिए।ब्रॉयल्स ने एक जोड़े और उनके बच्चों की तरफ से डिस्ट्रिक्ट स्कूल पर मुकदमा दायर किया, जिसमें कहा गया है कि अष्टांग योग में हिंदू धर्म की मान्यताओं को प्रचारित किया गया है, जिससे यह कार्यक्रम 'सेपरेशन ऑफ चर्च एंड स्टेट' के नियमों का उल्लंघन है।निचली अदालत ने अपने फैसले में कहा है कि डिस्ट्रिक्ट की योग कक्षाओं में योग की क्रियाएं, श्वास लेना, विश्राम और सम्मान और सहानुभूति जैसे सकारात्मक चारित्रिक गुण शामिल हैं। डिस्ट्रिक्ट अधीक्षक टिम बेयर्ड का कहना है कि स्कूल डिस्ट्रिक्ट के अधिकारियों को हमेशा ही अपने पक्ष में फैसले का अनुमान था और हम खुश हैं कि वास्तव में हमारे पक्ष में फैसला सुनाया गया है।डिस्ट्रिक्टि के सभी छात्रों की प्रति सप्ताह 30 मिनट या इससे अधिक अवधि की दो योग कक्षाएं होती हैं। इसमें छठी कक्षा तक के किंडरगार्डन स्कूल भी शामिल हैं। बेयर्ड ने कहा कि हमें अभूतपूर्व नतीजे मिल रहे हैं। बच्चे अब अधिक फुर्तीले, मजबूत हो गए हैं और उनमें एकाग्रता बढ़ी है। हम समझते हैं कि योग 21वीं सदी की कुंजी है।

    Read more »
  • मिस्र की सेना ने 40 आतंकियों को मार गिराया

    काहिरा। मिस्र के अशांत उत्तर शिनाई क्षेत्र में सेना के जमीनी और हवाई हमलों में कम से कम 40  आतंकवादी मारे गए हैं। इससे एक दिन पहले इस्लामी आतंकवादियों ने अलग-अलग हमलों में 15 सैनिकों और दो नागरिकों को मार दिया था जिसके बाद यह अभियान शुरू किया गया।एक अधिकारी ने कहा कि सेना ने शेख जुवैद के दक्षिणी हिस्से में आतंकियों के ठिकानों पर जमीनी और हवाई हमले किए। उन्होंने बताया कि कल किए गए हमलों में आतंकियों के 20  ठिकाने और सात वाहन नष्ट हो गए। अधिकारी ने अल अहराम अरेबिक अखबार से कहा कि ऐसे कई देश हैं जो आतंकियों की मदद करते हैं और उन्हें धन एवं हथियार उपलब्ध कराते हैं।उन्होंने कहा कि जमीनी हमलों के दौरान पांच आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया। अधिकारी ने कहा कि उत्तर सिनाई के विभिन्न हिस्सों में हवाई हमले जारी रहेंगे। गुरुवार को उत्तरी सिनाई में सेना की पांच चौकियों पर हुए आतंकी हमलों में 15 सैनिक और दो नागरिक मारे गए थे। शिनाई स्थित आतंकी समूह अंसार बेयत अल मकदिस ने हमलों की जिम्मेदारी ली है। संगठन हाल में आतंकी समूह इस्लामिक स्टेट से जुड़ा है।

    Read more »
  • शराब की लत से 8 साल घट जाता है जीवन

    लंदन| शराब के आदी लोग अस्पताल में भर्ती किसी मरीज की तुलना में औसतन लगभग 7.6 साल पहले ही काल के गाल में समा जाते हैं। एक नए अध्ययन में यह बात सामने आई है। अध्ययन इस बात को दर्शाता है कि लती व्यक्ति को शराब कैसे मानसिक तथा शारीरिक दोनों स्तरों पर प्रभावित करती है और इस बुरी लत का जल्द से जल्द इलाज जरूरी है। जर्मनी के युनिवर्सिटी ऑफ बॉन हॉस्पिटल के डाइटर स्कॉफ ने कहा, "शराब की लत से मानसिक तथा शारीरिक दोनों तरह की समस्याएं सामने आती हैं।"स्कॉफ ने कहा, "ब्रिटिश जनरल अस्पताल में इलाज करा रहे शराब के लती व्यक्ति, शराब का सेवन न करने वाले मरीजों की तुलना में औसतन 7.6 साल पहले काल के गाल में समा गए।"अध्ययन के लिए स्कॉफ तथा ब्रिटेन के रॉयल डर्बी हॉस्पिटल के प्रोफेसर रिनहार्ड हियून ने मैनचेस्टर के सात जनरल अस्पतालों में मरीजों पर 12.5 साल तक अध्ययन किया। हियून ने कहा, "शराब के लती व्यक्तियों का प्रारंभिक अवस्था में शारीरिक तथा मानसिक इलाज कर उनकी जीवन प्रत्याशा को बढ़ाया जा सकता है। यह अध्ययन पत्रिका 'यूरोपियन साइकेट्री' में प्रकाशित हुआ है।

    Read more »
  • जल्द होगी प्रशांत भूषण व योगेंद्र यादव की आप से छुट्टी

    नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) जल्द ही पार्टी के संस्थापक सदस्य प्रशांत भूषण व योगेंद्र यादव व कुछ अन्य नेताओं को बाहर का रास्ता दिखा सकती है। पार्टी सूत्रों का कहना है कि अभी तक ऐसा लग रहा था कि ये स्वयं पार्टी छोड़ देंगे लेकिन शुक्रवार शाम पार्टी के संयोजक और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नाम प्रशांत भूषण द्वारा लिखे गए खुले पत्र के बाद पार्टी में इस पर गंभीरता से मंथन शुरू हो गया है। उधर, प्रशांत भूषण, योगेंद्र यादव आदि ने आगामी 14 अप्रैल को दिल्ली में सम्मेलन बुलाया है। माना जा रहा है कि उस दिन इनके द्वारा नई पार्टी बनाए जाने की भी घोषणा हो सकती है। शनिवार को इस सिलसिले में पार्टी के रणनीतिकारों की हुई एक महत्वपूर्ण बैठक में इस बात पर चर्चा हुई कि अब इस मसले पर शीघ्र कार्रवाई की जरूरत है। ये लोग और अधिक कीचड़ उछालें, इससे पहले ही इन्हें पार्टी से निकालना बेहतर होगा। रणनीतिकारों ने अरविंद केजरीवाल को भी अपने विचारों से अवगत करा दिया है। इनका कहना है कि केजरीवाल प्रशांत भूषण आदि को पार्टी से निकाले जाने के पक्ष में नहीं हैं। गौरतलब है कि केजरीवाल और प्रशांत, योगेंद्र यादव के बीच कड़वाहट इस कदर बढ़ चुकी है कि सुलह की सभी संभावनाएं समाप्त हो चुकी हैं। भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन से निकली आप अब बंटने के कगार पर है। आप में सुलग रही चिंगारी को हवा तब मिली जब विधानसभा चुनाव के दौरान पार्टी के संस्थापक सदस्य शांति भूषण ने भाजपा की ओर से मुख्यमंत्री पद की प्रत्याशी किरण बेदी को अरविंद केजरीवाल से बेहतर बताया था। इसके अलावा केजरीवाल को कांग्रेस की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार अजय माकन के बाद तीसरे नंबर पर बताया था। मगर पार्टी कार्यकर्ता और खुद केजरीवाल इसे बर्दाश्त करते रहे और चुनाव समाप्ति का इंतजार करते रहे। यह बात भी सामने आई कि प्रशांत भूषण ने पार्टी के कई सदस्यों से कहा कि वे दिल्ली विधानसभा चुनाव प्रचार में न जाएं। केजरीवाल गुट का आरोप है कि प्रशांत भूषण ने केजरीवाल को चुनाव हरवाने का प्रयास किया। उधर, आम आदमी पार्टी (आप) ने अपने कार्यकर्ताओं से कहा है कि वे बागी नेता प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव की रैली में न जाएं और न ही उनसे किसी तरह का संबंध रखें। यदि कोई कार्यकर्ता रैली में जाता है या उनसे संपर्क रखता है तो इसे अनुशासनहीनता माना जाएगा। ऐसे में पार्टी उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करेगी।

    Read more »
  • पुराने मनीआर्डर को बाय-बाय, अब ई मनीआर्डर शुरू

    इटारसी। डाक विभाग की प्रमुख सेवा मनीआर्डर के कई दशक पुराने वर्जन को डाक विभाग ने अलविदा कह दिया है। अब इसकी जगह ई मनीआर्डर सेवा शुरू हो गई है। खास बात यह है कि मनीआर्डर के नए स्वरूप से जहां पैसों के लेनदेन का सारा काम ऑनलाइन हो गया है वहीं अब बुकिंग करने के दूसरे दिन ही संबधित को पैसा पहुंच जाएगा।क्या हुआ बदलावकई दशकों से मनीआर्डर सेवा का संचालन मेन्युअल तरीके से हो रहा था। इसमें पैसे ट्रांसर्फर करने वाले फार्म विभाग जमा कर उस पोस्टऑफिस को रजिस्टर्ड डाक से भेजता था जहां पैसा भेजना है लेकिन नए वर्जन में पैसे भेजने वाले व्यक्ति का डाटा ऑनलाइन मौके पर संबधित डाकघर को भेजा जा रहा है। चंद घंटों बाद डाटा के मुताबिक पोस्टऑफिस पहुंचकर पैसे प्राप्त करने वाला व्यक्ति यहां से पेमेंट ले सकता है। पुराने सिस्टम में एक मनीआर्डर प्राप्त करने में छह से सात दिन लग जाते थे। कई बार मनीआर्डर के कागज गुम होने पर कई दिनों तक पैसों को लेकर लोग परेशान होते थे। कुछ दिन पहले नई व्यवस्था शुरू करने के साथ ही पुराना सिस्टम समानांतर ढंग से चल रहा था लेकिन विभाग ने एक अप्रेल को अधिकारिक रूप से पुरानी मनीआर्डर व्यवस्था को बंद करने की घोषणा कर दी है। नए सिस्टम से अब विभाग को मनीआर्डर फार्म को रजिस्ट्री पोस्ट करने की झंझट से भी मुक्ति मिल गई है। अब एक क्लिक पर मनीआर्डर बुक हो रहे हैं। डाक विभाग द्वारा मोबाइल मनी ट्रांसर्फर योजना में तो इसी तर्ज पर पैसे भेजने वाले व्यक्ति को 16 अंकों का एक गोपनीय पासवर्ड बताया जाता है। यह पासवर्ड पैसा प्राप्त करने वाले व्यक्ति को बताकर उसे मौके पर ही देश के किसी भी कोने के पोस्टऑफिस से पैसे भेजे जा सकते हैं।

    Read more »
  • जियोनी का सबसे पतला स्मार्टफोन भारत में लांच

    नई दिल्ली। स्मार्टफोन कंपनी जियोनी ने हाल ही में भारत में एलिफ एस-7 लांच किया है जिसकी कीमत 24 हजार 999 रुपए होगी। कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विलियम लू के मुताबिक 5.5 मिलीमीटर मोटाई वाले दुनिया के इस सबसे पतले स्मार्टफोन को हाल ही में बार्सिलोना के वल्र्ड मोबाइल कांग्रेस में प्रदर्शित किया गया था।उन्होंने बताया कि इस फोन के दोनों तरफ गोरिल्ला ग्लास-3 लगाया गया है। एण्ड्रॉयड 5.0 लॉलीपॉप आधारित ऐमिगो 3.0 ऑपरेटिंग सिस्टम समर्थित इस फोन में 1.7 गिगा हट्र्ज ओक्टाकोर प्रोसेसर और दो जीबी रैम है। एलईडी फ्लैश के साथ 13 मेगा पिक्सल रियर कैमरा, आठ मेगा पिक्सल फ्रंट कैमरा और 16 जीबी इंटरनल मेमोरी दी गई है।उन्होंने बताया कि डुअल सिम वाले इस फोन में 2700 एमएएच की बैटरी और फ्री-स्केल जैसे सेंसर भी दिए गए हैं।

    Read more »
  • विदेशी मुद्रा भंडार में बढकर 341.14 अरब डालर की नयी ऊंचाई पर

    मुंबई : भारतीय रिजर्व बैंक के आंकडों के अनुसार देश का विदेशी मुद्रा भंडार 27 मार्च को समाप्त हुए सप्ताह में 1.386 अरब डॉलर बढकर 341.378 अरब डॉलर पर पहुंच गया जो एक नया रिकार्ड है. रिजर्व बैंक ने कहा कि निरंतर तेजी के कारण विदेशी मुद्रा आस्तियों में वृद्धि होना है.इससे पूर्व के समीक्षाधीन सप्ताह में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 4.261 अरब डॉलर बढकर 339.99 अरब डॉलर था. रिजर्व बैंक के आंकडों के अनुसार आलोच्य सप्ताह में कुल विदेशी मुद्रा भंडार का सबसे बडा हिस्सा, विदेशी मुद्रा आस्तियां (एफसीए) 27 मार्च को समाप्त सप्ताह में 1.351 अरब डॉलर बढकर 316.238 अरब डॉलर की हो गयीं.देश का स्वर्ण आरक्षित भंडार 19.837 अरब डॉलर पर स्थिर रहा. रिजर्व बैंक के अनुसार समीक्षाधीन सप्ताह में अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आइएमएफ) में विशेष निकासी अधिकार 2.62 करोड डॉलर बढकर 4,004 अरब डॉलर हो गया जबकि आइएमएफ में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 85 लाख डॉलर बढकर 1.298 अरब डॉलर हो गया.

    Read more »
  • साइना नेहवाल मलेशिया ओपन से सेमीफाइनल में हारी

    कुआलालंपुर : मलेशिया ओपन सुपर सीरीज प्रीमियर बैडमिंटन टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में भारत की दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल को हार का सामना करना पड़ा है। इस हार से साथ ही नेहवाल 5 लाख के ईनाम वाली इस प्रतियोगिता से बाहर हो गई हैं।इस प्रतियोगिता में दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी साइना का मुकाबला तीसरी वरियता प्राप्त शुएरुई से था। अपना पहला गेम जीतने के बावजूद साइना ने अपना गेम 21-13, 17-21, 20-22 से खो दिया। पिछले हफ्ते इंडिया ओपन सुपर सीरीज का खिताब जीतने वाली साइना एक बार फिर शुएरुई की चुनौती को तोड़ने में नाकाम रही। चीन की खिलाड़ी ने साइना के खिलाफ 11 मैचों में नौवीं जीत दर्ज की।इससे पहले शुएरुई को सिर्फ दो बार 2010 में सिंगापुर ओपन और 2012 में इंडोनेशिया ओपन हराने वाली साइना ने मैच की विश्वसनीय शुरुआत की। भारतीय खिलाड़ी ने 6-6 के स्कोर के बाद बढ़त हासिल करनी शुरू की और फिर पहले गेम में लगातार अपनी स्थिति मजबूत करती रही। साइना ने पहले गेम में ब्रेक के समय 11-6 की बढ़त बनाई जिसे जल्द ही उन्होंने 15-7 कर दिया।दाएं घुटने में चोट के कारण शुएरुई की मूवमेंट थोड़ी धीमी लग रही थी जिससे साइना को पहला गेम जीतने में कोई परेशानी नहीं हुई लेकिन इसके बाद शुएरुई ने मैच में जबरदस्त वापसी करते हुए मैच पर अपना कब्जा कर लिया।  शुएरुई ने निर्णायक लम्हों में धैर्य का परिचय देते हुए गेम और मैच अपने नाम कर लिया।

    Read more »
  • एलीट पैनल में फिर आ सकते हैं भारतीय अंपायर : साइमन टोफेल

    नई दिल्ली : आईसीसी अंपायरों की एलीट पैनल में एक दशक से अधिक समय से कोई भारतीय अंपायर नहीं है, लेकिन ऑस्ट्रेलिया के अनुभवी अंपायर साइमन टोफेल का मानना है कि भारतीय अंपायर जल्दी ही एलीट ग्रुप में शामिल हो सकते हैं।टोफेल ने 2012 में संन्यास लेने से पहले 2004 से 2008 के बीच आईसीसी के सर्वश्रेष्ठ अंपायर का पुरस्कार जीता था। वह यहां आठ अप्रैल से शुरू हो रहे आईपीएल से पहले मैच अधिकारियों की कार्यशाला के संचालन के लिये आए हैं।फिलहाल, आईसीसी अंपायर परफार्मेंस और ट्रेनिंग मैनेजर टोफेल ने कहा कि भारत के अंपायर जल्दी ही एलीट पैनल में शामिल होंगे। आखिरी बार एस. वेंकटराघवन आईसीसी अंपायरों की एलीट पैनल में आखिरी भारतीय थे।उन्होंने आईपीएल टी20 डॉट कॉम से कहा, ‘टेस्ट स्तर पर अच्छा प्रदर्शन करने वाले अंपायर बनने में समय लगता है। इसमें काफी निवेश, सहयोग कार्यक्रम और विकास की जरूरत होती है जिस तरह शीर्ष स्तरीय क्रिकेटर बनने में समय लगता है। मैं बता नहीं सकता कि इतने समय से आईसीसी एलीट पैनल में भारतीय अंपायर क्यो नहीं थे लेकिन इतना जानता है कि वे इसके करीब हैं।’उन्होंने कहा, ‘मुझे खुशी है कि बीसीसीआई अच्छे प्रथम श्रेणी अंपायरों का पूल तैयार कर रहा है। जल्दी ही ये शीर्ष स्तर पर पहुंचेंगे।’ टोफेल ने कहा, ‘इसमें कोई शक नहीं कि अधिक से अधिक भारतीय अंपायरों को उच्च स्तर पर मौका मिल रहा है। हमने उनके साथ आदान प्रदान कार्यक्रम किया था। उन्हें विश्व टी20 टूर्नामेंटों में मौका मिल रहा है।’उन्होंने कहा, ‘पिछले साल पहली बार एक भारतीय अंपायर आईपीएल फाइनल में था। हम प्रगति कर रहे हैं। मेहनत रंग ला रही है जो अहम है।’ अंपायरों के बारे में पूछने पर उन्होंने स्वीकार किया कि यह काम मानसिक रूप से थकाऊ से और आईसीसी इससे निपटने के प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा, ‘विश्व कप 2015 की तैयारी के लिए हमने एक खेल मनोवैज्ञानिक की सेवाएं ली थी जिसने अंपायरों की काफी मदद की।’

    Read more »
  • 70-80 के दशक की ग्लैमरस अभिनेत्री परवीन बॉबी का जन्मदिन आज

    70 और 80 के दशक में अपने ग्‍लैमरस अंदाज से बॉलीवुड फिल्‍मों को नयी पहचान देने वाली सिने अदाकारा परवीन बॉबी का आज जन्‍मदिन है. अपने फिल्‍मी करियर के दौरान परवीन बॉबी ने उस वक्‍त के कई सुपरस्टारों के साथ काम किया.  उनकी यादगार फिल्‍मों में  दीवार, नमक हलाल, अमर अकबर अंथनी, शान, त्रिमूर्ति आदि थी. परवीन ने अपनी अदाकारी और सबसे अलग अंदाज से बॉलीवुड में अपनी अलग ही पहचान बना ली थी. महज 56 साल की उम्र में दिमागी बीमारी सिजोफ्रेनिया कीवजह से उनकी मौत हो गयी. परवीन बॉबी का फिल्‍मी सफर साल 1972 में मॉडलिंग से अपने करियर की शुरुआत करने वाली परवीन बॉबी ने 1973 में आयी फिल्‍म 'चरित्र' से अपने फिल्मी सफर की शुरुआत की. यह फिल्म तो ज्यादा चल नहीं सकी, लेकिन लोगों ने फिल्‍म परवीन बॉबी को काफी पसंद किया. इसके बाद साल 1974 में अमिताभ बच्‍चन के साथ उनकी फिल्‍म 'मजबूर' आयी. इस फिल्म के जरिये परवीन ने बॉलीवुड में अपनी जगह बनाई. इसके बाद से एक के बाद करके बॉलीवुड की ग्‍लैमरस अभिनेत्री परवीन बॉबी ने हिट फिल्‍में दीं. 70 से 80 के दशक की सफल अभिनेत्रियों में हेमा मालिनी, रेखा,जीनत अमान, जया भादुडी, रीना रॉय और राखी  के साथ परवीन बॉबी का भी नाम जोड़ा जाने लगा. समान छवि और ग्‍लैमरस लुक के कारण परवीन बॉबी की तुलना अक्‍सर जीनत अमान के साथ की जाती थी. परवीन बाबी की जोड़ी अमिताभ बच्‍चन के साथ खूब पसंद की गयी. दोनों ने साथ में 8 फिल्‍में की जिसे काफी कामयाबी मिली. 1982 में अमिताभ बच्चन के साथ आयी उनकी फिल्‍म 'नमक हलाल' ने भी सफल रहीं. लेकिन इसके बाद से परवीन बॉबी ने फिल्‍मों से दूरी बना ली थी. 1988 में फिल्म 'आरक्षण' में उन्‍हें आखिरी बार फिल्‍मों में देखा गया. परवीन का निजी जीवन परवीन बॉबी का जन्‍म गुजरात के जूनागढ़ के एक मुस्लिम परिवार में हुआ था. उनके पूर्वज गुजरात के पठान थे. वे बॉबी राजवंश से संबंध रखते थे. परवीन के पिता जूनागढ़ के नवाब के साथ एक सिस्टम प्रशासक थे. अहमदाबाद में स्‍कूली शिक्षा लेने के बाद परवीन बॉबी ने अंग्रेजी में मास्‍टर की डिग्री ली. जब परवीन 10 साल की थी तभी उनके पिता की मौत हो गयी.   परवीन का निजी जीवन बेहद पुथल भरा रहा. कई फिल्‍मों के कोस्‍टार के साथ उनके संबंध के चर्चे रहे. निर्देशक महेश भट्ट, अमिताभ बच्‍चन, कबीर बेदी, डैनी के साथ उनके नाम जुडे. बाद में परवीन ने अमिताभ खिलाफ उन्हें मारने की कोशिश करने का आरोप भी लगाया. महेश भट्ट ने 2006 में बनी अपनी फिल्‍म 'वो लम्‍हें' के माध्‍यम से परवीन के साथ अपने रिश्‍ते को दिखाया.  अपने जीवन के आखिरी दिनों में परवीन दिमागी बीमारी से पीडित हो गयीं. उन्‍हें लगता था हर वक्‍त कोई उन्‍हें मारना चाह रहा है. डाक्‍टरों से जांच के बाद उन्‍होंने परवीन को  सिजोफ्रेनि‍या सेग्रसित बताया और कमरे में ही रहने की सलाह दी. 22 जनवरी 2005 को परवीन बॉबीका शव उनके ही फ्लैट में बेहद बुरी स्‍‍थति में मिला.

    Read more »
  • पीडीपी के साथ सीएमपी में कोई समझौता नहीं: राम माधव

    बेंगलुरु। बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाने के लिए बीजेपी और पीडीपी के बीच तय साझा न्यूनतम कार्यक्रम (सीएमपी) में ऐसा कुछ नहीं है जिसे कहा जा सके कि भगवा पार्टी ने कोई समझौता किया है। माधव ने कहा कि सीएमपी सिर्फ राज्य में सुशासन एवं स्थिर सरकार देने का दस्तावेज है।   जम्मू-कश्मीर की मौजूदा सामाजिक-राजनीतिक स्थिति पर एक परिचर्चा के इतर माधव ने संवाददाताओं से कहा, 'मैं आपको आश्वस्त करता हूं कि सीएमपी में ऐसा कुछ नहीं है जिसे कहा जा सके कि हमने कोई समझौता किया है। यह सीएमपी सुशासन एवं विकासोन्मुखी स्थिर सरकार देने के लिए है।' माधव ने कहा कि बीजेपी-पीडीपी सरकार 'प्रशासन का गठबंधन है, विचारधारा का गठबंधन नहीं। इसे राजनीतिक गठबंधन भी नहीं कहा जा सकता।'   उन्होंने कहा, 'हमारे पास एक जनादेश था जिसका सम्मान करना था। राज्य में एक स्थिर सरकार देने की हमारी संवैधानिक जिम्मेदारी भी थी। सीएमपी तैयार कर हमने उस संवैधानिक दायित्व को पूरा करने की कोशिश की है।' माधव ने जोर देकर कहा कि पार्टी ने अनुच्छेद 370 के मुद्दे पर अपने राजनीतिक रुख से कोई समझौता नहीं किया है, लेकिन पीडीपी के साथ साझा न्यूनतम कार्यक्रम पर 'देश के व्यापक हितों' के लिए सहमति बनी।   उन्होंने कहा, 'अनुच्छेद 370 पर हमारा नजरिया एक जैसा नहीं है। लेकिन एक स्थिर सरकार देने और संवैधानिक दायित्वों को पूरा करनेे के लिए हम इस मुद्दे पर साझा समझौते पर पहुंचे हैं ताकि जम्मू-कश्मीर की मौजूदा संवैधानिक स्थिति को बरकरार रखा जा सके। देश के व्यापक हितों को हासिल करने के लिए राजनीति हमें संभावनाओं में जाने को प्रेरित करती है।' माधव ने कहा कि बीजेपी ने सशस्त्र बल विशेषाधिकार कानून के मुद्दे पर नपा-तुला रुख अपनाया है। इस मुद्दे पर बीजेपी और पीडीपी का नजरिया अलग-अलग है ।

    Read more »
  • अहम रेट्स में बदलाव नहीं करेंगे राजन, CRR में हो सकती है कटौती

    मुंबई। आरबीआई के गवर्नर रघुराम राजन मंगलवार को होने वाले पॉलिसी रिव्यू में रेट्स में हो सकता है कि कोई बदलाव न करें। हालांकि ईटी सर्वे में शामिल एक्सपर्ट्स ने कहा कि अगर महंगाई का लेवल 4% के फाइनल टारगेट की ओर जाता दिखे तो राजन मॉनेटरी पॉलिसी पर नरमी बनाए रखने का सिग्नल दे सकते हैं।   सर्वे में शामिल कुछ लोगों ने कहा कि कैश रिजर्व रेशियो में आरबीआई कमी कर सकता है। पॉलिसी स्टेटमेंट में आरबीआई यह चेतावनी दे सकता है कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व का ब्याज दर बढ़ाने की दिशा में उठने वाला कदम और उसकी टाइमिंग अहम होगी। राजन यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि तीन महीने से भी कम वक्त में उन्होंने दो बार जो रेट कट किए हैं, उसका फायदा बैंक आगे बढ़ाएं। राजन बेमौसम बारिश और दुनिया के कुछ हिस्सों में बढ़ते सियासी तनाव के चलते महंगाई पर पड़ने वाले असर का आकलन भी करना चाहते हैं। हालांकि ईरान से जुड़ी न्यूक्लियर डील को राहत भरी घटना माना जा रहा है।   पोल में शामिल सभी 11 इंस्टीट्यूट्स ने रेपो रेट में कटौती की गुंजाइश से इनकार किया। रेपो रेट फिलहाल 7.50% है। यह बेंचमार्क रेट है, जिस पर बैंक आरबीआई से शॉर्ट टर्म फंड उधार लेते हैं।   पोल में जवाब देने वालों में से 30-40% का कहना था कि सीआरआर में कटौती हो सकती है। सीआरआर डिपॉजिट का वह हिस्सा होता है, जिसे बैंकों को आरबीआई के पास अनिवार्य रूप से रखना होता है और उस पर बैंकों को इंटरेस्ट इनकम नहीं होती है। सीआरआर अभी 4% पर है। एक्सिस बैंक के चीफ इकनॉमिस्ट सौगत भट्टाचार्य ने कहा, 'आरबीआई को कठिन संतुलन साधना है।'   जनवरी और मार्च में आरबीआई ने रीपो रेट में 25-25 बेसिस पॉइंट्स की कमी की थी। हालांकि इसका फायदा कंज्यूमर्स तक नहीं पहुंचा है। कुछ ही सरकारी बैंकों ने उसके बाद लोन सस्ता किया है।   सीआरआर में 50 बेसिस पॉइंट्स की कटौती से बैंकिंग सिस्टम में लगभग 43,000 करोड़ रुपये आएंगे। 20 मार्च को टोटल बैंक डिपॉजिट करीब 86 लाख करोड़ रुपये का था।   एसबीआई डीएफएचआई प्राइमरी डीलरशिप के एनालिस्ट सौम्यजीत नियोगी ने कहा, 'सीआरआर में कटौती से बैंकों को ब्याज दर घटाने में मदद मिलेगी। वे इस अतिरिक्त रकम का इस्तेमाल कर्ज देने में कर सकते हैं।'   राजन के अनुसार, रेट के मामले में आरबीआई के एक्शन का असर बैंकों के जरिये आगे बढ़ने में तीन या चार तिमाहियों का वक्त लगता है। इसका अर्थ यह हुआ कि बैंकों को अक्टूबर से दरों में कमी शुरू कर देनी चाहिए।   रिलायंस म्यूचुअल फंड में फिक्स्ड इनकम हेड अमित त्रिपाठी ने कहा, 'पॉलिसी में लिक्विडिटी के मोर्चे पर कुछ कदमों से फंड की कॉस्ट घटने की उम्मीद है। ऐसे कदमों के तहत सीआरआर में कमी, टर्म रीपो में बढ़ोतरी के साथ कुछ और काम किए जा सकते हैं।'

    Read more »
  • पोप ने ईरान परमाणु समझौते को सराहा

    फ्रांसिस| वेटिकन, पोप फ्रांसिस ने ईस्टर के मौके पर ईरान के साथ परमाणु सममझौते की रूपरेखा को लेकर बनी सहमति की सराहना करते हुए विश्व शांति की प्रार्थना की. हालांकि उन्होंने लीबिया, यमन, सीरिया, इराक, नाइजीरिया और अफ्रीका के कुछ स्थानों की स्थिति को लेकर गहरी चिंता प्रकट की. उन्होंने सेंट पीटर्स स्क्वायर की सेंट्रल बॉलकनी से ईस्टर पर अपने संदेश दिया. इस मौके पर बड़ी संख्या में लोग जमा थे. यहां प्रार्थना में हजारों की संख्या में लोग बारिश के बावजूद जमा हुए थे.   पोप फ्रांसिस ने प्रार्थना के बाद कहा कि ईस्टर का दिन बहुत सुंदर है और बारिश के कारण बहुत खराब भी है. उन्होंने पिछले दिनों स्विट्जरलैंड के लुसान शहर में ईरान एवं विश्व की प्रमुख शक्तियों के बीच परमाणु मुद्दे पर बनी सहमति के बाद इस विषय में पहली बार टिप्पणी की है.     पोप ने कहा, 'दयावान ईश्वर से आस्था के साथ उम्मीद की जाती है कि हाल ही में लुसान में जिस रूपरेखा पर सहमति बनी है वह अधिक सुरक्षित और भाईचारे वाले विश्व की दिशा में महत्वपूर्ण कदम होगा.'

    Read more »
  • PSU को 30 जून तक आवंटित हो सकते हैं कोल ब्लॉक

    नई दिल्‍ली। कोयला मंत्रालय ने सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) को व्‍यावसायिक उपयोग के लिए 30 जून तक कोल ब्‍लॉक आवंटित करने का फैसला किया है। इस बात की उम्‍मीद है कि कोल लिंकेज की नीलामी के लिए भी इस समय तक पॉलिसी पेपर भी तैयार हो जाएगा। कोल लिंकेज कोल इंडिया की तरफ से लंबे अवधि तक सप्‍लाई सुनिश्चित करता है। हाल के दिनों में नॉन पावर सेक्‍टर के लिए नया सप्‍लाई कमिटमेंट नहीं दिया गया है और अधिकांश लिंकेज नामिनेशन के आधार पर है। केंद्र सरकार इस व्‍यवस्‍था को बदलना चाहती है और एक पारदर्शी प्रक्रिया के जरिए सप्‍लाई कमिटमेंट सुनिश्चित करना चाहती है। कोयला सचिव अनिल स्‍वरूप ने कहा कि इस साल जून तक नीलामी या रिडिस्‍ट्रब्‍यूशन लिंकेज के दिशानिर्देशों का अंतिम रूप सामने आ सकता है। फिलहाल यह तय नहीं किया गया है कि नीलामी में पावर प्रोड्यूसर्स को भी शामिल किया जाएगा या इसमें केवल नॉन पावर कंपनियां ही शामिल होंगी, जो बाजार भाव पर अपने उत्‍पाद बेचती हैं। उन्‍होंने कहा कि राज्‍यों में कोल ब्‍लॉक देने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी, जिसमें कंपनी की तरफ से उस राज्‍य के उपभोक्‍ता को मिलने वाले लाभ को ध्‍यान में रखा जाएगा और इस आधार पर सरकारी कंपनियों को ब्‍लॉक आवंटित किए जाएंगे। राज्‍य सरकारों को पारदर्शी प्रक्रिया के तहत कोल आवंटन की प्रणाली सुनिश्चित करनी चाहिए।

    Read more »
  • जनता परिवार के महाविलय का आगाज

    नई दिल्ली। रविवार को जनता परिवार के विलय की अंतिम बाधा भी दूर हो गई, जब लालू प्रसाद ने अपनी पार्टी मीटिंग में आरजेडी के जनता परिवार में विलय से संबंधित प्रस्ताव पास करवा लिया। नीतीश कुमार पहले ही अपनी पार्टी से इसकी सहमति ले चुके हैं। पार्टी नेताओं का दावा है कि 20 अप्रैल को शुरू हो रहे संसद सत्र से पहले जनता परिवार के विलय की औपचारिकता पूरी कर ली जाएगी। मुलायम से मिले नीतीश नीतीश कुमार के बाद लालू प्रसाद ने भी विलय के औपचारिक ऐलान, कॉमन नाम, झंडे और आगे की रणनीति के ऐलान की जिम्मेदारी एसपी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव को दे दी है। उधर विलय को लेकर रविवार को नीतीश कुमार ने ओमप्रकाश चौटाला और मुलायम सिंह यादव से मुलाकात की। जनता परिवार में एसपी के अलावा बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जेडीयू, लालू प्रसाद की पार्टी आरजेडी, ओमप्रकाश चौटाला की इंडियन नैशनल लोकदल, पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौडा की जेडीएस भी शामिल है। मुलायम करेंगे औपचारिक ऐलान लालू ने अपनी पार्टी से विलय की औपचारिक सहमति लेने के बाद एसपी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव को जनता परिवार के विलय की औपचारिक घोषणा करने को अधिकृत कर दिया है। पार्टी का चिह्न साइकिल तय किया गया है। हालांकि जनता परिवार के विलय के बाद नई पार्टी के नाम पर अभी सहमति होनी बाकी है। मुलायम स्वस्थ होते ही यह ऐलान कर देंगे। तेज हुई विलय की बात सूत्रों के अनुसार लालू प्रसाद और मुलायम सिंह यादव अलग-अलग कारणों से विलय को टालते रहे। इस बीच आरएसएस की मध्यस्थता से नीतीश कुमार की बीजेपी की अचानक बढ़ती नजदीकी की खबरों से दोनों सतर्क हो गए। लालू ने मनाया असंतुष्टों को? दरअसल जनता परिवार में विलय की देरी में अब तक सबसे बड़ी बाधा लालू प्रसाद की ओर से ही आ रही थी। उनके दल में विलय को लेकर विरोध और आशंका थी। पार्टी के कुछ सीनियर नेता लालू प्रसाद पर आरोप लगा रहे थे कि वह अपने संतान को स्थापित करने के लिए पार्टी हित से समझौता कर रहे हैं। पार्टी के सीनियर सांसद पप्पू यादव सार्वजनिक तौर पर इस गठबंधन के खिलाफ बागी हो चुके हैं। चरणबद्ध होगा विलय? सूत्रों के अनुसार जनता परिवार का विलय चरणबद्ध तरीके से होगा। सबसे पहले आरजेडी और जेडीयू मिलेंगे। विलय से पहले सभी दल इस बारे में प्रस्ताव पास कर चुनाव आयोग को भेजेंगे, जिसके बाद विलय की औपचारिकता पूरी होगी। इसमें चौटाला और देवेगौड़ा की ओर से पेंच फंसा हुआ है। वह इस नए दल में अपने प्रभाव वाले राज्य में कांग्रेस से गठबंधन नहीं चाहते। अब तक एसपी का भी कांग्रेस से गठबंधन नहीं रहा है, लेकिन बिहार में जेडीयू और आरजेडी का कांग्रेस से गठबंधन है और अक्टूबर में होने वाले विधानसभा चुनाव में साथ लड़ने की घोषणा कर चुके हैं। नीतीश ने इसके लिए फार्म्युला दिया है कि कांग्रेस से मुद्दा दर मुद्दा और राज्य दर राज्य के हिसाब से बात की जाएगी और कोई पहले से तय गठबंधन नहीं होगा। मांझी को भी मिले जगह : पप्पू यादव असंतुष्ट नेता पप्पू यादव ने कहा कि उन्हें गठबंधन से आपत्ति नहीं है लेकिन इसमें जनता और पार्टी वर्करों की भावनाओं का ख्याल रखा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि न तो वह पार्टी से अलग नहीं हो रहे हैं और न ही किसी गुट का हिस्सा नहीं हैं। उन्होंने इतना जरूर कहा कि इस गठबंधन में जीतनराम मांझी को भी जगह मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस पार्टी का कांग्रेस के साथ भी औपचारिक गठबंधन होना चाहिए। पप्पू ने कहा कि लालू किसी को भी अपना उत्तराधिकारी बनाएं, उन्हें कोई आपत्ति नहीं है। कोट- जनता परिवार के विलय की तमाम तकनीकी बाधा दूर हो गई है। मुलायम की ओर से यह घोषणा अब औपचारिकता मात्र है। अगले हफ्ते में घोषणा हो सकती है। अब लगभग तय है कि संसद के अगले सत्र में हम एक पार्टी के रूप में दिखेंगे और मोदी सरकार की जनविरोधी नीतियों पर करारा हमला होगा। केसी त्यागी, जेडीयू प्रवक्ता

    Read more »
  • 23 हजार रुपए में नीलाम हुआ नींबू

    विल्लूपुरम। बेहद कीमती सामान की नीलामी होते तो आप ने देखा होगा, लेकिन अगर एक नींबू की नीलामी 23 हजार रुपए  की हो तो आप सुनकर हैरान रह जाएंगे। आपने शायद ही कभी सुना होगा की एक नींबू 23 हजार रुपए में नीलाम हो गया। जी हां तमिलनाडु के विल्लूपुरम में एक नींबू 23 हजार रुपए में नीलाम हुआ है। इडुम्बन मंदिर में 11 दिनों चलने वाले धार्मिक उत्सव उथीराम के पहले दिन बोली में एक नींबू 23 हजार में बिका। इसके अलावा दस और नींबू को श्रद्धालुओं ने 61 हजार रुपए में खरीदा। विल्लूपुरम के लोगों की आस्था है कि इस मंदिर में देवी-देवता को फल चढ़ाने से उनकी मनोकामना पूरी होती है और इससे उनके परिवार में समृद्धि आती है। लोग कहते हैं कि यहां से खरीदे गए नींबू उन्हें हर मुसीबत से बचाते हैं। नींबू की खासियत यह है कि तेज गर्मी होने के बावजूद यह कई दिनों तक हरा रहता है।

    Read more »
  • अपनी सीमा में रहे खिलाड़ी : पोंटिंग

    आस्ट्रेलिया की दो बार आईसीसी विश्व कप विजेता क्रिकेट टीम के कप्तान रहे दिग्गज बल्लेबाज एवं इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की टीम मुंबई इंडियंस के कोच रिकी पोंटिंग ने रविवार को कहा कि मैदान पर खिलाड़ियों के बीच होने वाली छींटाकशी खेल का हिस्सा है, लेकिन खिलाड़ियों को सीमारेखा नहीं लांघनी चाहिए। पोंटिंग ने कहा, "मेरा मानना है कि यह सब खेल का हिस्सा है। लेकिन खिलाड़ियों को अपनी सीमा समझनी चाहिए। उन्हें वह सीमारेखा कभी पार नहीं करनी चाहिए। हम अपने खिलाड़ियों से भी ऐसा ही कहते हैं।" उन्होंने आगे कहा, "इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि विश्व कप में क्या हुआ या उससे पहले क्या हुआ। हमें सुनिश्चित करना होगा कि हम अपने खिलाड़ियों पर नियंत्रण रखेंगे और उन्हें समझा पाएंगे कि हमें कैसे खेलना है।" इसके अलावा उन्होंने मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा की जमकर सराहना की। पोंटिंग ने कहा कि आईपीएल-8 में रोहित की कप्तानी देखने लायक होगी। रोहित की कप्तानी में मुंबई इंडियंस 2013 में आईपीएल जीतने में सफल रहे थे। पोंटिंग ने आईपीएल के आठवें सत्र से पूर्व संवाददाता सम्मेलन में कहा, "रोहित की कप्तानी देखने लायक होगी। छठे संस्करण में मेरी जगह कप्तान बनने के बाद रोहित ने टीम को पहला खिताब दिलाया और जिस अंदाज में उन्होंने मैदान पर टीम का नेतृत्व किया वह काबिलेतारीफ रहा।" पोंटिंग ने कहा, "उसे इस खेल की बहुत अच्छी समझ है और वह टीम के साथी खिलाड़ियों से अच्छी तरह संपर्क बनाए रखता है।" एरॉन फिंच, रोहित, कोरी एंडरसन, मिशेल मैक्लेनघन और लसिथ मलिंगा आईसीसी विश्व कप-2015 में खेलकर सीधे आईपीएल के आठवें संस्करण में मुंबई इंडियंस के लिए खेलेंगे। पोंटिंग से जब पूछा गया कि क्या प्रारूप में परिवर्तन का खिलाड़ियों पर असर नहीं पड़ेगा तो उन्होंने कहा, "सभी खिलाड़ी अनुभवी हैं। वे अलग-अलग प्रारूप में कुछ दिनों के अंतर पर खेलने के आदी रहे हैं। हमने अच्छी तैयारी की है और उम्मीद है कि वे मैच में अपना सर्वश्रेष्ठ देंगे।"

    Read more »
  • प्रिंस हैरी पहुंचे ऑस्ट्रेलिया

    लंदन कैनबरा| ब्रिटेन के राजकुमार प्रिंस हैरी ऑस्ट्रेलियाई रक्षा बल (एडीएफ)के साथ चार सप्ताह तक काम करने के लिए सोमवार को ऑस्ट्रेलिया पहुंच गए। 'बीबीसी' की रिपोर्ट के अनुसार, प्रिंस हैरी ब्रिटेन की सेना को 10 वर्षो तक सेवा देने के बाद जून में सेवानिवृत्त होने जा रहे हैं। उन्हें उनकी सैन्य भूमिका के लिए 'कैप्टन वेल्स' कहा जाता है।उन्होंने महारानी एलिजाबेथ का पत्र भी पेश किया, जिसमें महारानी ने लिखा है, "मुझे खुशी है कि ऑस्ट्रेलिया वासियों और ब्रिटेन की सेना के बीच के एक दीर्घकालिक और स्थायी संबंध को मेरे पोते प्रिंस हैरी आगे बढ़ाएंगे।"महारानी ने लिखा, "मैं जानती हूं कि कैप्टन वेल्स को ऑस्ट्रेलियाई सैनिकों के साथ समय बिताने से बहुत फायदा होगा। मैं उन्हें उनका अपने वर्ग में स्वागत करने के लिए आपको धन्यवाद देती हूं।"प्रिंस हैरी ने ड्यूटी पर रिपोर्ट करने से पूर्व कैनबरा स्थित एक सैन्य स्मारक पर पुष्पचक्र अर्पित किया।सार्वजनिक प्रसारक 'एबीसी' की रिपोर्ट के अनुसार, प्रिंस हैरी उसके बाद ड्यूटी पर रिपोर्ट करने के लिए डुनट्रन हाउस में रक्षा प्रमुख मार्क बिंस्किन से मिले। वह पर्थ में स्पेशल एयर सर्विस रेजिमेंट कमांडो और नॉर्दर्न टेरिटरी में स्वेदशी सैनिकों के साथ वक्त बिताएंगे। उन्हें सेना की सिडनी स्थित छठी एविएशन रेजिमेंट का भी प्रशिक्षण दिया जाएगा।वह न्यूजीलैंड का आधिकारिक दौरा भी करेंगे।

    Read more »
  • महेंद्र सिंह धोनी सबसे धैर्यवान कप्तान: माइकल हसी

    चेन्नई : ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज माइकल हसी ने आज महेंद्र सिंह धोनी को सबसे धैर्यवान कप्तान करार देते हुए कहा कि वह चाहेंगे कि पारी के अंत में चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान जैसा धैर्य उनके अंदर भी हो। मुंबई इंडियन्स के साथ एक सत्र बिताने के बाद यह 39 वर्षीय बल्लेबाज बुधवार से शुरू हो रहे आईपीएल आठ में एक बार फिर धोनी की टीम का हिस्सा होगा।आईपीएल की वेबसाइट ने हसी के हवाले से कहा, मुझे उसकी ताकत पसंद है। मैं चाहूंगा कि पारी के अंत में उसके जैसा धैर्य मेरे अंदर भी हो। कभी कभी मुझे लगता है कि मेरे अंदर भी यह है लेकिन मैं आपसे कहता हूं कि मेरे पास यह नहीं है। पारी के अंत में धोनी बल्ले से लाजवाब है क्योंकि वह धर्यवान है और वह सारी रणनीति बनाकर रखता है।ऑस्ट्रेलिया के बायें हाथ के इस बल्लेबाज का साथ ही मानना है कि धोनी बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए हमेशा सकारात्मक रहता है। वनडे विश्व कप में धोनी, माइकल क्लार्क और ब्रैंडन मैकुलम के बारे में तुलना करने के लिए कहने पर हसी ने कहा कि भारतीय कप्तान सबसे अधिक धैर्यवान है।

    Read more »
  • भारत ने 574 नागरिकों को यमन से निकाला

    नई दिल्ली| संकटग्रस्त यमन की राजधानी सना से सोमवार को एयर इंडिया के विमान से 574 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला गया, वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बचाव प्रयास में शामिल गैर रक्षा एवं रक्षा अधिकारियों तथा संगठनों के प्रयासों की प्रशंसा की। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अकबरूद्दीन ने ट्वीट किया, "प्रयासों में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। सना से आज (सोमवार) सबसे ज्यादा संख्या में लोगों को बाहर निकाला गया। आज 574 लोगों को सना से जिबूती पहुंचाया गया।"भारत अपने तीन हजार से अधिक नागरिकों को हवाई तथा समुद्री मार्ग से बाहर निकाल चुका है।संकटग्रस्त यमन से अपने नागरिकों को बाहर निकालने के लिए बांग्लादेश, फ्रांस, जर्मनी, अमेरिका तथा श्रीलंका सहित 23 देशों ने भारत से अनुरोध किया है। मोदी ने एक आधिकारिक बयान में कहा, "यमन से अपने लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए हम अपने गैर रक्षा एवं रक्षा अधिकारियों तथा संगठनों की सेवाओं का नमन करते हैं।"प्रधानमंत्री ने कहा, "विभिन्न संगठनों जैसे विदेश मंत्रालय, नौसेना, वायुसेना, एयर इंडिया, जहाजरानी, रेलवे तथा राज्य सरकारों के बीच सहज सहयोग से बचाव अभियान में बेहद मदद मिली।"उन्होंने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज तथा विदेश राज्य मंत्री वी.के.सिंह की भी उनके प्रयासों के लिए तारीफ की।उन्होंने कहा, "उन्होंने अनुकरणीय तरीके से समन्वित निकासी का प्रयास किया है। इस बात से भी हमें खुशी है कि हम कई गैर भारतीय लोगों को भी यमन से बाहर निकालने में सफल हुए हैं। संकटग्रस्त यमन में फंसे अपने लोगों को निकालने का प्रयास भारतवासियों की सेवा तथा संकट में फंसे अन्य लोगों की मदद की तत्परता को दर्शाता है, जो भारत का चरित्र है।"सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया, "भारत से 23 देशों ने यमन से अपने नागरिकों को बाहर निकालने के लिए अनुरोध किया है।"सुषमा ने रविवार को ट्वीट किया था कि भारत अपने सभी नागरिकों को यमन से बाहर निकाल लेगा। यात्रा दस्तावेजों के चलते किसी को वहां नहीं छोड़ा जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि दक्षिणी यमन के शहर अदन से सभी भारतीय नागरिकों को बाहर निकाल लिया गया है। उन्होंने कहा, "अदन से सभी भारतीय बाहर निकाले गए। भारतीय नौसेना को धन्यवाद।"

    Read more »
  • रक्षा मंत्री पर्रिकर ने राडार पर नजर नहीं आने वाली पहली स्वदेशी पनडुब्बी लांच की

    नई दिल्ली: रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने मझगांव डॉकयार्ड लिमिटेड में स्वदेशी तकनीक से निर्मित हो रही पहली पनडुब्बी स्कॉर्पियन को सोमवार को लांच किया। स्कॉर्पियन भारतीय नौसेना के पनडुब्बी कार्यक्रम की महत्वाकांक्षी परियोजना 75 का हिस्सा है। यह कार्यक्रम फ्रांस के सहयोग से चल रहा है। इसके तहत अगले कुछ वर्षो में नौसेना के बेड़े में इसी तरह की छह पनडुब्बियां शामिल की जाएंगी। भारतीय नौसेना की स्कॉर्पियन श्रेणी की छह स्टील्थ पनडुब्बियों में से पहली ‘कलवारी’ को आज गोदी से बाहर लाया गया । इसके साथ ही पनडुब्बी के समुद्री परीक्षण और सितंबर 2016 में नौसैनिक बेड़े में शामिल करने का रास्ता प्रशस्त हो गया है। राडार पर नजर नहीं आने वाली इस पनडुब्बी को गोदी से बाहर लाये जाने के कार्यक्रम में रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर भी मौजूद थे। उन्होंने चेताया कि आगे से किसी भी परियोजना में देरी होने पर जुर्माना लगेगा और जल्दी काम पूरा करने पर पुरस्कृत किया जाएगा। भारतीय नौसेना के लिए छह स्कॉर्पियन श्रेणी की स्टील्थ पनडुब्बियों का निर्माण मझगांव लिमिटेड फ्रांस के एक फर्म डीसीएनएस के साथ मिलकर कर रहा है। इस परियोजना को ‘प्रोजेक्ट 75’ का नाम दिया गया है । इसमें पहले ही करीब 40 महीने की देरी हो चुकी है । इसकी पहली पनडुब्बी 2012 में नौसेना को सौंपी जानी थी, हालांकि अब इसकी तिथि बढ़ाकार सितंबर 2016 कर दी गयी है। नौसेना ने कहा कि परियोजना अब पटरी पर लौट आयी है और बाकि पांच पनडुब्बियों के सौंपे जाने की समयसीमा कम कर दी गयी है। पर्रिकर ने रक्षा क्षेत्र की सार्वजनिक गोदियों यानी एमडीए और गोवा शिपयार्ड से अगले तीन साल में अपना उत्पादन दोगुना करने को कहा है। उन्होंने कहा, ‘मैंने रक्षा क्षेत्र के सभी सार्वजनिक उपक्रमों को अगले तीन साल में अपना उत्पादन दोगुना करने को कहा है।’

    Read more »
  • आरबीआई ने किया क्रेडिट पॉलिसी का ऐलान, ब्‍याज दरों में बदलाव नहीं

    नई दिल्ली : भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने मंगलवार को क्रेडिट पॉलिसी का ऐलान कर दिया। आरबीआई की ब्‍याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। ब्‍याज दरें कम न होने की वजह से ईएमआई घटने होने की उम्‍मीदें खत्‍म हो गईं। वहीं, आरबीआई ने रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया है। साथ ही सीआरआर में भी कोई बदलाव नहीं हुआ है।भारतीय रिजर्व बैंक ने नीतिगत ब्याज दर, सीआरआर अपरिवर्तित रखा है। आरबीआई ने कहा कि आर्थिक आंकड़ों को देखकर और उदार रवैया अपना सकता है। आरबीआई को उम्मीद है कि चालू वित्त वर्ष के दौरान खुदरा मुद्रास्फीति 5-5.5 प्रतिशत के आस-पास स्थिर रहेगी। आरबीआई को वित्त वर्ष 2015-16 के दौरान 7.8 प्रतिशत वृद्धि की उम्मीद जो 2014-15 के 7.5 प्रतिशत की अनुमानित वृद्धि से अधिक है। गौर हो कि बैंकों व विशेषज्ञों का पहले से मानना था कि देश के विभिन्न इलाकों में बेमौसम की बारिश की वजह से खाद्य वस्तुओं के दाम चढ़े हैं जिसकी वजह से केंद्रीय बैंक ब्याज दरों में कटौती नहीं करेगा। केंद्रीय बैंक ने आज अपनी सालाना मौद्रिक समीक्षा पेश कर दिया। विशेष रूप से मूल्य की मौजूदा स्थिति व केंद्रीय बैंक द्वारा हाल के समय में दो बार ब्याज दरों में कटौती के मद्देनजर इस बार इसकी गुंजाइश नहीं थी। इससे पहले रिजर्व बैंक ने 15 जनवरी व 4 मार्च को मुख्य नीतिगत दरों यानी रेपा रेट में 0.25-0.25 प्रतिशत की कटौती की थी। दोनों बार कटौती मौद्रिक नीति की नियमित समीक्षा से अलग की गई थी। हाल के हफ्तों में बेमौसम बारिश से रबी की फसल मसलन गेहूं, तिलहन व दलहन पर प्रतिकूल असर पड़ा है। इससे फसल उपज पर 25 से 30 प्रतिशत की कमी आ सकती है। आज की क्रेडिट पॉलिसी के ऐलान में संभवत: इस पहलू को भी ध्‍यान में रखा गया है।

    Read more »
  • ईशांत शर्मा ने कहा, अगर धोनी कहें तो 24वीं मंजिल से भी कूद जाऊं

    तेज़ गेंदबाज़ ईशांत शर्मा का कहना है कि महेंद्र सिंह धोनी के कहने पर मैं 24वीं मंजिल से भी कूद सकता हूं। ईशांत घुटने में चोट की वजह से वर्ल्ड कप में नहीं खेल सके थे, जिसका उन्हें काफ़ी अफ़सोस है। धोनी ने ईशांत को समझाया, जिससे ईशांत को इस सदमे से बाहर आने में मदद मिली। ईशांत कहते हैं, 'मुझे बहुत दुख हुआ कि मैं विश्व कप के लिए चुना गया, लेकिन चोट के कारण वापस लौटना पड़ा। बहुत दुख होता है जब आप इन चीज़ों को संभाल नहीं पाते हैं जो आपके हाथ में नहीं होती हैं। ये भी जीवन के एक हिस्सा था। इसे भूलकर मैं आगे बढ़ना चाहता हूं। ज़्यादा सोचने से आप खुद को परेशान करते हैं।' दिल्ली के रहने वाले 26 साल के ईशांत का कहना है कि वे अपनी फ़िटनेस को लेकर ज़्यादा संवेदनशील हो गए हैं। वह कहते हैं, 'मैं अपनी फ़िटनेस पर ज़्यादा ध्यान दे रहा हूं, लेकिन चोट लगना हमारे हाथ में होता नहीं है। चोट खिलाड़ी के करियर का हिस्सा होता है। मैं अपनी ट्रेनिंग और जीवन में संयम अपना रहा हूं। लेकिन चोट नहीं लगेगी इसकी कोई गारंटी नहीं है।' फ़िट होने के बाद अब ईशांत को भरोसा है कि वह आईपीएल में अपनी टीम सनराइज़र्स हैदराबाद के लिए अच्छा प्रदर्शन करेंगे। ईशांत का मानना है कि एक गेंदबाज़ वनडे से बेहतर प्रदर्शन टी20 में कर सकता है। उनके अनुसार ये क्रिकेट का सबसे आसान फ़ॉर्मैट है। वह कहते हैं, 'टी20 में घेरे के बाहर एक फ़ील्डर को रखा जाता है जबकि वनडे में 4 फ़ील्डर घेरे के बाहबर रखने का नियम है। इसलिए मेरे हिसाब से टी20 वनडे से ज़्यादा आसान है।' सनराइज़र्स हैदराबाद में उन्हें भुवनेश्वर कुमार, प्रवीण कुमार, दक्षिण अफ़्रीका के डेल स्टेन और न्यूज़ीलैंड के ट्रेंट बोल्ट के साथ गेंदबाज़ी करने का मौक़ा मिलेगा।

    Read more »
  • सेक्स विशेषज्ञ की सलाह, कक्षा में दिखाया जाए पोर्न

    लंदन| पूरी दुनिया में शिक्षाविदों के बीच जहां यौन शिक्षा को स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल करने पर अभी बहस जारी है, वहीं डेनमार्क के एक सेक्स विशेषज्ञ ने कक्षा में ही पोर्न फिल्में दिखाए जाने की सलाह दे डाली है। समाचार पत्र 'द गार्डियन' में प्रकाशित रपट में आलबोर्ग विश्वविद्यालय के प्रोफेसर क्रिस्टियन ग्रॉगार्ड के हवाले से कहा गया है कि इससे बच्चों को कर्तव्यनिष्ठ और ईमानदार उपभोक्ता बनाने में मददगार साबित हो सकती है और बच्चे पोर्न तथा वास्तविक जीवन के यौन संबंध के बीच के अंतर को ज्यादा अच्छी तरह समझ सकते हैं।ग्रॉगार्ड ने कहा, "मेरा सुझाव है कि अच्छी तरह प्रशिक्षित शिक्षकों की मदद से आठवीं और नौवीं कक्षा के बच्चों के साथ संवेदनात्मक शिक्षाप्रद तरीके से पोर्न पर गंभीर बहस की जानी चाहिए।"उल्लेखनीय है कि डेनमार्क में 1970 से ही यौन शिक्षा स्कूली पाठ्यक्रम का अनिवार्य हिस्सा है और कई स्कूलों के पाठ्यक्रमों में तो पोर्न को भी शामिल कर लिया गया है। हालांकि डेनमार्क के सभी स्कूलों में अभी इसे शुरू नहीं किया गया है।इससे पहले प्रोफेसर ग्रॉगार्ड डेनमार्क के सरकारी प्रसारक 'डीआर' से कह चुके हैं कि कक्षा में पोर्न फिल्में दिखाना यौन शिक्षा से बेहतर है, क्योंकि यौन शिक्षा के अंतर्गत ककड़ी के ऊपर कंडोम पहनाने जैसी शिक्षण विधि अब पुरानी और उबाऊ हो चुकी है।प्रोफेसर ग्रॉगार्ड के अनुसार, "अब हम अनुसंधान के जरिए जान चुके हैं कि अधिकांश किशोर पोर्न काफी कम उम्र से ही पोर्न से परिचित हो चुके होते हैं। इसका मतलब यह है कि आप उन्हें कक्षा में पहली बार पोर्न नहीं दिखाएंगे।"डेनमार्क दुनिया का पहला देश है, जिसने 1967 में सबसे पहले पोर्न से प्रतिबंध समाप्त कर दिया था।

    Read more »
  • सऊदी के विमान दस्ते का एडन पर हवाई हमला

    एडेन. सऊदी अरब के नेतृत्व में संगठित गुट के लड़ाकू विमान दस्ते ने दक्षिणी यमन में स्थित अल-अनद हवाई छावनी पर बीती रात हमला बोल दिया। स्थानीय लोगों और अधिकारियों के हवाले से आ रही खबरों के मुताबिक सऊदी हवाई दस्ते अल-अनद हवाई छावनी के साथ-साथ, आस-पास के इलाकों को भी निशाना बना रहे हैं। इस इलाके से भारी बमबारी की जानकारी मिली है। सऊदी अरब की अगुआई में बने इस गुट में स्थानीय सहायकों के अलावा चार गल्फ देश भी शामिल हैं। इस गुट ने बीते दो सप्ताह से हाउथी समूह के खिलाफ लड़ाई छेड़ रखी है। यमन की राजधानी सना पर हाउथी समूह का कब्जा पहले ही हो चुका है। हाउथी और सऊदी अरब के बीच एडन पर नियंत्रण स्थापित करने की ये निर्णायक लड़ाई चल रही है। सऊदी गुट द्वारा भारी बमबारी के बावजूद हाउथी आगे बढ़ने में अब तक सफल रहे हैं। ईरान के सहयोग से हाउथी न केवल सऊदी गुट के आगे जमकर खड़े हैं, बल्कि उन्होंने आधे से अधिक एडन पर अपना कब्जा भी कायम कर लिया है। संगठन मध्य एडन तक पहुंचने में भी सफल हो गया है। मध्य एडन को अपदस्थ राष्ट्रपति अब्द-रब्बू मंसूर हादी के समर्थकों का आखिरी मजबूत आधार माना जा रहा है। राष्ट्रपति मंसूर हादी को सऊदी का समर्थन प्राप्त है। इसी बीच, दक्षिणी मोर्चे पर लड़ रहे सऊदी समर्थित संगठनों ने हाउथी समूह को दक्षिण के कुछ इलाकों से पीछे हटने पर मजबूर कर दिया है। अल-अनद हवाई छावनी, एडन से तकरीबन 50 किलोमीटर के फासले पर है। पूर्व राष्ट्रपति, अली अब्दुल सलेह, जिनके समर्थकों ने हाउथी समूह के साथ हाथ मिला लिया है, के भी अभी तक छावनी के अंदर होने की खबर आ रही है। अधिकारियों के मुताबिक एडन के उत्तर में स्थित धालेआ प्रांत में भी हाउथी वर्चस्व वाले इलाकों में हवाई बमबारी की जा रही है। हालांकि राजाधानी सना में, जहां पहले सऊदी गुट द्वारा हाउथी संगठन के ठिकानों व आयुध भंडार पर भारी हवाई हमला हो रहा था, बीती रात अपेक्षाकृत काफी शांति थी।

    Read more »
  • परमाणु हथियार संपन्न देशों के बीच हो सार्थक वार्ता : भारत

    संयुक्त राष्ट्र : भारत ने परस्पर विश्वास निर्मित करने और रक्षा सिद्धांतों में परमाणु हथियारों की प्रमुखता को कम करने के लिए परमाणु हथियार रखने वाले देशों के बीच ‘सार्थक वार्ता’ की सलाह दी है। परमाणु निरस्त्रीकरण सम्मेलन में भारत के स्थाई प्रतिनिधि वेंकटेश वर्मा ने कहा कि भारत ने समग्र परमाणु हथियार संधि पर वार्ता शुरू करने के लिए निरस्त्रीकरण सम्मेलन में गुट निरपेक्ष आंदोलन के प्रस्ताव का समर्थन किया है । वर्मा ने संयुक्त राष्ट्र निरस्त्रीकरण आयोग :यूएनडीसी: के एक सत्र में यहां कहा, ‘हमने परस्पर विश्वास निर्मित करने और अंतरराष्ट्रीय मामलों एवं रक्षा सिद्धांत में परमाणु हथियारों की प्रमुखता को कम करने के लिए परमाणु हथियार रखने वाले सभी देशों के बीच सार्थक वार्ता का आह्वान किया है।’ उन्होंने कहा, ‘भारत वैश्विक, भेदभाव रहित, सत्यापन योग्य परमाणु निरस्त्रीकरण और समयबद्ध तरीके से परमाणु हथियारों को पूरी तरह खत्म किए जाने को प्राथमिकता देता है। वर्मा ने कहा कि परस्पर विश्वास निर्मित करने वाले कदमों की शुरूआत और अपनाने से संबंधित दायित्व देशों का विशेषाधिकार तथा उनकी सहमति का विषय होना चाहिए और इसे ऐसे तरीके से क्रियान्वित किया जाना चाहिए कि यह संबद्ध देशों के लिए आसान हो। वर्मा ने कहा कि भारत इस उम्मीद के साथ परमाणु हथियारों के मानवीय प्रभाव विषय पर आयोजित वियना सम्मेलन में शामिल हुआ कि मानवता के अस्तित्व के लिए सबसे गंभीर खतरे पर नए सिरे से ध्यान दिए जाने से इन हथियारों के इस्तेमाल पर रोक और अंतरराष्ट्रीय कानूनी परिप्रेक्ष्य में असंतुलन को दूर करने के लिए गति उत्पन्न करने में मदद मिलेगी जो खासकर परमाणु हथियार रखने पर रोक को लेकर केंद्रित रहा है। उन्होंने जोर देकर कहा कि यूएनडीसी की वर्तमान मुश्किलें मशीनरी में किन्हीं निहित खामियों से कम संबंधित हैं और उसका ज्यादा रिश्ता सदस्य देशों की बहुपक्षीय मंचों पर जाने की राजनीतिक इच्छाशक्ति की कमी से है जो समूचे अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए महत्वपूर्ण होता। वर्मा ने कहा, ‘ऐसे समय जब अविश्वास और अंतरराष्ट्रीय तनाव बढ़ रहा है, तब वार्ता और सहयोग के लिए मंच के रूप में इस आयोग की भूमिका का काफी महत्व है। आयोग एजेंडे पर ध्यान देकर तथा परिणामोन्मुखी चर्चा के जरिए अपनी कार्यशैली में सुधार के लिए अधिक प्रयास कर सकता है।’ भारत ने आयोग के 2015 के एजेंडे में किसी भी नए सुधार के प्रति समर्थन व्यक्त किया है, बशर्ते यह सर्वसम्मति बनाने के लिए आधार तैयार करता हो और निरस्त्रीकरण एजेंडे से जुड़ी नयी तथा उभरती चुनौतियों से सार्थक ढंग से निपटने में अंतरराष्ट्रीय समुदाय की मदद करता हो। ठोस दिशा निर्देश अपनाने में 15 साल के इसके गतिरोध के बावजूद वार्ता को आगे बढ़ाने के नजरिए से निरस्त्रीकरण आयोग दो दिन की गहन चर्चा के दो दिन बाद वर्तमान त्रि-वर्षीय चक्र के लिए अस्थाई एजेंडा स्वीकार करने में सफल हुआ।

    Read more »
  • 'सीरिया में जन्मे पूर्व इमाम की लंदन में गोली मारकर हत्या'

    लंदन : ब्रिटेन में रहने वाला एक सीरियाई व्यक्ति पश्चिमोत्तर लंदन में अपनी कार में मृत मिला जिसके बारे में कहा गया है कि वह एक प्रमुख कार्यकर्ता होने के साथ ही राष्ट्रपति बशर अल असद का विरोधी था। बीबीसी ने आज कहा कि चिकित्साकर्मियों ने पुलिस को तब बुलाया जब उन्हें लगा कि व्यक्ति को सीने में गोलियां लगी हैं। बीबीसी ने कहा, ‘मृतक अब्दुल हादी अरवानी था जो एक शेफ और लंदन की मस्जिद का पूर्व इमाम था।’ हालांकि लंदन पुलिस ने मृतक के पहचान की पुष्टि नहीं की है लेकिन पश्चिमोत्तर लंदन के वेंबली में एक कार में एक व्यक्ति के मृत मिलने के बाद हत्या की जांच जारी है। लंदन मेट्रोपालिटन पुलिस ने एक बयान में कहा, ‘जांचकर्ताओं का मानना है कि उन्हें मृतक की पहचान की जानकारी है, यद्यपि औपचारिक पहचान का इंतजार है।’ बयान में कहा गया है, ‘पोस्टमार्टम जल्द की जाएगी।’

    Read more »
  • मोदी के पास नहीं है दिमाग : ममता बनर्जी

    कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मजाक उड़ाया है। उन्होंने कहा कि मोदी के पास दिमाग नहीं है। ममता भूमि अध्यादेश के खिलाफ अपनी पार्टी द्वारा आयोजित एक रैली में बोल रही थीं। ममता ने मोदी के मन की बात कार्यक्रम का मजाक उड़ाते हुए अपने अंदाज में कहा, 'मन का बात, पता नहीं है कैसा बात। दिमाग ही नहीं है तो दिमाग चलेगा कैसे?' ममता ने कहा,'मोदी लगातार झूठे भाषण दे रहे हैं। वे (बीजेपी) सिर्फ सांप्रदायिक सद्भाव को नष्ट करने में लगे हुए हैं। वे चर्चों को नष्ट कर रहे हैं और सांप्रदायिक घटनाओं को उसका रहे हैं।' ममता ने कहा,'हमने सबसे पहले भूमि अध्यादेश का मसला उठाया। हम हमेशा से जबरदस्ती किसी किसान की जमीन लिए जाने के खिलाफ हैं। हम किसी दबाव के आगे कभी नहीं झुकेंगे। भूमि मसले पर हमारा रुख पहले जैसा ही है।' सीबीआई नोटिस के बारे में पूछे जाने पर ममता ने कहा कि वे तृणमूल कांग्रेस जैसी गरीब पार्टी का अकाउंट डीटेल्स चाहते हैं। ममता ने बीजेपी की ओर इशारा किया और कहा,'उनके बारे में आप क्या कहेंगे? क्या उन्होंने कभी अपने चुनावों के खर्चे के बारे में बताया?'

    Read more »
  • मुल्ला फजल्लुलाह पर संयुक्त राष्ट्र ने लगाया प्रतिबंध

    संयुक्त राष्ट्र। पाकिस्तानी तालिबान के प्रमुख मुल्ला फजल्लुलाह पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने प्रतिबंध लगा दिया है। पाकिस्तान के पेशावर में पिछले साल सैन्य स्कूल पर हुए हमले के मास्टरमाइंड पर यह कार्रवाई आतंकी गतिविधियों और इसके लिए पैसा मुहैया कराने को लेकर की गई है। इस हमले में 132 बच्चे, 10 शिक्षक और तीन सैनिक मारे गए थे।सुरक्षा परिषद ने मंगलवार को इस 40 वर्षीय आतंकी का नाम अल कायदा प्रतिबंधों की सूची में शामिल करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। इससे उसकी संपत्ति जब्त करने और उसपर यात्रा एवं हथियार प्रतिबंध लगाने का रास्ता साफ हो गया है। इससे पहले जनवरी में अमेरिका ने फजल्लुलाह को वैश्विक आतंकी घोषित करते हुए उसके खिलाफ प्रतिबंध लगाए थे।फजल्लुजाह को रेडियो मुल्ला के नाम से भी जाना जाता है। पिछले महीने पाकिस्तान के अशांत खैबर कबायली इलाके में हवाई हमलों में वह गंभीर रूप से घायल हो गया था। नवंबर 2013 में अमेरिकी ड्रोन हमले में हकीमुल्लाह के मारे जाने के बाद वह तालिबान का प्रमुख बना था। इससे पहले वह स्वात घाटी में संगठन का नेता था।2013 में पाकिस्तानी सेना के वरिष्ठ अधिकारी मेजर जनरल सनाउल्ला नियाजी की हत्या और 2012 में स्कूली छात्रा मलाला यूसुफजई पर हमला करने का आदेश भी उसने ही दिया था। जून 2012 में 17 पाकिस्तानी सैनिकों पर हमला करने और तालिबान के खिलाफ शांति समिति का नेतृत्व करने वाले बुजुर्गो की हत्या करने का भी उसे जिम्मेदार माना जाता है।

    Read more »
  • यमन में फंसे अबतक 4500 भारतीयों को निकाला गया

    नई दिल्ली: युद्धग्रस्त यमन में फंसी 140 नसो’ की मदद की गुहार पर भारत ने वहां से अपने नागरिकों को हवाई मार्ग से सुरक्षित निकालने के अभियान को एक और दिन के लिए बढ़ा दिया है। आज 450 लोगों को निकालने के साथ ही भारत अब तक वहां से 4500 लोगों को निकाल चुका है। अधिकारियों ने बताया कि एयर इंडिया ने सना से 450 लोगों को आज निकाला और अन्य बचे नागरिकों को समुद्र मार्ग से निकालने के लिए अल हुदैदाह के समीप आईएनएस सुमित्रा पोत मौजूद है।वायु मार्ग से बचाव कार्य को एक दिन और बढ़ाने की घोषणा करते हुए विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया, ‘ 140 नसो’ की गुहार को देखते हुए भारत ने यमन से वायु मार्ग के जरिए चलाए जा रहे बचाव कार्य को एक दिन बढ़ाने का निर्णय किया है। अनुमति मिलने पर कल के लिए भी उड़ानों की व्यवस्था की गई है।’ कल उन्होंने कहा था कि वायु मार्ग से बचाव कार्य का आज आखिरी दिन होगा। भारत को अमेरिका, बांग्लादेश और इराक सहित 26 देशों से भी उनके नागरिकों को यमन से निकालने के आग्रह मिले हैं। पाकिस्तान ने हालांकि ऐसा कोई आग्रह नहीं किया है लेकिन भारत ने बचाव अभियान के दौरान कई पाकिस्तानी नागरिकों को भी यमन से सुरक्षित निकाला है। यमन से सुरक्षित निकाले जाने वाले व्यक्तियों को पहले उसके पड़ोसी देश जिबूती लाया जाता है और वहां से भारतीय वायुसेना के विमान उन्हें भारत लाते हैं। अरब देश यमन में सउदी नेतृत्व वाले गठबंधन और शिया विद्रोहियों के बीच भीषण संघर्ष चल रहा है। शिया विद्रोहियों ने वहां के राष्ट्रपति आबिदराब्बो मंसूर हादी के गढ़ माने जाने वाले क्षेत्रों सहित कई शहरों में कब्जा जमा लिया है। राष्ट्रपति देश छोड़ कर अन्यत्र चले गए हैं।

    Read more »
  • जीत के साथ आगाज करने उतरेंगे चेन्नई सुपर किंग्स

    चेन्नई, एजेंसी, आईपीएल की सबसे कामयाब टीम चेन्नई सुपर किंग्स मैदान से बाहर के विवादों को भुलाकर गुरुवार को दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ इस टी20 क्रिकेट लीग के अपने पहले मैच में जीत के साथ आगाज करने के इरादे से उतरेगी। चेन्नई सुपर किंग्स स्पाट फिक्सिंग के आरोपों से घिरी रही जिसके टीम प्रिंसिपल गुरुनाथ मयप्पन को पिछले साल उच्चतम न्यायालय द्वारा गठित जांच समिति ने कसूरवार ठहराया था। आईपीएल के पिछले सात सत्र में हमेशा सेमीफाइनल में पहुंची चेन्नई टीम लगातार चार फाइनल खेल चुकी है और दो खिताब अपने नाम किए हैं। इस बार भी महेंद्र सिंह धौनी की करिश्माई कप्तान और कोच स्टीफन फ्लेमिंग के मार्गदर्शन में टीम कामयाबी की बुलंदियों को छूना चाहेगी। उसका इरादा खिताब जीतकर अपने आलोचकों का मुंह बंद करने का भी होगा।   टीम के प्रमुख खिलाड़ी लगभग वही है लेकिन टीम ने इस बार इरफान पठान, माइकल हसी, काइल एबोट और राहुल शर्मा को भी खरीदा है। विश्व कप में शानदार फार्म में रहे न्यूजीलैंड के कप्तान ब्रेंडन मैकुलम और ड्वेन स्मिथ पारी का आगाज करेंगे। मध्यक्रम में सुरेश रैना, हसी, धौनी, ड्वेन ब्रावो हैं जबकि निचले क्रम पर रविंद्र जडेजा और आर अश्विन जैसे हरफनमौला हैं। गेंदबाजी में चेन्नई के पास जडेजा और अश्विन जैसे स्पिनर हैं जबकि तेज आक्रमण का दारोमदार काइल एबोट, मैट हेनरी और मोहित शर्मा संभालेंगे। दूसरी ओर पिछली बार अंकतालिका में सबसे नीचे रही दिल्ली डेयरडेविल्स की लगभग पूरी टीम नई है। उसने भारतीय टीम से बाहर युवराज सिंह को रिकार्ड 16 करोड़ रुपये में खरीदा है।

    Read more »
  • IPL 8 से हो रही है जू जू की वापसी, छोटी सीरीज लेकिन ऐड होंगे दमदार

    आईपीएल के साथ ही फैन्स को खास कैरेक्टर जू जू का भी इंतजार रहता है, तो फिर इस बार भी जू जू को देखने के लिए तैयार हो जाइए। वोडाफोन कंपनी के ऐड से एलियन की तरह दिखने वाला जू जू कैरेक्टर खासा लोकप्रिय हो गया है। कंपनी इस बार भी आईपीएल के दौरान इसे लाने की तैयारी में है। नए ऐड तैयार कर लिए गए हैं जो आईपीएल 2015 के दौरान नजर आएंगे। छोटी कहानियों में होंगे ऐड कंपनी अब नेट की स्पीड को आधार बनाकर जू जू वाले ऐड की नई सीरीज लाएगी। वोडाफोन कंपनी के सीनियर अधिकारी रोनित मित्रा के अनुसार, ‘आईपीएल सबसे बड़ा खेल मंच है, जिसके जरिए काफी कम समय में देश में काफी बड़े दर्शक वर्ग तक अपनी बात पहुंचाई जा सकती है। इस बार ऐड की सीरीज छोटी होगी, जिसे कहानियों की तरह पेश किया जाएगा। इस बार कंपनी 3जी इंटरनेट डेटा की स्पीड के बारे में बताएगी।’ टीवी पर जैसे ही वोडाफोन का ऐड आता है, जू जू को देखकर अपने आप चेहरे पर मुस्कुराहट आ जाती है। उसकी हरकतें और किसी बात को समझाने का ढंग प्रभावित करता है। सबसे खास बात है कि जू जू कैरेक्टर बिना कुछ बोले पूरी कहानी बयां कर देता है और ऐड समझ में आ जाता है।

    Read more »
  • मुकर गए मुफ्ती, कश्मीरी पंडितों को नहीं देंगे अलग जमीन

    नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर विधानसभा में आज कश्मीरी पंडितों को जमीन देने के मुद्दे पर जबरदस्त हंगामा हुआ है। कल तक पंडितों को जमीन देने की बात कहने वाले मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद अब पलट गए हैं। उनका कहना है कि कश्मीरी पंडितों को उनके घरों में ही वापसी कारवाई जाएगी और उनके लिए कोई अलग से कालोनी नहीं बनाई जाएगी।गौरतलब है कि अलगाववादी यासीन मलिक ने पंडितों को जमीन देने का विरोध किया था। जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के चेयरमैन यासीन मलिक ने कहा है कि अगर कश्मीर में कश्मीरी पंडितों के लिए अलग से कॉलोनी बसाई गई तो कश्मीर विश्व का दूसरा इजरायल बन जाएगा।यासीन ने राज्य के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद पर राज्य में आरएसएस का एजेंडा लागू करने का भी आरोप लगाया। इस योजना को लेकर राज्य सरकार को जम्मू-कश्मीर में कई दलों और अलगाववादियों के जबरदस्त विरोध का सामना करना पड़ रहा है।इससे पहले मुख्यमंत्री मुफ़्ती मोहम्मद सईद और गृह मंत्री राजनाथ सिंह की मंगलवार को दिल्ली में हुई बैठक में इस पर चर्चा हुई थी। मुफ़्ती मोहम्मद सईद ने केंद्रीय गृह मंत्री को आश्वासन दिया था कि राज्य सरकार घाटी में कश्मीरी पंडितों की टाउनशिप के लिए जल्दी से जल्दी जमीन का अधिग्रहण कर उसे उपलब्ध कराएगी।

    Read more »
  • जीत के बाद बोले केकेआर के कप्तान गौतम गंभीर, हम जीत के हकदार थे

    कोलकाता : आईपीएल सीजन आठ के उदपघाटन मैच में कोलकाता नाइटराइडर्स ने मुंबई इंडियंस को सात विकेट से हराया. इस शानदार जीत के बाद केकेआर के कप्तान गौतम गंभीर ने जीत का श्रेय गेंदबाजों को दिया लेकिन साथ ही कहा कि उनके बल्लेबाजों ने जिस तरह से लक्ष्य हासिल किया उससे जाहिर हो जाता है कि वे जीत के हकदार थे.मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए तीन विकेट पर 168 रन बनाये जिसमें रोहित की नाबाद 98 रन की पारी शामिल है. गंभीर ने भी अर्धशतक बनाया जिससे उनकी टीम ने 18.3 ओवर में तीन विकेट पर 170 रन बनाकर जीत दर्ज की. गंभीर ने मैच के बाद कहा, लक्ष्य आसान नहीं था लेकिन जिस तरह से हमने इसे हासिल किया उससे पता चलता है कि हम जीत के हकदार थे. यह विकेट अच्छा था लेकिन हम कभी अनुमान नहीं लगा सकते कि कब इसका मिजाज बदल जाये.कोलकाता में हमने जो विकेट देखे हैं यह उनसे थोड़ा अलग था. उन्होंने कहा, हमारे गेंदबाजों ने बहुत अच्छी गेंदबाजी की. मोर्ने मोर्कल का प्रदर्शन बेजोड़ था. जिस तरह से सुनील (नारायण ) ने वापसी की उससे उनकी मानसिक मजबूती का पता चलता है. खुशी है कि हमने टूर्नामेंट की शुरुआत जीत के साथ की. मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि यदि उनकी टीम ने 15 से 20 रन और बनाये होते तो संभवत: परिणाम अलग होता. उन्होंने हालांकि कहा कि उनके गेंदबाज 168 रन के स्कोर का बचाव कर सकते थे.उन्होंने कहा, हमने 15 से 20 रन कम बनाये लेकिन गेंदबाजी में हमें थोड़ा बेहतर प्रदर्शन करना चाहिए था. गेंदबाजों के पास तब भी मौका था. हम रणनीति पर अच्छी तरह से अमल नहीं कर पाये. उम्मीद है कि खिलाड़ी इससे सबक लेकर आगे सकारात्मक अंदाज में खेलेंगे.

    Read more »
  • बांग्लादेश में पेड़ से टकराई बस, 24 की मौत

    ढाका। बांग्लादेश के फरीदपुर जिले में यात्रियों से भरी एक बस सड़क किनारे पेड़ों से जा टकराई, जिससे 24 लोगों की मौत हो गई। राजमार्ग सहायक पुलिस अधीक्षक बिलाल हुसैन ने एक वेबसाइट को बताया कि हादसा गुरुवार तड़के करीब 1.15 बजे बरीसाल-ढाका राजमार्ग पर उस वक्त हुआ, जब बस अनियंत्रित होकर पेड़ों से जा टकराई। मृतकों में 19 पुरुष और पांच महिलाएं शामिल हैं।फरीदपुर अग्निशमन सेवा के सहायक निदेशक शम्सुजोहा ने बताया कि दुर्घटना में घायल हुए 22 अन्य लोगों को बंगा उपजिला हेल्थ कांप्लेक्स और फरीदपुर मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

    Read more »
  • प्रधानमंत्री मोदी आज से फ्रांस, जर्मनी और कनाडा समेत तीन देशों के दौरे पर

    नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को तीन देशों के नौ दिवसीय दौरे की शुरुआत कर रहे हैं. इस यात्रा में वह फ्रांस, जर्मनी और कनाडा का दौरा करेंगे. प्रधानमंत्री ने अपने ट्विटर अकाउंट पर इस दौरे की जानकारी दी. उन्होंने ट्विटर पर लिखा, "मैं आज अपना फ्रांस, जर्मनी और कनाडा का दौरा शुरू कर रहा हूं."अपने इस दौरे से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स को इंटरव्यू दिया है. इस इंटरव्यू में पीएम ने कहा कि 10 माह पुरानी केंद्र सरकार ने राजनीति, प्रशासन और अर्थव्यवस्था के संदर्भ में भारत की वैश्विक विश्वसनीयता को बहाल किया है और अपनी गतिशीलता के माध्यम से पूर्व की संप्रग सरकार के दौरान पैदा हुई नीतिगत पंगुता को हटाने का काम किया है. पीएम मोदी ने कहा कि सरकार ने अपनी कई पहलों के जरिये पारदर्शिता, क्षमता और गति के माध्यम से हमारी क्षमता में भरोसा जगाने का काम किया है. हिन्दुस्तान टाइम्स को इंटरव्यू में मोदी ने कहा, ‘‘ अब विश्वास बहाल हो गया है प्रशासन, आर्थिक प्रगति और वैश्विक स्तर पर स्वाभिमान को गति मिली है. आप इसे देख सकते हैं.’’ उन्होंने कहा कि आईएमएफ, ओईसीडी और अन्य वैश्विक संस्थानों ने आने वाले महीनों एवं वषरे में बेहतर वृद्धि की भविष्यवाणी की है. इस तरह से भारत वैश्विक रडार पर फिर से आ गया है. प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार की उपलब्धियों को अतीत के संदर्भ में देखा जा रहा है. मोदी ने कहा, ‘‘ किस स्थिति में जनता हमें सत्ता में लाई? और अब क्या स्थिति है? अब क्या किसी तरह की नीतिगत पंगुता है? नहीं. क्या पारदर्शिता से जुड़ा कोई मुद्दा है? नहीं. क्या शासन में कोई ठहराव है? नहीं. इसके बजाय गतिशीलता आ गई है. ’’ न्यायपालिका से जुड़े मुद्दे पर मोदी ने कहा कि ऐसे उदाहरण है, जहां उसकी पहल से अच्छे परिणाम सामने आए हैं और ऐसे भी उदाहण है जहां पीड़ा सामने आई है. प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘ मैं न्यायपालिका का विश्लेषण नहीं करना चाहूंगा, विशेषज्ञों को इसे देखना चाहिए.’’ तीन दिन पहले मोदी ने कहा था कि न्यायपालिका को फाइव स्टार एक्टिविज्म के प्रति सजग रहना चाहिए. मोदी ने कहा, ‘‘ हमने कई पहल की है जिसने पारदर्शिता, क्षमता और गति के साथ परिणाम देने की हमारी क्षमता में भरोसा जताने का काम किया है. हम देश के गरीब लोगों के हितों और उनके सशक्तिकरण को देख रहे हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘नेक